हिंदी सकारात्मक समाचार पोर्टल 2023

स्वास्थ्य

सूखी आंखों के बारे में सब कुछ: अपनी आंखों को स्वस्थ और हाइड्रेटेड कैसे रखें

| Shivira

चाबी छीन लेना:

  • सूखी आंखें एक सामान्य आंख की स्थिति है जिसमें आंखें पर्याप्त आंसू नहीं बनाती हैं या आंसू की गुणवत्ता अपर्याप्त होती है।
  • शुष्क आँखों के मुख्य कारण आंसू उत्पादन में कमी, असामान्य संरचना या आँसू की निकासी और आंसू वाष्पीकरण में वृद्धि है।
  • अपनी आंखों को हाइड्रेटेड रखने के लिए, डिजिटल स्क्रीन देखते समय बार-बार ब्रेक लें और बार-बार झपकाएं क्योंकि यह आंख की सतह को चिकनाई देता है।
  • स्वस्थ शरीर और मन को बनाए रखने के लिए संतुलित और पौष्टिक आहार लेना आवश्यक है।
  • धूम्रपान एक खतरनाक आदत है जो आपकी आंखों के लिए गंभीर स्वास्थ्य परिणाम हो सकती है, जिसमें संक्रमण, श्वसन रोग, कैंसर, दिल का दौरा, स्ट्रोक और अधिक जोखिम शामिल है।
  • अपनी आंखों को तनाव से बचाने के लिए एक सक्रिय दृष्टिकोण अपनाने की आवश्यकता है जैसे कि 20-20-20 नियम को अपने दैनिक जीवन में शामिल करना: हर 20 मिनट में ब्रेक लेकर 20 फीट दूर किसी चीज को कम से कम 20 सेकंड के लिए देखना

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, हमारी दृष्टि अक्सर कम होती जाती है और हम बार-बार शुष्क आँखों का अनुभव कर सकते हैं। यह आमतौर पर आंसू फिल्म में असंतुलन के कारण होता है, जिसमें पानी, बलगम और तेल होता है। इसे रोकने में मदद करने के लिए, बहुत सारा पानी पीकर और ओमेगा -3 फैटी एसिड का सेवन करके हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण है। इसके अतिरिक्त, धूम्रपान रेटिना में रक्त के प्रवाह में हस्तक्षेप कर सकता है और पोषक तत्वों को ठीक से अवशोषित होने से रोक सकता है। कंप्यूटर या अन्य डिजिटल उपकरणों का उपयोग करते समय ब्रेक लेकर अपनी आँखों को तनाव से बचाना भी महत्वपूर्ण है।

सूखी आंखें क्या हैं और इसके क्या कारण हैं?

सूखी आंखें एक सामान्य आंख की स्थिति है जिसमें आंखें पर्याप्त आंसू नहीं बनाती हैं या आंसू की गुणवत्ता अपर्याप्त होती है। सूखी आंखों वाले लोग अक्सर अपनी आंखों में सूखापन, खरोंच या यहां तक ​​कि जलन की असहज अनुभूति का अनुभव करते हैं। शुष्क आँखों के मुख्य कारण आंसू उत्पादन में कमी, असामान्य संरचना या आँसू की निकासी और आंसू वाष्पीकरण में वृद्धि है।

अन्य योगदान करने वाले कारकों में आयु, दवाएं, कुछ चिकित्सा स्थितियां, कंप्यूटर स्क्रीन का लंबे समय तक उपयोग, कॉन्टैक्ट लेंस, दीर्घकालिक पराबैंगनी जोखिम, खराब पोषण और पर्यावरणीय कारक शामिल हैं। यदि आप अपनी आँखों में किसी भी प्रकार की असुविधा का अनुभव कर रहे हैं तो यह ड्राई आई सिंड्रोम के कारण हो सकता है और निदान के लिए नेत्र रोग विशेषज्ञ के साथ अपॉइंटमेंट बुक करना सबसे अच्छी बात है।

अपनी आँखों को हाइड्रेट कैसे रखें?

आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए अपनी आंखों को हाइड्रेटेड रखना एक महत्वपूर्ण निवारक उपाय है। ऐसा करने के लिए, डिजिटल स्क्रीन को देखते समय बार-बार ब्रेक लें और बार-बार पलकें झपकाएं क्योंकि यह आंख की सतह को लुब्रिकेट करता है। जब आप कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस का उपयोग नहीं कर रहे हों, तो कम रोशनी में पढ़ने और लंबे समय तक कृत्रिम रोशनी का उपयोग करने से बचने का प्रयास करें।

अपनी आँखों को स्वस्थ और हाइड्रेटेड रखने के टिप्स

अतिरिक्त हाइड्रेशन लाभों के लिए, ड्रॉप्स लगाएं जिनमें हयालूरोनिक एसिड और प्रोपलीन ग्लाइकोल जैसे विशिष्ट तत्व होते हैं जो आंख की सतह पर नमी को बनाए रखने में मदद करते हैं। इसके अतिरिक्त, दिन भर में ढेर सारा पानी पीने से भी आपकी आँखों को ठीक से हाइड्रेटेड और लुब्रिकेटेड रखने में मदद मिल सकती है। इन कदमों को उठाने से सूखापन और जलन कम करने में मदद मिलेगी और साथ ही कंप्यूटर स्क्रीन पर लंबे समय तक चकाचौंध से होने वाली समग्र थकान भी कम होगी।

एक स्वस्थ आहार का महत्व

स्वस्थ शरीर और मन को बनाए रखने के लिए संतुलित और पौष्टिक आहार लेना आवश्यक है। ताजे, पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे फल, सब्जियां, साबुत अनाज, लीन प्रोटीन और वसा और कार्बोहाइड्रेट के अन्य स्वस्थ स्रोत खाने से, हम यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि हमारे शरीर को मजबूत हड्डियों और मांसपेशियों के निर्माण और चयापचय प्रक्रियाओं को विनियमित करने के लिए आवश्यक पोषण मिल रहा है।

इन पोषक तत्वों का उचित सेवन करने से समग्र संज्ञानात्मक प्रदर्शन में सुधार करने और पुरानी बीमारियों के जोखिम को कम करने में भी मदद मिलेगी। संतुलित भोजन खाने से भी हमारे दिमाग के लिए उचित मात्रा में ईंधन प्रदान करके बेहतर मूड को बढ़ावा देने में मदद मिलती है। कुल मिलाकर, एक स्वस्थ आहार किसी भी जीवन शैली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है क्योंकि यह हमें पूरे दिन सक्रिय और उत्पादक बने रहने के लिए आवश्यक ऊर्जा प्रदान करता है।

आपकी आंखों पर धूम्रपान के खतरे

धूम्रपान एक खतरनाक आदत है जो आपकी आंखों के लिए गंभीर स्वास्थ्य परिणाम हो सकती है, और ये वायु जनित खतरे उन लोगों तक फैलते हैं जो धूम्रपान नहीं कर रहे हैं। इन नशीले पदार्थों को सूंघने से आंखों में संक्रमण, सांस की बीमारी, कैंसर, दिल का दौरा, स्ट्रोक और बहुत कुछ हो सकता है।

यहां तक ​​कि अगर आप व्यक्तिगत रूप से सिगरेट या तंबाकू के अन्य रूपों का धूम्रपान नहीं करते हैं, तो भी आपके संपर्क में आने से फेफड़ों के कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। धूम्रपान के खतरों से खुद को बचाने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि इसे पूरी तरह से टाल दिया जाए।

आंखों को तनाव से कैसे बचाएं

अपनी आँखों को तनाव और थकान से बचाने के लिए एक सक्रिय दृष्टिकोण अपनाने की आवश्यकता होती है। 20-20-20 नियम को अपने दैनिक जीवन में शामिल करें: हर 20 मिनट में ब्रेक लें, 20 फीट दूर किसी चीज को देखें, कम से कम 20 सेकंड के लिए। यह किसी एक वस्तु पर लंबे समय तक ध्यान केंद्रित करने के कारण होने वाली आंखों की थकान को कम करने में मदद करता है, जैसे कि कंप्यूटर स्क्रीन या किताब को घूरना।

सुनिश्चित करें कि आप पर्याप्त नींद लें और आराम करें ताकि आपकी आंखें अपने प्राकृतिक तेलों को फिर से पैदा कर सकें। इसके अतिरिक्त, विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए कंप्यूटर चश्मे का उपयोग करें जो स्क्रीन से निकलने वाली नीली रोशनी को रोकता है जिससे आँखों को नुकसान हो सकता है। अंत में, हाइड्रेटेड रहें और अपने आस-पास की सभी सतहों को साफ रखें क्योंकि धूल और मलबा आपकी आंखों में जलन पैदा कर सकता है। इनमें से प्रत्येक कदम उठाने से आपकी आंखें स्वस्थ और तनाव से मुक्त रहेंगी!

हालाँकि सूखी आँखें एक परेशानी हो सकती हैं, लेकिन उनसे निपटने के तरीके हैं। अपनी पलक झपकने की दर बढ़ाना, कृत्रिम आँसू का उपयोग करना, और यह सुनिश्चित करना कि आप एक स्वस्थ आहार लें, ये सभी अच्छे शुरुआती बिंदु हैं। आपको धूम्रपान से भी बचना चाहिए, क्योंकि इससे आपकी आँखों में शुष्कता होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। यदि आप स्क्रीन पर बहुत अधिक समय बिताते हैं, तो ब्रेक लेना सुनिश्चित करें और अपनी आँखों को थोड़ा आराम दें। इन टिप्स को अपनाकर आप अपनी आंखों को स्वस्थ और हाइड्रेटेड रखने में मदद कर सकते हैं।

Divyanshu
About author

दिव्यांशु एक प्रमुख हिंदी समाचार पत्र शिविरा के वरिष्ठ संपादक हैं, जो पूरे भारत से सकारात्मक समाचारों पर ध्यान केंद्रित करता है। पत्रकारिता में उनका अनुभव और उत्थान की कहानियों के लिए जुनून उन्हें पाठकों को प्रेरक कहानियां, रिपोर्ट और लेख लाने में मदद करता है। उनके काम को व्यापक रूप से प्रभावशाली और प्रेरणादायक माना जाता है, जिससे वह टीम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन जाते हैं।
    Related posts
    स्वास्थ्य

    जलवायु परिवर्तन के लिए प्लास्टिक प्रदूषण कैसे जिम्मेदार है?

    स्वास्थ्य

    गरीबी के आयाम क्या हैं?

    स्वास्थ्य

    व्यायाम के लाभों पर एक निबंध लिखिए

    स्वास्थ्य

    क्रोध पर नियंत्रण कैसे करें?