Categories: Editorial
| On 2 years ago

Editorial: Teacher's Role in Changing Circumstances

Share

संपादकीय: परिवर्तनशील परिस्थितियों में शिक्षक की परीक्षा।

6 जुलाई 2019, जोधपुर। वर्तमान सूचना विस्फोटक युग में हर तरफ एक दौड़ जारी है तो शिक्षक भी भला इससे अछूता कैसे रह सकता है? हम निःसंकोच होकर यह कह सकते है इस दौर में एक शिक्षक सर्वाधिक व्यस्त कार्मिक है।

अभी ग्रीष्मावकाश का समापन हुआ है एवं प्रवेशोत्सव अभियान चरम पर है। इसी दौरान 2 जुलाई को हमने वृहद बालसभा का सार्वजनिक स्थान पर आयोजन भी किया है। इस बालसभा से हमें सकारात्मक परिणाम मिलने की भी आशा है।

इसी बीच सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि तमाम कार्यो के बीच भी हमको यह नही भूलना चाहिए कि यह "माहे-जुलाई" है। इसी माह में तैयार रोडमैप के आधार पर वर्ष भर हमारी स्कूल का संचालन होगा।

सभी व्यस्त है अतः सभी को एक बार सबसे पहले माह जुलाई के शिविरा पंचांग का आद्योपांत अध्ययन करके स्वयं के द्वारा करणीय कार्यो एवं अपनी भूमिका को व्यवस्थित कर लेना अपेक्षित है।

सबसे पहले प्राथमिक वर्ग के शिक्षकों को एसआईक्यूई के तहत कक्षानुसार करणीय कार्यो को निस्तारित कर लेना चाहिए ताकि समयसीमा में कार्य निष्पादन हो सके।

माध्यमिक व ओपन बोर्ड परीक्षा के पूरक व आगामी सत्र के नियमित आवेदन के लिए जागरूकता आवश्यक है अन्यथा एक संस्था को मानसिक वेदना के साथ आर्थिक रूप से दण्डित होना पड़ सकता है।

विद्यालय योजना आप द्वारा तैयार कर ली गई होगी लेकिन तैयार नही है तो इसकी भी तैयारी कर लीजिए। एसडीएमसी की बैठक में सामान्य मुद्दों के साथ ही आप विद्यालय विकास शुल्क, सफाई कार्य हेतु व्यय, विद्यालय विकास के क्रम में आवश्यक करणीय कार्यो का व्यय भी अनुमत करवा सकते है।

शाला दर्पण, ज्ञान संकल्प पोर्टल के अपडेटेशन के साथ ही आप इसी माह में आरम्भ होने वाले छात्रवृत्ति ऑनलाइन आवेदन की तैयारी भी आवश्यक रूप से कर लेवे। विद्यार्थियों के प्रवेश प्रार्थना पत्र को सावधानी पूर्वक भरवाए।

आज की अंतिम बात के रूप में निवेदन रहेगा कि "इन्सपायर अवार्ड-मानक" हेतु अंतिम तिथि 31 जुलाई है एवं आपको अपने विद्यार्थियों के आइडिया को इन्सपायर अवार्ड की वेबसाइट पर अपलोड करना है। कल की पूरी वार्ता इन्सपायर अवार्ड पर ही केंद्रित रखेंगे।

आप विश्वास कीजिये कि इसबार राजस्थान स्कूल शिक्षा विभाग राजकीय विद्यालयों में नामांकन के पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ देगा एवं यह सामुहिक प्रयासों से ही सम्भव होगा।

शेष कुशल।
सादर।