| On 1 month ago

Balika Vivah Uphar Yojana | बालिका विवाह उपहार योजना

बालिका विवाह उपहार योजना अर्थात ( Balika Vivah Uphar Yojana ) राजस्थान स्कूल शिक्षा विभाग के कर्मचारियों हेतु संचालित होने वाली एक योजना है जिसके तहत आवेदन करने वाले कार्मिकों को उनकी पुत्री के विवाह के उपलक्ष्य में 11,000 ₹ की नकद सहायता प्रदान की जाती हैं।

बालिका विवाह उपहार योजना की पूर्ण जानकारी | Complete information about Balika Vivah Uphar Yojana

शिक्षा विभाग में सेवारत सभी श्रेणी कर्मचारियो के पुत्री विवाह के उपलक्ष्य में बालिका उपहार योजना (11000 रूपये) के अन्तर्गत आवेदन पत्र आमंत्रित किये गए हैं। इस योजना में आवेदन करने हेतु शिक्षा विभाग के कार्मिक को अपना आवेदन पत्र कार्यालयाध्यक्ष से प्रमाणित करवाने के पश्चात जिले के जिला शिक्षा अधिकारी (मुख्यालय) अथवा मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी के माध्यम से अध्यक्ष, हितकारी निधि, माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को प्रेषित करना है।

हितकारी निधि माध्यमिक शिक्षा/प्रारंभिक शिक्षा, राजस्थान, बीकानेर के अर्न्तगत शिक्षा विभाग के राजकीय सेवा में कार्यरत समस्त श्रेणी के अधिकारियों/कर्मचारियों के पुत्री विवाह के उपलक्ष्य में उपहार स्वरूप 11,000/- रूपये प्रत्येक प्रकरण

में आवेदन करने पर प्रदान किये जाने है। आवेदन पत्र भरते समय कार्मिक एवं अग्रेषण अधिकारी निम्न बिन्दुओं को ध्यान में रख कर ही अग्रेषित किये जायें:-
  • योजना का लाभ 2018-19 से हितकारी निधि के नियमित अंशदाता को ही देय होगा।
  • योजना का लाभ सेवाकाल में एक बार ही देय होगा।
  • निर्धारित प्रपत्र संलग्नानुसार सभी कॉलम की पूर्ति कर भिजवाया जाना है।
  • योजना का लाभ प्रत्येक वित्तीय वर्ष में 500 प्रकरणों में दिया जावेगा।
  • बालिका के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राजस्थान अजमेर द्वारा आयोजित कक्षा Xth के प्रमाण-पत्र की प्रति जिसमें आयु का उल्लेख हो. या अन्य आयु सम्बन्धी प्रमाण-पत्र की प्रति।
  • 18 वर्ष से कम आयु होने पर योजना का लाभ देय नहीं होगा।
  • विवाह की निर्धारित तिथि के दो माह के अर्न्तगत में आवेदन करना होगा।
  • आवेदन पत्र में उल्लेख अनुसार आवेदन पत्र अग्रेषित कराना होगा।
  • योजना राशि का वितरण कर्मचारी के खातों में ई.सी.एस. के जरिये की जावेगी।

उपरोक्त आवेदन करते समय हितकारी निधि अशदान 2019-20 से ई०सी०एस० एवं शिड्यूल की प्रति आवश्यक रूप से संलग्न की जानी हैं।

बालिका विवाह उपहार योजना में आवेदन कैसे करना हैं? | How to apply for Girl Child Marriage Gift Scheme?

बालिका विवाह उपहार योजना में आवेदन करने हेतु कार्मिक को निर्धारित प्रारूप में आवेदन करना होता है। आवेदन का प्रारूप आपकी सुविधा हेतु उपलब्ध करवाया जा रहा है। आवेदन में निम्नलिखित सूचना उपलब्ध करवानी होती है-

1. कर्मचारी का नाम
2. कर्मचारी का पद एवं पदस्थापन स्थान
3. कर्मचारी का स्थाई पता।
4. टेलिफोन नम्बर/मोबाईल नम्बर
5. हितकारी निधि अशदान 2019-20 (नवीनतम) से ई०सी०एस० एवं शिड्यूल की प्रति संलग्न करें।
6. कर्मचारी की Employe ID संख्या
7. पुत्री का नाम
8. पुत्री की जन्म तिथि सैकण्डरी स्कूल की
अंकतालिका/अन्य कोई आयु सम्बन्धि प्रमाण-पत्र
9. विवाह कि निर्धारित तिथि
10 विवाह हेतु मुद्रित आमंत्रण पत्र की प्रति
11. कार्मिक का बैंक खाता विवरण व पास बुक के प्रथम पृष्ठ की प्रति (प्रमाणित) या निरस्त चैक

प्रमाण पत्र

मैं प्रमाणित करता हूँ/करती हूँ कि मेरी सर्वोतम जानकारी एवं विश्वास के अनुसार उपर दिया गया

विवरण बिल्कुल सही है। इन बिन्दुओं मे कोई असत्यता पाई जाती है तो हितकारी-निधि, शिक्षा-विभाग, बीकानेर मेरे विरूद्ध जो भी उचित समझे कार्यवाही कर सकेगा यह मुझे स्वीकार्य होगी।

प्रार्थना पत्र जिला शिक्षा अधिकारी (मुख्यालय/सी0बी0ई0ओ0) से अग्रेषित करवाया जाना होता हैं । प्रार्थना-पत्र अध्यक्ष, हितकारी निधि, माध्यमिक शिक्षा, राजस्थान, बीकानेर को बालिका विवाह उपहार योजना हेतु प्रार्थना-पत्र अनुशंषा सहित अग्रेषित किया जाता है।

बालिका विवाह उपहार योजना आवेदन में रखने वाली सावधानी | Precautions to be taken in the application of Girl Child Marriage Gift Scheme

आवेदन पत्र भरते समय कार्मिक एवं अग्रेषण अधिकारी निम्न बिन्दुओं को ध्यान में रख कर ही अग्रेषित करे :

  1. योजना का लाभ 2018-2019 से हितकारी निधि के नियमित अशदाता को ही देय होगा, अतः प्रार्थना पत्र के साथ 2018-19, 2019-20 2020-21 एवं आवेदन के सत्र तक ई.सी.एस. / शिड्यूल संलग्न किये जावें।
  2. जिन कार्मिकों का वेतन सी.बी.ई.ओ. द्वारा पी.डी. मद से आहरण किया जाता है, उन प्रकरणों में सी.बी.ई.ओ. कार्यालय का ही ई.सी.एस. / शिड्यूल प्रति संलग्न करें।
  1. योजना का लाभ कार्मिक को सेवाकाल में एक बार ही देय है।
  2. बालिका के माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान अजमेर द्वारा आयोजित X के प्रमाण पत्र की प्रति या आयु सम्बन्धी प्रमाण की प्रति ।
  1. बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ठ की स्पष्ट / सूपाठय प्रति अथवा निरस्त बैंक संलग्न करें। 6. प्रार्थना पत्र के साथ विवाह हेतु मुद्रित मूल कार्ड संलग्न करें।
  2. आहरण वितरण अधिकारी द्वारा पूर्ण जांच करके प्रार्थना पत्र को अग्रेषित करना चाहिए।
  1. विवाह की तिथि से पूर्व कोई आवेदन प्रेषित नहीं किया जायें, नियमानुसार विवाह होने की तिथि से दो माह के भीतर-भीतर ही आवेदन किया जायें।
  2. उपहार योजना की राशि कार्मिक के बैंक खाते में सीधे ही ई.सी.एस. के जरियें की जावेगी।