अटल पेंशन योजना 2021 (Atal Pension Yojana In Hindi)

(ATAL Pension Yojana) अटल पेंशन योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 1 जून 2015 को की गयी थी | अटल पेंशन योजना के अंदर लाभार्थियों की 60 वर्ष की उम्र होने के बाद 1000 रु से लेकर 5000 रु तक की धनराशि पेंशन के रूप में प्रतिमाह दी जाएगी | अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन की धनराशि लाभार्थियों के द्वारा किये गए निवेश तथा उम्र के हिसाब से तय करि जाती है | अटल पेंशन योजना 2021 में ना केवल आप कम राशि जमा करवाकर हर माह ज्यादा पेंशन के हकदार हो सकते हैं, बल्कि असामयिक मृत्यु की स्तिथि में अपने परिवार को भी इसका फायदा दिलवा सकते हैं |

अटल पेंशन योजना का नाम हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री Atal Bihari Vajpayye की याद में रखा गया है | पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने 22 अप्रैल 2021 को  यह बताया है कि  अटल पेंशन योजना के अंतर्गत वित् वर्ष 2020 -2021 में अब तक 3 करोड़ से अधिक सब्सक्राइबर को जोड़ा गया है और उन्होंने यह भी कहा है कि वित् वर्ष 2020 -21 में  इस योजना के तहत लगभग 79 लाख से अधिक नए अंशधारकों को जोड़ा गया है।

Atal Pension Yojana के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए ? (Eligibility Criteria)

अटल पेंशन योजना के योग्यता सम्बन्धी मानदंड निम्नलिखित हैं:

  • इसमें इन्वेस्ट करने के लिए भारत का नागरिक होना आवश्यक होगा |
  • आयु 18 से 40 साल के बीच होनी चाहिए।
  • आपके पास एक सेविंग अकाउंट होना चाइये |
  • मोबाइल नंबर होना चाहिए।
  • अकाउंट नंबर से जुड़ा मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है
  • अकाउंट होल्डर के पास पहले से कोई एपीवाई अकाउंट मौजूद नहीं रहना चाहिए।

Also Read -

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना 2021 (Indira Rasoi Yojana)

Atal Pension Yojana की आवश्यकता क्यों है ? (Why Need of Pension is Necessary)

किसी भी व्यक्ति को पेंशन की आवश्यकता तब होती जब व अपना दैनिक जीवन में किसी प्रकार का कोई काम नहीं कर रहा हो |

  • बुढ़ापे तक आते -आते व्यक्ति की पैसे कमाने की क्षमता काफी कम हो जाती है
  • कई लोग अपने बूढ़े माँ -बाप को छोड़ कर चले जाते है | पेंशन के लागु होने से वृद्ध व्यक्ति आत्मनिर्भर हो सकेगा
  • जैसे की हम सब जानते है की महंगाई बहुत बढ़ गयी है | दैनिक जीवन बिताने के लिए आपको सहायता राशि के रूप में पेंशन दी जाएगी
  • एक निश्चित राशि आने से जीवन आसानी से बीत सकेगा बिना किसी परेशानियों के
  • अपने बुढ़ापे में किसी पर आश्रित नहीं रहेंगे

सरकारी योगदान

भारत सरकार का सह योगदान वित्तीय वर्ष 2015-16 से 2019-20 के लिए यानी 5 साल के लिए उन ग्राहकों को उपलब्ध है जो 1 जून, 2015 से 31 मार्च, 2016 की इस समय के दौरान इस योजना में शामिल होते हैं और जो किसी भी वैधानिक और सामाजिक सुरक्षा योजना में शामिल नहीं हैं एवं आयकर दाताओं में शामिल नहीं हैं। सरकार का सह-योगदान पेंशन फंड नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) द्वारा पात्र स्थायी सेवानिवृत्ति खाता पेंशन संख्या को केंद्रीय रिकार्ड एजेंसी से ग्राहक द्वारा वर्ष के लिए सभी किस्तों का भुगतान की पुष्टि प्राप्त करने के बाद वित्तीय वर्ष के अंत में लिए ग्राहक के बचत बैंक खाता/डाकघर बचत बैंक खाते में कुल योगदान का 50% या 1000 रुपये का एक अधिकतम अंशदान जमा किया जाएगा। वैसे लाभार्थी जो वैधानिक सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के अंतर्गत आते हैं, एपीवाई के तहत सरकार के सह-योगदान प्राप्त करने के पात्र नहीं हैं। उदाहरण के लिए, निम्नलिखित अधिनियमों के तहत सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के सदस्य एपीवाई के तहत सरकार के सह-योगदान प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं हो सकते है:

  • कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1952
  • कोयला खान भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1948
  • असम चाय बागान भविष्य निधि और विविध प्रावधान, 1955
  • नाविक भविष्य निधि अधिनियम, 1966
  • जम्मू-कश्मीर कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1961
  • कोई भी अन्य वैधानिक सामाजिक सुरक्षा योजना

Atal Pension Yojana के अंतर्गत कर (INCOME TAX ) लाभ

अटल पेंशन योजना को असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को पेंशन प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया था। इस योजना के अंदर ₹1000 से लेकर ₹5000 की पेंशनहर महीने 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर आवेदक के निवेश के अनुसार प्रदान की जाती है। इस योजना के अंदर अब ग्राहकों को कर लाभ भी प्रदान किए जाएंगे। इन सबकी जानकारी पेंशन

फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा ट्वीट के माध्यम से प्रदान की गई है। इस ट्वीट में यह बताया गया है कि वह सभी आयकर दाता जो 18 से 40 वर्ष की आयु के भीतर आते हैं वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं और इसी के साथ आयकर अधिनियम के सेक्शन 80CCD (1b) के अंतर्गत इस योजना में किए गए योगदान पर भी लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Atal Pension Yojana 2021 की Highlights इस प्रकार है _

योजना का नामअटल पेंशन योजना
लॉन्च करने की तारिक वर्ष 2015 में
किसने शुरू की केंद्र सरकार द्वारा
किसको लाभ मिलेगा देश के असंगठित क्षेत्रो के लोग
लक्ष्य पेंशन प्रदान करना

कम आयु में जुड़ने पर क्या फायदा होगा _ ( What are Benefits of Joining at Early age)

मान लिजिए कि अगर 5 हजार पेंशन के लिए आप 35 की उम्र में जुड़ते हैं तो 25 साल तक हर 6 महीने में 5,323 रुपए जमा करना होगा। ऐसे में आपका कुल निवेश 2.66 लाख रुपये होगा, जिसपर आपको 5 हजार रुपये मंथली पेंशन मिलेगी। जबकि 18 की उम्र में जुड़ने पर आपका कुल निवेश सिर्फ 1.04 लाख रुपये ही होगा। यानी एक ही पेंशन के लिए करीब 1.60 लाख रुपये ज्यादा निवेश करना होगा।

Atal Pension Yojana की विशेषताएं और लाभ क्या है (Features and Benefits of Atal Pension Yojana)

एपीवाई योजना की मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:

  • भारत केंद्र की सरकार, व्यक्ति को उसके रिटायरमेंट के बाद दिए जाने वाले मिनिमम पेंशन की गारंटी प्रदान करती है
  • कोई भी व्यक्ति जिसकी आयु 18 से 40 के मध्य है वे इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है |
  • इस योजना में किए गए इन्वेस्टमेंट पर, सेक्शन 80CCD के तहत टैक्स में लाभ मिलेगा ।
  • सभी बैंक अकाउंट वाले व्यक्ति इस योजना का लाभ ले सकते है
  • इसमें इन्वेस्ट करने वाले लोगों को 60 साल का होने के बाद ही पेंशन मिलना प्रारम्भ होता है
  • प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले जिन कर्मचारियों को कोई पेंशन लाभ नहीं मिलता है| वे भी इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है |
  • 60 साल का होने के बाद 1,000 रुपये, 2,000 रुपये, 3,000 रुपये, 4,000 रुपये, या 5,000 रुपये का एक फिक्स्ड पेंशन लेने के लिए आपको ऑप्शन दिया जाता है | जो की आपके इन्वेस्ट कितना किया उस पर डिपेंड करेगा|
  • इस योजना के दौरान अकाउंट होल्डर की मौत होने के बाद, उसका पति/पत्नी या तो जमा पैसे को निकाल सकता/सकती है

Atal Pension Yojana में खाता कैसे खुलवाए ?

  • बैंक शाखा/पोस्ट ऑफिस जहां व्यक्ति का बचत बैंक है वहा पर संपर्क करें |
  • बैंक/डाकघर बचत बैंक खाता संख्या उपलब्ध करायें और बैंक कर्मचारियों की मदद से एपीवाई पंजीकरण फार्म भरें
  • आधार/मोबाइल नंबर उपलब्ध कराएं ।
  • मासिक/तिमाही/छमाही योगदान के हस्तांतरण के लिए बचत बैंक खाता/डाकघर बचत बैंक खाते में आवश्यक राशि रखना सुनिश्चित करें

Atal Pension Yojana 60 वर्ष से पहले एग्जिट ? ( Withdrawal Procedure)

  • 60 वर्ष की आयु होने  :- 60 वर्ष की समाप्ति पर ग्राहक संबंधित बैंक को गारंटी न्यूनतम मासिक पेंशन या अधिक मासिक पेंशन निकासी के लिए, अगर निवेश रिटर्न एपीवाई में एम्बेडेड गारंटीड रिटर्न की तुलना में अधिक हैं। मासिक पेंशन की समान राशि ग्राहक की मृत्यु पर पति या पत्नी (डिफ़ॉल्ट नामित) को देय है। नामांकित ग्राहक और पति या पत्नी दोनों की मौत पर 60 साल की उम्र तक संचित पेंशन धन की वापसी के लिए पात्र होंगे।
  • 60 वर्ष की उम्र के बाद किसी कारण ग्राहक की मृत्यु के मामले में क्या होगा  :- ग्राहक की मृत्यु के मामले में, वही पेंशन पति या पत्नी को देय है और दोनों की मृत्यु पर (ग्राहक और पति या पत्नी) 60 साल की उम्र तक संचित पेंशन धन नामांकित को वापस करदी जाएगी ।
  • 60 साल की आयु से पहले अगर कोई बाहर निकलता है  :- यदि एक ग्राहक, जिसने एपीवाई के तहत सरकार के सह-योगदान का लाभ उठाया है, भविष्य में स्वेच्छा से एपीवाई बाहर निकलने के लिए चुनता है तो उसे केवल एपीवाई में उनके द्वारा किया गया योगदान उनके योगदान पर अर्जित शुद्ध वास्तविक अर्जित आय के साथ-साथ खाते के रखरखाव शुल्क घटाने के बाद वापस किया जाएगा। सरकार के सह-योगदान है, और सरकार के सह-योगदान पर अर्जित आय, इस तरह के ग्राहकों के लिए वापस नहीं किया जाएगा।
  • 60 साल की उम्र से पहले ग्राहक की मृत्यु  हो जाने पर क्या होगा :-
    • 60 वर्ष से पहले ग्राहक की मृत्यु के मामले में, एपीवाई खाते में शेष अवधि के लिए जब तक मूल ग्राहक 60 वर्ष की आयु प्राप्त कर लेता, निहित योगदान अपने
      नाम में जारी रखने का विकल्प पति या पत्नी के पास उपलब्ध होगा। ग्राहक का पति या पत्नी मृत्यु पर वही पेंशन राशि प्राप्त करने का हकदार होगा जो ग्राहक को देय था। एपीवाई के तहत पूरे संचित कोष पति या पत्नी/नामिती को लौटा दी जाएगी।

Atal Pension Yojana में ऑनलाइन कैसे अप्लाई करे ?

  • अटल पेंशन योजना फॉर्म ऑनलाइन भरने के लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा |
  • अब आपको एप्लीकेशन फॉर्म का लिंक दिखाई देगा लिंक पर क्लिक करे |
  • फॉर्म को ध्यानपूर्वक पढ़कर उसमे सारि जानकारी दे |
  • इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक करदे

Atal Pension Yojana की शुरुआत कब हुयी थी ?

Atal Pension Yojana की शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 1 जून 2015 को की गयी थी |

Atal Pension Yojana में 60 वर्ष के बाद कितनी पेंशन मिलेगी ?

 Atal Pension Yojana के तहत सरकार 60 साल के बाद 1000 से 5000 रुपये महीना पेंशन की गारंटी प्रदान करती है |

Atal Pension Yojana में कौन आवेदन कर सकता है ?

Atal Pension Yojana में 18 से 40 वर्ष के मध्य आने वाला कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है |

Atal Pension Yojana के हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

Atal Pension Yojana के toll free no -1800-180-1111