धर्म और पौराणिक कथाएं

شیو اور شکتی ہماری کائنات میں ہر وجود کے

शिव और शक्ति – हमारे ब्रह्मांड में हर प्राणी के ब्रह्मांडीय माता-पिता (बहुविकल्पी)

शिव और शक्ति इस संसार के प्रत्येक जीव के ब्रह्मांडीय माता-पिता हैं। शिव समय है और शक्ति अंतरिक्ष है। उन्होंने मिलकर इस ब्रह्मांड को एक बड़े धमाके के साथ बनाया। दिव्यांशु बताते हैं शिव और शक्ति की वैज्ञानिक अवधारणाएं दिव्यांशु सिंह चौहान एक तकनीकी उद्यमी और वैदिक शोधकर्ता हैं। दिव्यांशु अपने मंच www.ABCnakshatra.com के माध्यम …

शिव और शक्ति – हमारे ब्रह्मांड में हर प्राणी के ब्रह्मांडीय माता-पिता (बहुविकल्पी) Read More »

माता वैष्णो देवी मंदिर (Mata Vaishno Devi Temple In Hindi)

माता वैष्णो देवी मंदिर की जानकारी (Information About Mata Vaishno Devi Temple In Hindi) : माता वैष्णो देवी मंदिर भारत में सबसे अधिक देखे जाने वाले तीर्थस्थलों में से एक है। यह 5, 300 फीट की ऊंचाई पर त्रिकुटा पर्वत पर स्थित है। माता वैष्णो देवी का मंदिर जम्मू और कश्मीर राज्य में हिमालय पर्वत …

माता वैष्णो देवी मंदिर (Mata Vaishno Devi Temple In Hindi) Read More »

श्री हनुमान चालीसा | Shree Hanuman Chalisa in Hindi

हनुमान चालीसा भगवान राम के प्रति उनकी भक्ति के लिए भगवान हनुमान को समर्पित एक शाश्वत ग्रन्थ है। यह भगवान हनुमान की वीरता, साहस, बहादुरी, निडरता और निस्वार्थता का प्रतिनिधित्व और चित्रण करता है। इसे प्रमुख हिंदू कवियों शिरोमाणि  तुलसीदास ने लिखा है। “चालीसा” शब्द हिंदी शब्द “चालिस” से लिया गया है, क्योंकि हनुमान चालीसा …

श्री हनुमान चालीसा | Shree Hanuman Chalisa in Hindi Read More »

हनुमान जी की आरती | Hanuman Aarti Lyrics in Hindi

हनुमान जी की आरती रामभक्त हनुमान को खुश करने और उनका आशीर्वाद पाने की लिए गाई जाती है l इस आरती के गाने मात्रा से भक्त के जीवन के संकट और परेशानिया दूर होनी शुरू हो जाती है l अष्ठ सिद्धि नव निधि के प्रदाता हनुमानजी से खुशहाली और आरोग्य का वरदान अवश्य प्राप्त होता …

हनुमान जी की आरती | Hanuman Aarti Lyrics in Hindi Read More »

बद्रीनाथ धाम यात्रा (Badrinath Dham Yatra in Hindi)

बहूनि सन्ति तीर्थानि, दिवि भूमौ रसासु च||बदरी सदृशं तीर्थ न भूतं न भविष्यति|| महर्षि वेदयास द्वारा लिखित इस श्लोक का अर्थ है कि इस पृथ्वी, स्वर्ग और पाताल में  बहुत सारे तीर्थ है लेकिन बद्रीनाथ धाम  की समानता करने वाला तीर्थ तीनो लोको में न है और भविष्य में न कभी होगा हिमाचल क्षेत्र में …

बद्रीनाथ धाम यात्रा (Badrinath Dham Yatra in Hindi) Read More »

द्वारिका धाम यात्रा (Dwarka Dham Yatra in Hindi)

चार धामों में से एक द्वारिका धाम (Char Dham Dwarka) का मंदिर लगभग 2500 भी अधिक वर्ष पुराना है। इस नगरी को भगवान् श्री कृष्ण ने बसाया था जो कि उनकी राजधानी थी यहाँ पर श्री कृष्ण का राज्य था जहाँ ये अपने परिकर, परिवार और 16108 पत्नियों के साथ निवास करते थे।  द्वारिका नगरी का …

द्वारिका धाम यात्रा (Dwarka Dham Yatra in Hindi) Read More »

संतोषी माँ की आरती | Santoshi Maa Ki Aarti

संतोषी माँ भगवान गणेश की बेटी और देवी दुर्गा की सबसे शांत रूप हैं। जैसा कि उसके नाम से पता चलता है, वह सभी दुखों को दूर करने वाली और धैर्य की शिक्षा देने वाली देवी  है। संतोषी माँ दया, प्यार, शांति, धैर्य और संतुष्टि की साक्षात मूर्ति हैं। वह शुद्ध और कोमल हृदय की …

संतोषी माँ की आरती | Santoshi Maa Ki Aarti Read More »

शीतला माता की पौराणिक कथा (स्कंद पुराण के अनुसार)

शीतला माता| Sheetla Mata शीतला माता का वर्णन हिन्दू साहित्य के स्कंद पुराण में किया गया है।  स्कंद पुराण में शीतला माता को चेचक व त्वचा  रोगों की देवी बताया गया है। शीतला माता के साथ ज्वरासुर [ज्वर का दैत्य] हैजे की देवी, चौंसठ रोग, घेंटुकर्ण त्वचा रोग के देवता एवं रक्तवती देवी विराजमान होती हैं। सम्पूर्ण …

शीतला माता की पौराणिक कथा (स्कंद पुराण के अनुसार) Read More »

Scroll to Top