Categories: News
| On 2 years ago

Education Minister of Rajasthan : Special attention will be given to educational quality adopting innovations.

नवाचारों को अपनाते शैक्षिक गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाएगा
-शिक्षा राज्य मंत्री
जयपुर, 15 जुलाई। शिक्षा राज्य मंत्री श्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा है कि प्रदेश में शिक्षक प्रशिक्षण और विषय अध्यापन में नवाचारों को अपनाते हुए गुणत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। उन्हाेंने कहा कि
इसके लिए राज्य सरकार रोड मैप तैयार कर रही है। इसमें शिक्षा विभाग के साथ कार्य कर रही स्वयंसेवी संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाएगा।
श्री डोटासरा सोमवार को यहां शिक्षा संकुल में स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ आयोजित अनौपचारिक बैठक में विभाग में सहयोग के लिए उनके द्वारा दिए
गए प्रस्तावों पर चर्चा कर रहे थे। उन्होंने स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा विद्यार्थियों के सीखने के तरीकों में वृद्धि, अंग्रेजी सीखने के व्यावहारिक तरीकों के साथ शिक्षक प्रशिक्षण के आधुनिक मॉड्यूल्स के प्रस्तुतिकण देखे।
उन्होंने कहा कि शिक्षा सुदृढ़ीकरण के लिए किए जा रहे राज्य सरकार के कार्यों में उन स्वयंसेवी संस्थाओं को अधिक अवसर दिए जाएंगे जो शिक्षा जैसे पवित्र कार्य में बगैर किसी लाभ उद्देश्य के बेहतर से बेहतर देना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की यह मंशा है कि राजस्थान देश का अग्रणी शिक्षा राज्य बने। इसके लिए सभी को मिलकर प्रयास करने की जरूरत है। बैठक में प्रमुख शासन सचिव
डॉ. आर.वेंकटेश्वरन, स्कूल शिक्षा परिषद के आयुक्त श्री प्रदीप कुमार बोरड़ तथा राज्य परियोजना निदेशक डॉ. एन.के. गुप्ता सहित बड़ी संख्या में अधिकारी एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिनिधियों ने भाग लिया।