Categories: Full Form
| On 2 weeks ago

BSC Full Form in Hindi | बीएससी का फुल फॉर्म क्या है?

BSC Full Form in Hindi | बीएससी का फुल फॉर्म क्या है?

BSc का फुल फॉर्म (BSC Full Form in Hindi) "Bachelor of Science" होता है | यह Science और Technology के क्षेत्र में तीन वर्षीय पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए प्रदान की जाने वाली एक undergraduate academic degree है | यह 12 वीं कक्षा की परीक्षा पास करने के बाद Science के छात्रों के बीच एक लोकप्रिय शैक्षणिक डिग्री पाठ्यक्रम है. इस पाठ्यक्रम की अवधि एक देश से दूसरे देश में भिन्न हो सकती है. यह भारत में तीन साल का कोर्स और अर्जेंटीना में पांच साल का कोर्स है.

कई छात्र एक Average College में इंजीनियरिंग या एमबीबीएस की पढ़ाई करने के बजाय एक अच्छे विश्वविद्यालय से बीएससी कोर्स का विकल्प चुनते हैं. बीएससी की डिग्री के बाद छात्र कैरियर की संभावनाओं से अनजान होते हैं और उनमें से कई को लगता है कि कोर्स में कुछ भी नहीं है.

BSC Full Form in Hindi | Information Related to BSC | बीएससी के फुल फॉर्म के अलावा बीएससी से जुडी विशेष जानकारियां

आपने जाना BSC की फुल फॉर्म के बारे में (BSC Full Form in Hindi)। अब जानते है इससे जुडी जुडी विशेष जानकारियां। बीएससी एक बैचलर ऑफ़ साइंस की डिग्री है. इस डिग्री को कई विषयों में प्रदान किया जाता है. भारत में यह मैथमेटिक्स, बायोलॉजी, कंप्यूटर साइंस, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री, नर्सिंग, सोशल साइंसेज, एग्रीकल्चर, बायोकेमिस्ट्री, बायोटेक्नोलॉजी इत्यादि कई विषयों में प्रदान की जाती है. विश्व में लंदन विश्वविद्यालय के द्वारा सबसे अधिक बीएससी डिग्री को प्रदान किया जाता है. विश्व के कई देशों के छात्रों द्वारा लंदन विश्वविद्यालय में इस डिग्री के लिए सबसे अधिक आवेदन किया जाता है.

बीएससी कोर्स को दो प्रकार से विभाजित किया जाता है. प्रथम बीएससी (Hons) और द्वितीय बीएससी (General) यह दोनों डिग्री स्नातक स्तर पर सामान है, परन्तु यह एक दूसरे से थोड़ा अलग- अलग रहती है. बीएससी को रेस्पेक्टेड थ्योरेटिकल और प्रैक्टिकल स्किल्स प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, इसमें सामान्यतः किसी विषय पर अधिक जोर दिया जाता है. उस विषय पर छात्र को अधिक से अधिक ज्ञान कराया जाता है.

BSC Full Form in Hindi | Job Opportunities After BSc | बीएससी के बाद क्या-क्या जॉब कर सकतें हैं ?

12th के बाद जब कॉलेज में कोर्स चुनें की बात आती है तो आमतौर पर हमारे सामने B.Tech, BA, BCA, B.Com C.A, BBA और BSC जैसे ऑप्शन नज़र आतें हैं औऱ जो विद्यार्थी विज्ञान में रुचि रखते हैं वह BSC का विकल्प चुनते हैं परंतु BSC Full Form क्या हैं औऱ BSC Course करने के क्या फ़ायदे है यह सवाल उत्पन्न होता है।

BSC एक ग्रेजुएशन कोर्स हैं यह कोर्स दो प्रकार का होता है एक जरनल कोर्स होता है जोकि 3 साल का होता है और दूसरा प्रोफ़ेशनल कोर्स होता है जोकि 4 से 5 साल का होता है इस कोर्स को आप दो तरीको से कर सकते हैं या आप तो जनरल कोर्स से बीएससी कर सकते है या फिर ऑनर्स कोर्स से बीएससी कर सकते है।

बीएससी बहुत पुराना कोर्स हैं और इस कोर्स को करने के बाद आपको बहुत सारे फील्ड में जॉब करने का मौका मिलता हैं इसलिए आज भी ज़्यादतर विद्यार्थी इस कोर्स को करने का चुनाव करते हैं तो चलिए जानते है.

1- बीएससी करने के बाद आप वैज्ञानिक बन सकते हैं और गैर-विज्ञान के क्षेत्र में भी नौकरी हासिल कर सकते है.

2- बीएससी करने के बाद आपके लिए कई क्षेत्र में नौकरी के अवसर उत्पन्न होते है जैसे मैनेजमेंट, इंजीनियरिंग, कानून आदि

3- बीएससी करने के बाद स्कूल और कॉलेजों में अध्यापक के रूप में काम कर सकतें है.

4- बीएससी करने के बाद आप अपनी क़िस्मत मेडिकल क्षेत्र में आजम सकते है जैसे रिसर्च सेंटर, इसरो (ISRO) इत्यादि.

5- बीएससी के बाद डिफेंस के क्षेत्रों में जा सकते है जैसे कि नेवी (Navy), एयरफोर्स(air force) इत्यादि.

6- बीएससी करने के बाद आपके पास बहुत सारे ऑप्शन खुल जाते हैं इसलिए भी लोग बीएससी करते हैं जैसे वैज्ञानिक, वैज्ञानिक सहायक, शिक्षक, तकनीकी लेखक, लेक्चरर्स, कैमिस्ट, रिसर्चर्स, क्लीनिकल रिसर्च मैनेजर, सलाहकार, एन्यूमेरेटर्स, रिसर्च एनालिस्ट्स, यूपीएससी (UPSC), एसएससी (SSC), लोको पायलट इत्यादि.

7- बीएससी करने के बाद आपके पास बहुत सारे ऑप्शन खुल जाते हैं इसलिए भी लोग बीएससी करते हैं जैसे वैज्ञानिक, वैज्ञानिक सहायक, शिक्षक, तकनीकी लेखक, लेक्चरर्स, कैमिस्ट, रिसर्चर्स, क्लीनिकल रिसर्च मैनेजर, सलाहकार, एन्यूमेरेटर्स, रिसर्च एनालिस्ट्स, यूपीएससी  (UPSC), एसएससी (SSC), लोको पायलट इत्यादि।

BSC Course में एडमिशन प्रक्रिया क्या हैं

इस कोर्स में आपकों 2 तरीको से एडमिशन मिल सकता हैं पहला तरीका जिसमें टॉप कॉलेज में एंट्रेंस परीक्षा आयोजित की जाती हैं औऱ फिर उसके आधार पर लिस्ट लगाई जाती हैं

दूसरा तरीका जिसमें कुछ कॉलेजों में एडमिशन सीधे मैरिट के आधार पर लिया जाता है इसलिए यहाँ आपको यह जानना आवश्यक है कि अगर आप BSC Course में एडमिशन चाहते हैं तो आपको बारहवीं कक्षा को साइंस स्ट्रीम से पास करना है और आपके मार्क्स कम से कम 50% – 60% होने चाहिए।

अब सवाल यह आता है कि बीएससी करने के लिए हमारे भारत में मौजूद टॉप कॉलेजे कौन से है क्योंकि बहुत सारे विद्यार्थियों का सपना होता है कि वह टॉप कॉलेज से पढ़ाई करें इसलिए रैंक के आधार पर कुछ Top BSC College List इस प्रकार है।

BSC पाठ्यक्रम को दूरी से कैसे करें

अगर आप जॉब या फिर कोचिंग करते है और साथ ही BSC करना चाहते हैं तो आप डिस्टेंस एजुकेशन से भी इस कोर्स को  कर सकते हैं। यह ऑप्शन उन लोगो के लिए भी है जिनके पास इस कोर्स की फीस अदा करने का साधन नहीं हैं।

दरअसल डिस्टेंस में हमें कोई क्लास अटेंड नहीं करनी पड़ती हैं सिर्फ एग्जाम देकर और असाइनमेंट सबमिट करके ही हमें डिग्री मिल जाती हैं और साथ ही इसकी फीस भी रेगुलर की तुलना में बहुत कम होती हैं अगर आप डिस्टेंस से बीएससी करना चाहे तो हम आपको इग्नू (Ignou) जैसे इंस्टिट्यूड का इस्तेमाल कर सकते है।

BSC Full Form in Hindi | BSC के प्रमुख कोर्स की जानकारी

बीएससी में भी आपकों अगल-अलग तरह के कोर्स मिलते हैं जिसमे से आपको अपनी पसंद और रुचि के अनुसार BSC Course का चयन करना होता हैं बीएससी के कुछ पॉपुलर कोर्स निम्नलिखित है।

BSC Computer Science

कंप्यूटर में इंट्रेस्टेड रखने वाले स्टूडेंट्स के लिए यह कोर्स हैं और इस कोर्स को करने के बाद एक तरह से आप कंप्यूटर के महारथी बन जाते हैं कंप्यूटर में ग्रेजुएशन करने के बाद अगर आप किसी प्राइवेट कंपनी में भी जॉब की कर सकते हैं और सरकारी क्षेत्रों में भी आजकल कंप्यूटर के स्टूडेंट्स की काफी डिमांड हैं।

BSC Chemistry

अगर आप इस कोर्स को कर लेते हैं तो आपको रसायन विज्ञान की कम्पलीट नॉलेज मिल जाती है इसके बाद अगर चाहे तो आप MSC भी कर सकते हैं या फिर जॉब का ट्राई भी कर सकते हैं।

BSC Mathematics

इस कोर्स को करने के दो फायदे हैं एक तो आपको गणित में स्पेशलाइजेशन मिल जाता है दूसरा गणित के साथ-साथ कंप्यूटर का ज्ञान भी दिया जाता है अगर इंटर में आपके मार्क्स गणित में बहुत अच्छे हैं तो आप मैथ से बीएससी कर सकते हैं।

BSC Physics

इस कोर्स में भौतिक विज्ञान, अंतरिक्ष विज्ञान और प्राकृतिक विज्ञान से जुड़ी सारी नॉलेज हमे मिलती हैं उसे ही बीएससी फिजिक्स कहा जाता है इस कोर्स में इन तीनो विषयो के ऊपर गहराइ से अध्ययन किया जाता है।

BSC Electronics

इसमे विद्युत से जुड़ी हर प्रकार की जानकारी जैसे ट्रांसिस्टर, डायोड और ऊर्जा के सभी सोर्सेज की पढ़ाई करवाई हैं और इस कोर्स को करने के बाद गवर्मेंट औऱ प्राइवेट दोनों सेक्टरों में जॉब प्राप्त कर सकते है।

BSC Economics

इस कोर्स में आपको इकॉनमी के बारे में डीपली नॉलेज प्रोवाइड किया जाता है और ग्रेजुएशन के बाद अगर आप इकॉनमी में मास्टर्स कर लेते है तो आपके लिए बहुत से वर्क फील्ड खुल जाते हैं जैसे- मैक्रोएकॉनॉमिक एनालिस्ट, रिसर्चर, कंटेंट डेवलपर, इकॉनोमिक एडवाइजर, ट्यूटर इत्यादि।

BSC Geography

अगर आपको भूगोल में रुचि हैं तो आप इस कोर्स को भी कर सकते हैं क्योंकि इस कोर्स को करके आप जियोलाजिकल असिस्टेंट, कंट्री या रूरल प्लानर, एनवायर्नमेंटल कन्सल्टेंट, लैंडस्केप आर्किटेक्ट इत्यादि काम कर सकते हैं इसके अलावा आप सरकारी क्षेत्रों में भी अपनी किस्मत आजमा सकते हैं।

BSC Agriculture

इस कोर्स में भोज्य पदार्थों का उत्पादन, पेड़ पौधों के साथ जानवरों के पालन-पोषण की बेहतरीन टेक्नीक के बारे में सिखाया जाता है इस कोर्स को करके आप एग्रीकल्चर फील्ड में अच्छी कैरियर बना सकते हैं साथ ही अगर आपका घर गांव में हैं या आपके पास खेती लायक जमीन हैं आप इस कोर्स को करने के बाद अपने आइडियाज अपने खेती में यूज करके बेहतर उत्पादन कर सकते हैं।

BSC Statistics

इस कोर्स में आपको सांख्यिकी से जुड़ी हर तरह की बात जैसे गणितीय तरीके से डेटा को प्रेजेंट करना, एनालिसिस, इंटरप्रेटेशन इत्यादि अध्ययन किया जाता है अगर आप इस कोर्स को कर लेते हैं तो आपके लिए काफी कैरियर ऑप्शन खुल जाते हैं आप योजना आयोग, इंस्टियूड ऑफ एप्लाइड मैनपावर रिसर्च, इंडियन कॉउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के साथ आर्थिक और सामाजिक गणना से जुड़े प्लेटफॉर्म्स में काम करने का मौका मिल सकता हैं।

BSC IT

यह एक टेक्नोलॉजी से जुड़ा हुआ कोर्स हैं यदि आपके मार्क 12वी में अच्छे हैं और आपको टेक्नोलॉजी में रुचि हैं तो आपके पास यह कोर्स बेस्ट हैं जिसकी वैल्यू आईटी इंजिनीरिंग के समान हैं।

BSC Full Form in Hindi | BSC Course करने की फीस

BSC Course करने में 1 लाख से लेकर 1 लाख पचास हजार तक का खर्चा लग सकता हैं हमने यहां पर एक एवरेज फीस बताई है क्योंकि फीस कम ज्यादा भी हो सकती है इसलिए यह इस बात पर निर्भर करता हैं आप कैसे कॉलेज में एडमिशन ले रहे हैं, कोचिंग में कितना खर्चा कर रहे हैं, आपका कॉलेज आपके घर से कितना दूर हैं इत्यादि।

परन्तु अगर आप एक सरकारी कॉलेज से BSC Course करते है तो आपकों बहुत लाभ मिलता हैं क्योंकि सरकार द्वारा गवर्नमेंट कॉलेज में आर्थिक स्थिति औऱ अच्छे नंबरों के आधार पर स्कॉलरशिप व फ्री एडमिशन की सुविधा हैं और स्टूडेंस को कॉलेज फीस के नाम पर सिर्फ अपना एग्जाम फीस ही देनी।पड़ती हैं जो कि हर सेमिस्टर में लगभग 2 से 3 हजार तक ही होती है लेकिन ये सुविधा सिर्फ सरकारी कॉलेजों में ही उपलब्ध हैं।

बीएससी की पढ़ाई करने के फायदे

आज कल हर एक फील्ड में बीएससी छात्रों की डिमांड बढ़ती ही जा रही हैं चाहें सरकारी हो या गैर सरकारी किसी भी क्षेत्र में साइंस के महत्व को हम नहीं नकार सकते इसलिए ही आज भी हर माँ-बाप चाहते है कि उसका बच्चा साइंस से पढ़ाई करें क्योंकि बीएससी करने से हमे बहुत सारे फायदे होते है.

1- हर सरकारी नौकरियो के लिखित परीक्षाओं में एक भाग जीके (GK)का होता हैं और इस भाग में ज्यादातर प्रश्न विज्ञान से ही होते हैं इसीलिए अगर आप बीएससी करते हैं तो निश्चित तौर पर आपके पास विज्ञान का काफी नॉलेज होगा जिसका फ़ायदा आपको सरकारी परीक्षाओं को पास करने के लिए भी होगा.

2- साइंस साइड से ग्रेजुएशन करने के बाद हमारी पर्सनालिटी भी काफी डेवेलोप हो जाती हैं औऱ हमारे अंदर एक स्मार्टनेस आ जाती हैं.

3- बीएससी कर लेने के बाद हमारे लिए प्राइवेट सेक्टर में भी जॉब के लिए बहुत से अवसर उपस्थित रहते हैं ऐसे में अगर हम सरकारी नौकरी नहीं भी मिले तो हम प्राइवेट नौकरी करके आसानी से एक सुखी और समृद्ध जिंदगी जी सकते हैं.

4- हम अगर आर्ट्स से अपना ग्रेजुएशन कर रहे हैं तो हम बिना ट्यूशन के भी अपनी पढ़ाई अच्छे से मेन्टेन कर सकते हैं लेकिन अगर साइंस के छात्रों को ट्यूशन की जरूरत पड़ती है ऐसे में अगर हम बीएससी करने के बाद अगर एमएससी या और कोई बड़ा कोर्स कर ले तो हम साइंस के स्टूडेंस को ट्यूशन देकर अच्छी कमाई कर सकते हैं और यह काम हम नौकरी के साथ भी कर सकते हैं.

आकर्षक छात्रवृत्ति

पाठ्यक्रमों के लिए B.Sc. का चयन करने वाले छात्रों को सरकारी छात्रवृत्ति प्रदान की जा रही है | इन छात्रवृत्ति के भत्तों में आकर्षक offer जैसे संपूर्ण अध्ययन खर्च शामिल हैं जो छात्र को Study करते समय सामना

करते हैं | इनमें से कुछ Scholarship, M.SC. से संबंधित खर्चों को भी कवर करती है यदि छात्र उच्च शिक्षा के लिए इसे चुनने का फैसला करता है |

अनुसंधान और विकास क्षेत्रों में रोजगार के अवसर

बीएससी में डिग्री हासिल करने का सबसे अच्छा हिस्सा अनुसंधान और विकास के क्षेत्र में रोजगार के बेहतरीन अवसर हैं. भारत में research and development क्षेत्र को मजबूत करना, बीएससी को ऐसी आकर्षक छात्रवृत्ति की पेशकश करने के पीछे सरकार का एक प्रमुख कारण है. एक science के छात्र के वैज्ञानिक बनने से बेहतर करियर क्या हो सकता है? और सरकार research and development क्षेत्र के छात्रों को विकसित करने में गहरी दिलचस्पी ले रही है और यह आश्वासन दे सकती है कि उनके पास इस क्षेत्र में एक आशाजनक और पुरस्कृत करियर होगा.

विज्ञान के अलावा अन्य field का पता लगाने के लिए आजादी

किसी भी अन्य Academic course के तरह, बीएससी graduates के पास भी रोजगार के बेहतरीन अवसर हैं. बीएससी के छात्र केवल विज्ञान से संबंधित नौकरियों के क्षेत्र तक ही सीमित नहीं हैं और उनके पास अन्य क्षेत्रों जैसे management, engineering, law आदि का पता लगाने के लिए उच्च शिक्षा और रोजगार के अवसरों दोनों के लिए free है.

दोस्तों, जैसा की अब आपको पता चल गया है बीएससी की फुल फॉर्म के बारे में (BSC Full Form in Hindi), अब जानते है।