Categories: Rules and Regulations
| On 1 year ago

Double work allowance rule: The benefit of doing double work.

Share

दोहरा कार्य भत्ता : दोहरा कार्य करने पर मिलने वाला परिलाभ।

राज्य सरकार एक सरकारी कर्मचारी को अस्थाई आधार पर या कार्यवाहक रूप में एक समय में दो स्वतन्त्र पदों पर कार्य करने हेतु नियुक्त कर सकती है। ऐसे मामलों में उसका वेतन निम्न प्रकार शासित होगा :-

(i) कर्मचारी के धारित पद के अधीनस्थ होने पर उसे कुछ भी प्राप्त नहीं होगा।
(ii) यदि पद समकक्ष या निम्न है (लेकिन अधीनस्थ नहीं) तो कार्यवाहक भत्ता 30 दिवस से 60 दिवस तक परिकल्पित वेतन का 1.5 प्रतिशत तथा 60 दिवस से अधिक कार्य करने पर परिकल्पित वेतन का 3 प्रतिशत देय होगा।
(iii) यदि पद उच्चतर है तथा सरकारी कर्मचारी उच्चतर पद को धारित करने के लिए योग्यता रखता है या नियमित पदोन्नति या आकस्मिक पदोन्नति के लिए भी संवर्ग में वरिष्ठ है तो वह उच्चतर पद का वेतन
प्राप्त करेगा अथवा 30 दिवस से 60 दिवस तक परिकल्पित वेतन का 1.5 प्रतिशत तथा 60 दिवस से अधिक हेतु 3 प्रतिशत प्राप्त करेगा। परिकल्पित वेतन से तात्पर्य चालू वेतन बेंड में वेतन एवं ग्रेड वेतन के
योग से है।
(iv) यदि उच्चतर पद के लिये उपर्युक्त शर्ते पूर्ण नहीं करता है तो 30 दिवस से अधिक के कार्य के लिये उसे अपने वेतन का अधिकतम 1.5 प्रतिशत दिया जाएगा। 6 माह से अधिक अवधि हेतु कार्यभार भत्ता स्वीकृत नहीं किया जाएगा। कार्यभार भत्ता की अवधि की गणना में पूर्व व पश्चात् के सार्वजनिक अवकाश गिने जाएगे। यह भत्ता नियुक्ति अधिकारी द्वारा स्वीकृत किया जाएगा। (परिशिष्ट ix-ii), (एफ.1(5)वित्त (नियम)/96 दिनांक 12.09.2008 द्वारा प्रतिस्थापित तथा 1.1.2007 से प्रभावी।)

नवीन पद के प्रभावी होने की तारीख-

नवीन सृजित पद उस दिन से प्रभावी होता है, जब वह पूर्णकालिकआधार पर भरा जाता है। ऐसा नवीन सृजित पद यदि प्रारम्भ में पूर्णकालिक आधार पर नहीं भरा गया है तो उस पद के कार्यों के लिए किसी कर्मचारी को कोई विशेष वेतन स्वीकृत नहीं किया जा सकेगा। (नियम 50 तथा नियम 35)

औपचारिक आदेश की आवश्यकता:

जब किसी शासकीय सेवक को अपने काम के अलावा दूसरे ऊंचे रिक्त पद का काम करने के निर्देश दिये जाएं तो इस बारे में सक्षम अधिकारी द्वारा लिखित औपचारिक आदेश (formal orders) जारी किये जाएं

राजस्थान सिविल सेवा नियम:

अतिरिक्त कार्य के लिए राजस्थान सेवा नियमों के नियम 35 एवं 50 के अनुसार नियमानुसार दोहरा कार्य भत्ता देय होगा।