हिंदी सकारात्मक समाचार पोर्टल 2023

फ़ूड एंड ड्रिंक्स

हल्दी की सब्जी बनाने का आसान तरीका

Rajasthani haldi sabji & roti.

हल्दी की सब्ज़ी राजस्थान में सर्दियों की सबसे पसंदीदा सब्जी है। यह नवम्बर से लेकर मार्च के महीने तक होने वाली सभी शादियों के खाने में लगभग जरूर बनाई जाती है। इस सब्जी को बनाने, खाने व परोसने का इतना क्रेज होता है जितना अन्य किसी सब्जी का नही होता है। राजस्थान के प्रत्येक जिले में इसे बड़े चाव से खाया जाता है। यह स्वास्थ्य हेतु बहुत बढ़िया होती है। इसको अनेक प्रकार से बनाया जाता है। आइये, हम इस आलेख में हल्दी की सब्जी को बनाने के एक सरल तरीके को जानते है। उम्मीद है कि आप अपने हाथों से बनाकर अपने परिजनों व मित्रो को अवश्य खिलाएंगे।

हल्दी की सब्जी को बनाने हेतु आवश्यक सामग्री

  • कच्ची हल्दी – 1/2 Kg
  • देशी घी – 1/2 Kg
  • दही – 1 Kg
  • प्याज – 1/2 Kg
  • लहसुन – 100 Gm
  • अदरक – 2 इंच का टुकड़ा
  • हरी मिर्च – 4 pcs
  • काजू – 100 Gm
  • मटर – 200 Gm
  • धनिया पाउडर – 50 Gm
  • लाल मिर्च – 25 Gm
  • गर्म मसाला – 1 Tea Spoon full
  • हरा धनिया – 100 Gm
  • खड़ा मसाला – 2 लोंग, 1 बड़ी ईलायची, 1 हरि ईलायची, 5 काली मिर्ची, 1 तेज पता
  • नमक – स्वादनुसार

हल्दी की सब्जी बनाने की आसान विधि

  • आप सबसे पहले कच्ची हल्दी को साफ करके कद्दूकस कर लेवे। इसको 200 -250 ग्राम देशी घी में गर्म कर के कद्दूकस की हुई हल्दी को रंग बदलने तक भून लेवे। हल्दी को इसलिए घी में भूनते है ताकि उसका कड़वापन चला जाये व टेस्ट में थोड़ी फीकी लगे। हल्दी मूलतः कड़वी होने के कारण उसे खाना आसान नही है अतः हल्दी को अवश्य पहले भुने। कुछ लोग इसे कद्दूकस करने के स्थान पर चाकू से छोटे-छोटे टुकड़े करना अधिक पसंद करते है।
  • अब एक दूसरी कड़ाही में बाकी बचा हुआ 300 ग्राम देशी घी को गर्म कर के सभी खड़े मसले डाल देवे और थोड़ी देर भुनने के बाद बारीक कटे हुए आधा किलो प्याज डाल देवे व इनको अच्छे से उनके भूरे होने तक भून लेवे।
  • इसके बाद अदरक लहसुन का paste डाल देवे व इसको भी अच्छे से खुशबू आने तक भुने।
  • इसके बाद हरी मिर्ची बारीक काट के डाल देवे व भून लेवे।
  • सारे सामग्री को अच्छे से भुनने के बाद इसमें 1 किलोग्राम दही में लाल मिर्ची व धनिया पाउडर डालकर रखा हुआ दही का मसाला डाल कर लगातार चलाते हुए पकाये।
  • इसको जब तक चलाते रहे जब तक कि मसाले में उबाल नही आ जाये।
  • इसके बाद उबाल आने पर इसमें मटर मिला लेवे।
  • अब इस मसाले को 15 से 20 मिनट तक इसमे एक जाली सी पड़ने तक पकाये। इसके बाद इसमें सेकी हुई हल्दी डालकर मिला ले, और सब्जी अगर ज्यादा गाढ़ी लगे तो थोड़ा गर्म पानी या दूध डालकर इसको एडजस्ट कर लेवे व 5 मिनट तक और पकने दे।
  • अब सबसे अंत मे इसमें काजू, गर्म मसाला, हरा धनिया व स्वादनुसार नमक डालकर गर्मा गर्म सर्व करें।

हलदी की सब्जी को खाने के फायदे

  • हलदी में मौजूद एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण हमें बीमार होने से बचाते है।
  • हल्दी की सब्जी सब्‍जी सर्दियों में ठंड से बचाकर हमे मौसमी बीमारियों से बचाकर शरीर की इम्‍यून‍िटी बढ़ाती है।
  • कच्ची हल्दी में इंसुलिन के स्तर को संतुलित करने का गुण होता है। इंसुलिन के अलावा यह ग्लूकोज को नियंत्रित करती है जिससे मधुमेह के दौरान दी जाने वाली उपचार का असर बढ़ जाता है।
  • हल्दी में सोराइसिस जैसे त्वचा संबंधित रोगों से बचाव के गुण होते हैं।
  • मौसमी बीमारी जैसे जुकाम और खांसी से भी राहत देती है।

विशेष नोट

अगर कोई रोगी हल्दी की सब्जी का सेवन उपरोक्त फायदों हेतु करना चाहे तो पहले उसे अपने चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए। ये आलेख मात्र स्वाद से सम्बंधित है। हम किसी भी प्रकार के मेडिकल एक्सपर्ट होने का दावा नही करते है।

Divyanshu
About author

दिव्यांशु एक प्रमुख हिंदी समाचार पत्र शिविरा के वरिष्ठ संपादक हैं, जो पूरे भारत से सकारात्मक समाचारों पर ध्यान केंद्रित करता है। पत्रकारिता में उनका अनुभव और उत्थान की कहानियों के लिए जुनून उन्हें पाठकों को प्रेरक कहानियां, रिपोर्ट और लेख लाने में मदद करता है। उनके काम को व्यापक रूप से प्रभावशाली और प्रेरणादायक माना जाता है, जिससे वह टीम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन जाते हैं।
    Related posts
    फ़ूड एंड ड्रिंक्स

    चावल कैसे पकाएं? - शिविरा

    फ़ूड एंड ड्रिंक्स

    संतुलित आहार क्या है?

    फ़ूड एंड ड्रिंक्स

    FSSAI - भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण क्या है?

    फ़ूड एंड ड्रिंक्स

    भोजन पर एक निबंध लिखें