Categories: Health
| On 3 days ago

आंवला खाने के गुण फायदे उपयोग | Amla Health, Hair, skin Benefits, gun in hindi

Amla (आंवला)- आयुर्वेद के अनुसार Amla (आंवला) ऐसा फल है, जिसके बहुत से लाभ हैं। Amla (आंवला) न सिर्फ त्वचा, और बालों के लिए फायदेमंद होता है, बल्कि कई प्रकार के रोगों के लिए औषधि के रूप में भी काम में लिया जाता है। 

Amla (आंवला) का उपयोग कई प्रकार से किया जाता है, जैसे- Amla (आंवला) रस (amla juice), Amla (आंवला) पाउडर (amla powder), Amla (आंवला) का अचार आदि। Amla (आंवला) में प्रचुर मात्रा में Vitamin (विटामिन), Minrel (मिनरल), और Nutrients (न्यूट्रिएन्ट्स) मौजूद होते हैं, जो Amla (आंवला) को अनेक गुणों वाला बनाते हैं।

Amla (आंवला) क्या है -

आयुर्वेद में Amla (आंवला) को अमृतफल या धात्रीफल कहा जाता है। वैदिक काल से Amla (आंवला) का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता रहा है। पेड़-पौधों से जो औषधि बनती है उनको काष्ठौषधि कहा जाता है, और धातु-खनिज से जो औषधि बनती है उनको रसौषधि कहा जाता है। Amla (आंवला) का इन दोनों औषधि में इस्तेमाल किया जाता है। Amla (आंवला) को रसायन द्रव्यों में सब से अच्छा माना जाता है

Amla (आंवला) को चरक संहिता में आयु बढ़ाने, बुख़ार पर नियंत्रण करने, खाँसी को ठीक करने और कुष्ठ रोग को समाप्त करने वाला भी माना गया है उसी तरह सुश्रुत संहिता में Amla (आंवला) के औषधीय गुणों के बारे में बताया गया है की Amla (आंवला) को अधोभागहर संशमन औषधि माना गया है इसका मतलब है कि Amla (आंवला) वह औषधि है, जो शरीर के दोष को मल के द्वारा बाहर निकालने में मदद करता है। Amla (आंवला) पाचन संबंधित रोगों में और पीलिया रोग के लिए लाभकारी सिद्ध होता है।

Amla (आंवला) के अन्य भाषाओं में नाम -

Amla (आंवला) का वानस्पतिक नाम (Scientific name of Amla) Phyllanthus emblica L.  (पांईलैन्थस एम्बलिका) Syn-Emblicaofficinalis Gaertn है। Amla (आंवला) Euphorbiaceae (यूफॉर्बियेसी) कुल की

है। Amla (आंवला) का अंग्रेजी नाम Emblicmyrobalan tree (एम्बलिक मायरोबालान ट्री) है। दुनिया में Amla (आंवला) को अलग-अलग नामों से भी जाना जाता है, जो इस प्रकार हैंः-
  • Hindi (हिंदी)- आमला
    • आँवला
    • आंवरा
    • आंबला औरा
  • Urdu (उर्दू) - आँवला (Anwala)
  • Oriya (ओड़िया)- औंला (Onola)
  • Assamese (असम)- अमला (Amla)
    • आमलुकी (Amluki)
  • Kannada (कन्नड़ा)- नेल्लि (Nelli)
    • नेल्लिकाय (Nellikai)
  • Gujarati (गुजराती)- आमला (Amla)
    • आमली (Amli)
  • Tamil (तमिल)- नेल्लिमार (Nellimaram)
  • Telugu (तेलुगु)- उसरिकाय (Usirikai)
  • Bengali (बंगाली)- आमला (Amla)
    • आमलकी (Amlaki)
  • Nepali (नेपाली)- अमला (Amla)
  • Punjabi (पंजाबी)- आमला (Amla)
  • Marathi (मराठी)- आँवले (Anwale)
    • आवलकाठी (Aawalkathi)
  • Malayalam (मलयालम)- नेल्लिका (Nellikka)
    • नेल्लिमारम (Nellimaram)
  • English (इंग्लिश)- इण्डियन गूजबेरी (Indian gooseberry)
  • Arabic (अरेबिक)- आमलज्ज (Amlajj)
  • Persian (पर्शियन)- आमलह (Amlah)
    • आम्लाझ (Amlazh)

Amla (आंवला) के फायदे -

Amla (आंवला) के उपयोग से अनगिनत फायदे होते हैं। Amla (आंवला) खून को साफ करने में मदद करता है, दस्त, Diabetes (मधुमेह),जलन की परेशानी में लाभ पहुंचाता है। साथ ही Amla (आंवला) जॉन्डिस, हाइपर-एसिडिटी, एनीमिया, रक्तपित्त (नाक और कान से खून बहने की समस्या), वात-पित्त के साथ बवासीर और हेमोराइड में काफी फायदेमंद होता है। Amla (आंवला) मल त्याग करने की क्रिया को आसान बनाता है।

Amla (आंवला) सांसों की बीमारी, खांसी और कफ संबंधी रोगों में राहत दिलाता है। Amla (आंवला) आंखों की रोशनी को भी बेहतर बनाने का काम करता है। Amla (आंवला) में अम्लीय गुण होने के कारण यह गठिया में भी लाभ पहुंचाता है। Amla (आंवला) शरीर के पित्त, वात और कफ़ को संतुलित करता है Amla (आंवला) पीपल और हरड़ बहुत से बुख़ार में राहत दिलाने में मदद करता है Amla (आंवला) को दर्द निवारक भी मन गया है

  • बालों की समस्या में Amla (आंवला) का प्रयोग किया जाता है
  • मोतियाबिंद में Amla (आंवला) का प्रयोग किया जाता है
  • आंखों की बीमारी के लिए Amla (आंवला) का उपयोग
  • नाक से खून बहने की समस्या में Amla (आंवला) का प्रयोग
  • गले की खराश में Amla (आंवला) का उपयोग
  • अपच में लाभकारी होता है Amla (आंवला)
  • आईबीएस (संग्रहणी) रोग से राहत दिलाता है Amla (आंवला)
  • कब्ज में Amla (आंवला) का उपयोग
  • दस्त में Amla (आंवला)का प्रयोग
  • प्रवाहिका में Amla (आंवला) का इस्तेमाल
  • उल्टी से राहत दिलाता है Amla (आंवला)
  • एसिडिटी में  फायदेमंद होता है Amla (आंवला)
  • बवासीर में Amla (आंवला) का उपयोग
  • मधुमेह/प्रमेह (डायबिटीज) में Amla (आंवला) का उपयोग
  • खुजली से राहत दिलाने में लाभदायक होता है Amla (आंवला)
  • त्वचा रोग में फायदेमंद साबित होता है Amla (आंवला)
  • पीलिया में लाभकारी होता है Amla (आंवला)
  • कुष्ठ रोग में Amla (आंवला) के उपयोग
  • धातु रोग में Amla (आंवला) के प्रयोग
  • सुजाक में Amla (आंवला) का प्रयोग
  • गठिया के दर्द से राहत दिलाता है Amla (आंवला)
  • बुखार में Amla (आंवला) का इस्तेमाल
  • हिचकी से आराम दिलाता है Amla (आंवला)
  • गले में खराश के लिए Amla (आंवला) उपयोगी होता है
  • बढ़ती उम्र के प्रभाव को रोकने के लिए Amla (आंवला) का प्रयोग
  • हड्डियों को मज़बूत बनाने में Amla (आंवला) का इस्तेमाल
  • खून साफ करने में Amla (आंवला) का प्रयोग
  • कैंसर से बचने के लिए Amla (आंवला) का उपयोग
  • दिमाग को तेज़ करने में Amla (आंवला) इस्तेमाल
  • दांतों के लिए Amla (आंवला) लाभदायक होता है
  • हृदय को स्वस्थ रखने में Amla (आंवला) का उपयोग
  • नसों की कमज़ोरी दूर करने में Amla (आंवला) का इस्तेमाल

बालों की समस्या में Amla (आंवला) के फ़ायदे -

  • सफ़ेद बालों में Amla (आंवला) के मिश्रण का लेप लगाने से कुछ दिनों में ही बाल काले हो जाते हैं। जिसके लिए 30 ग्राम सूखे Amla (आंवला), 10 ग्राम बहेड़ा, 50 ग्राम आम की गुठली की गिरी और 10 ग्राम लौह भस्म। इन सभी वस्तुओं को रात भर लोहे की कढ़ाई में भिगाकर रखें। यदि कम उम्र में बाल सफेद हो रहे हों तो लेप को प्रतिदिन लगाएं। कुछ दिनों में बाल काले होने लग जाते हैं।
  • Amla (आंवला), रीठा और शिकाकाई को मिलाकर काढ़ा बना लें। उसे बालों में लगायें। सूख जाने के बाद साफ पानी से बालों को धो लें। इससे बाल मुलायम, घने और लंबे होते हैं।
  • Amla (आंवला) का फल, आम की गुठली के मज्जा को एक साथ पीस लें। इसे सिर पर लगाने से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं और बाल काले होने लगते हैं।
  • लौह भस्म और Amla (आंवला) चूर्ण को गुड़हल फूल के साथ पीस लें। उसे नहाने से पहले सिर में कुछ देर लगाकर रखें, और साफ पानी से धो लें। जिससे बाल सफेद नहीं होते हैं।

त्वचा के लिए Amla (आंवला) का प्रयोग -

  • Amla (आंवला) का रस Vitamin C (विटामिन सी) का समृद्ध स्रोत होता है।
  • Amla (आंवला) चेहरे की चमक और उसका आकर्षण बढ़ाने में मदद करता है।
  • आंवला के छोटे-छोटे टुकड़ों को पानी के साथ पीसकर उसका रस और स्वादानुसार शहद मिलाकर इसका उपयोग करने से चेहरे पर निखार आता है।
  • आंवला चेहरे की डेड स्किन को रिमूव करने में मदद करता है।
  • आंवला के रस को यदि हल्दी पाउडर और निम्बू के रस के साथ मिलाकर चेहरे पर लगाने से त्वचा के सभी दाग-धब्बे या फिर घाव के निशान को पूरी तरह से साफ कर देता है।
  • आंवला पाउडर और गुलाबजल को मिलाकर फेस पैक के प्रयोग से तैलीय त्वचा का उपचार कर सकते हैं।
  • चेहरा चमकदार और गंदगी से मुक्त करता है।

आंवला के उपयोग -

  1. मधुमेह के पीड़ि‍त व्यक्ति आंवला का रस प्रतिदिन शहद के साथ सेवन करे तो बीमारी से राहत मिलती है।
  2. गैस की समस्या होने पर आंवला का पाउडर, चीनी के साथ मिलाकर खाने या पानी में डालकर पीने से गैस/एसिडिटी से राहत मिलती है।
  3. आंवला का रस पीने से पेट की सारी समस्याओं से निजात मि‍लती है।
  4. पथरी की समस्या में 40 दिन तक आंवला को सुखाकर उसका पाउडर बना लें, और उस पाउडर को प्रतिदिन मूली के रस में मिलाकर खाएं। इससे कुछ दिनों में पथरी गल जाएगी।
  5. रक्त में हीमोग्लोबिन की कमी होने पर आंवला के रस का सेवन करना काफी लाभप्रद होता है। यह शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में सहायक होता है, और खून की कमी नहीं होने देता।
  6. यह आंखों की रौशनी को बढ़ाने में सहायक होता है। प्रतिदिन एक चम्मच आंवला के पाउडर को शहद के साथ लेने से लाभ मिलता है और मोतियाबिंद की समस्या भी खत्म हो जाती है।
  7. बुखार से छुटकारा पाने के लिए आंवला के रस में छौंक लगाकर इसका सेवन करना चाहिए
  8. दांतों में दर्द और कैविटी होने पर आंवला के रस में थोड़ा सा कपूर मिला कर मसूड़ों पर लगाने से आराम मिलता है।
  9. शरीर में गर्मी बढ़ जाने पर आंवला के रस का सेवन या आंवले को किसी भी रूप में खाने पर यह ठंडक प्रदान करता है।
  10. हिचकी तथा उल्टी होने की पर आंवला के रस को मिश्री के साथ दिन में दो-तीन बार सेवन करने से काफी राहत मिलती है।
  11. याददाश्त बढ़ाने में आंवला काफी फायदेमंद होता है। सुबह के समय आंवल के मुरब्बा गाय के दूध के साथ लेने से लाभ होता है
  12. चेहरे के दाग-धब्बे हटाकर उसे खूबसूरत बनाने के लिए भी आंवला उपयोगी होता है। इसका मिश्रण बनाकर चेहरे पर लगाने से त्वचा साफ, चमकदार होती है और झुर्रियां भी कम होती हैं।
  13. बालों को काला, घना और चमकदार बनाने के लिए आंवला का प्रयोग होता है, इसके पाउडर से बाल धोने या फिर इसका सेवन करने से बालों की समस्याओं से निजात मिलती है।