आजादी के अमृत महोत्सव का अर्थ व सामान्य जानकारी

images | Shivira Hindi News

प्रिय विद्यार्थियों,

*शिक्षा एक अनवरत प्रक्रिया है एवं हमको प्रतिपल सीखना है।*

*आजादी का अमृत महोत्सव*

प्रिय विद्यार्थियों आज 09 अगस्त 2022 है तथा हम सभी *आजादी का अमृत महोत्सव*  के तहत विभिन्न गतिविधियों का आयोजन कर रहे है। आज हम *हर घर तिरंगा* पर सामान्य सी चर्चा आपसे करना चाहते है।

आइये, *आजादी के अमृत महोत्सव* के शाब्दिक, भावनात्मक व सामाजिक अर्थ की चर्चा करते है। सबसे पहले शाब्दिक बात करते है।

*आजादी* अर्थात स्वतंत्रता (Freedom). स्वतंत्रता का की वर्ड है तंत्र। तंत्र का शाब्दिक अर्थ है ” डोरी या सूत” लेकिन अंग्रेजी में तंत्र को Mechanism / Network कहते है। ” स्व” का अर्थ होंता है “अपना” ” निज का”। स्वतंत्रता का शाब्दिक अर्थ होता है कि “अपना मैकेनिज्म” , ” अपना सिस्टम” “अपनी व्यवस्था”।

आजादी का अर्थ एक ऐसी व्यवस्था है  जिसमें हम देश – समाज की ब्‍यवस्‍थाओं में बाधक न बनते हुए हमें अपने आचार- विचार के अनुसार जीवन जीने और फैसले लेने की बंधन – बाधायें न हों। अभिब्‍यक्ति की स्‍वतंत्रता हो , मानवीय गरिमा और सम्‍मान के साथ जीवन यापन के समान अवसर हों , ि‍किसी तरह जाति, लिंग या धर्म वगैरह को लेकर भेदभाव न हो।

*महोत्सव का अर्थ*

“उत्सव” से आशय होता है त्यौहार, मांगलिक कार्य, festival इत्यादि। “महोत्सव” से अर्थ होता है “बहुत बड़ा उत्सव” Mega festival.  जब किसी उत्सव का आयोजन विराट रूप से यानी बड़े स्तर पर किया जाए तो उसे ” महोत्सव ” कहकर संबोधित किया जाता है।

*आजादी के अमृत महोत्सव का अर्थ*

आजादी के अमृत महोत्सव का अर्थ इस आजादी के अंतर्गत अनेक स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारियों ने अपना बलिदान दे दिया, उनके बलिदान को अमृत के रूप में मानकर महोत्सव मनाएंगे। अमृत का अर्थ सेनानियों का बलिदान, क्रांतिकारियों का बलिदान, देश की आत्मनिर्भरता, देश की प्रगति, देश की उन्नति, इन सभी का अर्थ अमृत हैं।

नए विचारों का अमृत, नए संस्कारों का अमृत, हमारी संस्कृति का अमृत, हमारे धरोहर का अमृत, हमारे विश्वास का अमृत, हमारे राष्ट्रवादी सोच का अमृत, हमारे रक्षकों का अमृत, इस प्रकार से अब तक देश के लिए योगदान दे चुके सभी लोगों को अमृत के समान माना है।

*आजादी के अमृत महोत्सव के विशेष तथ्य*

* 12 मार्च 2021 को महात्मा गांधी की दांडी मार्च शुभारंभ के दिन आजादी का *अमृत महोत्सव* नाम का एक उत्सव शुरू किया है। यह उत्सव 15 अगस्त 2023 तक आजादी की 75 वीं वर्षगांठ तक मनाया जाएगा।

* वर्ष 2023 को 15 अगस्त के दिन हमें स्वतंत्रता मिले 75 वर्ष पूर्ण हो जाएंगे। भारत सरकार व राज्य सरकार आजादी के 75 वर्ष गांठ को धूमधाम से मना रही है। अगले स्वतंत्रता दिवस तक  *आजादी के अमृत महोत्सव* के अंतर्गत अनेक कार्यक्रम निरन्तर आयोजित किये जायेंगे।

* आजादी का अमृत महोत्सव मनाने का उद्देश्य लोगों को स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान और त्याग के बारे में जानकारी देना है।

हमें विश्वास है कि आपको आजादी के अमृत महोत्सव की बेसिक जानकारी मिल चुकी है। आपसे निवेदन है कि इस सन्देश को अपने अन्य साथियों तक अवश्य फारवर्ड करके सभी को जानकारी प्रदान करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top