दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना (Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi)

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना ग्रामीण विकास मंत्रालय (Ministry of Rural Development) ने 25 सितंबर 2014 को दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना (दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना) का उद्देश्य ग्रामीण गरीब और पिछड़े वर्ग परिवारों की आय में विविधता जोड़ने और ग्रामीण युवाओं के करियर की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना की शुरुवात की गई थी। इस योजना के तहत गरीब परिवारों के बच्चो को शिक्षा देने का प्रावधान रखा गया था।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना वे युवा जनसंख्या जो भारत की एक ताकत है। इसे भुनाने के लिये तथा गरीब युवाओं को देश के मुख्य धारा से जोड़ने के लिए उनके कौशल विकास को तराशने के लिए एक योजना लाने का प्रयास भारत सरकार द्वारा किया गया। इसी के फलस्वरूप दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना को लाया गया। यह योजना गरीब ग्रामीण क्षेत्रो में युवाओं को नौकरियों में नियमित न्यूनतम मजदूरी या उससे ऊपर मासिक मजदूरी दिलाने के मकसद से लाया गया।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना के फायदे (Benefits of Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi) :

  • इस योजना के तहत बाजार की माँग के समाधान के लिए तथा कौशल से जुडी परियोजनाओं के लिए ₹25,000 से एक लाख रुपये तक प्रति व्यक्ति वित्तीय सहायता प्रदान करता है।
  • इस योजना के तहत 576 घंटे (तीन महीने) से लेकर 2304 घंटे (12 महीने) तक प्रशिक्षण अवधि परियोजनाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करता है।
  • इस योजना के तहत 250 से अधिक व्यापार क्षेत्रो जैसे :- चमड़ा, खुदरा, मोटरवाहन, निर्माण, विद्युत्, पाईप लाइन, रत्न एवं आभूषण आदि क्षेत्रों को अनुदान प्रदान करना है।
  • यह योजना विदेश प्लेसमेन्ट को भी प्रोत्साहित करती है।
  • यह कैप्टिव रोजगार, उद्योग इंटर्नशिप एवं उच्च प्रतिष्ठित संस्थानों की भी व्यवस्था प्रदान करता है।
  • आपकी योग्यता के आधार पर कुशलता विकसित करने के लिए युवाओं का चयन होता है।
  • अच्छी नौकरी के लिए बेहतरीन ट्रेनिंग दी जाती है।
  • रोजगार के अवसर के हिसाब से नॉलेज, अपना बिजनेस शुरू करने के लिए ट्रेनिंग भी दी जाती है।
  • नौकरियों से जुड़ी हर वो जानकारी दी जाती है। जो आपको आगे चलके काम आती है।
  • ग्रामीण इलाके से पलायन कम करना ज्यादा से ज्यादा लोगों की पहुंच रोजगार तक सुनिश्चित किया गया है।
योजना का नाम:दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना
योजना का आरम्भ:25 सितंबर 2014
योजना किसके द्वारा शुरू की गयी:यहाँ योजना ग्रामीण विकास मंत्रालय (भारत सरकार के अधीन) शुरू की गयी थी
ऑनलाइन आवेदन का लिंक:http://ddugky.gov.in/hi/apply-now
योजना क्षेत्र:रोजगार

यह भी पढ़े :

रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया (Registration Process in Hindi) :

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना की ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (Offline Registration Process of Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi) :

आप अपने मोबाइल के माध्यम से मिस्ड कॉल देकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इसके लिए आपको 9810016673 पर मिस्ड कॉल देना होगा। कुछ ही देर में आपके नम्बर पर एक कॉल आयेगा। इसके बाद कुछ जानकारी मांगी जायेगी। जैसे आपका नाम, आपका पता, आपकी योग्यता और आपका व्यवसाय आदि। इसके बाद रजिस्ट्रेशन करके अपने निकटतम प्रशिक्षण केंद्र का पता आपको दे दिया जायेगा।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (Online Registration Process of Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi) :

Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana के लिए ऑनलाइन आवेदन के लिए इसकी आधिकारिक वेवसाइट पर जाना होगा। रजिस्ट्रेशन करने से पलहे आपको फोटो स्कैन करके रख लेना होगा। जिसका साइज 2 MB से कम होना चाहिए। आधिकारिक वेवसाइट पर क्लिक करते ही होम पेज दिखेगा। इसमें सभी जानकारी जैसे आपका नाम, आपका पता, आपका जिला, आपका राज्य, आपकी ईमेल आईडी, व्यक्तिगत पहचान, मोबाइल, एव उद्योग चुने, नौकरी की भूमिका चुने, अपलोड फोटो आदि भरने के बाद कैप्चा कोड भरकर सबमिट बटन दबाएँ। इस तरह आपका रजिस्ट्रेशन पूर्ण जो जायेगा।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना में कितनी मदद मिलने की उम्मीद (How Much Help is Expected in Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi) :

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना के तहत कुशलता विकसित करने के कार्यक्रम में 25,000 से लेकर 1 लाख रुपये प्रति व्यक्ति तक की वित्तीय सहायता मिल सकती है. यह वास्तव में परियोजना की अवधि और ट्रेनिंग योजना के प्रकार (आवासीय या गैर आवासीय) पर निर्भर करता है.  Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana 576 घंटे (3 महीने) से लेकर 2,304 घंटे (12 महीने) तक के प्रशिक्षण के लिए वित्तीय सहायता देता है.

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना में सामाजिक रूप से वंचित समूह को कवर करने का लक्ष्य रखा गया है इस योजना के लिए आवंटित धन का 50% अनुसूचित जाति-जनजाति, 15% अल्पसंख्यकों के लिए और 3% विकलांग व्यक्तियों के लिए निर्धारित किया गया है. इस तरह के कुशलता कार्यक्रम में युवाओं की संख्या में एक तिहाई संख्या महिलाओं की रखी गयी है

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना में कितना फ़ायदा? (What is the benefit of Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi) :

DDU-GKY के तहत कुशलता विकसित करने के कार्यक्रम में 25,000 से लेकर 1 लाख रुपये प्रति व्यक्ति तक का फ़ायदा है

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की वेबसाइट (Website of Online Registration for Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi) :

ऑनलाइन आवेदन के लिए इसकी आधिकारिक वेवसाइट है। - ddugky.gov.in/hi/apply-now

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना की ऑफलाइन प्रक्रिया के लिए नंबर? (Number for Offline Process of Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana in Hindi) :

इसके लिए आपको 9810016673 पर मिस्ड कॉल देना होगा।

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना कितने समय के लिए आर्थिक लाभ देता है? (Deen Dayal Upadhyaya Grameen Kaushalya Yojana Gives Economic Benefits for How Long in Hindi) :

कुशलता विकसित करने के कार्यक्रम में 25,000 से लेकर 1 लाख रुपये प्रति व्यक्ति तक की वित्तीय सहायता मिल सकती है