Categories: HealthSocial Media
| On 1 year ago

Garlic : Garlic (Lahsun) Benefits and Precautions in Hindi

लहसुन के फायदे इसके इस्तेमाल हेतु बरती जाने वाली सावधानियां।

लहसुन: जानिए लहसून के ज्यूस के 10 अनमोल गुण

लहसून के नाम से ही बच्चे चिढ़ने लगते हैं और दिमाग में आ जाता है एक बदबू व कसैले स्वाद का ख्याल। यकीन जानिए कि यह जानने के बाद कि लहसून में आप के स्वास्थ्य को बेहतर रखने के चमत्कारी गुण होते हैं, आप इसे अपने भोजन में जरुर शामिल करेंगे।

लहसून में कुछ बहुत ही खास गुण होते हैं और इसे न केवल भारत में बल्कि दुनिया के कई देशों में एक महत्वपूर्ण खाद्य मसाले के तौर भी पर इस्तेमाल किया जाता है। लहसून में खाने को एक अलग ही स्वाद देने की क्षमता होती है जो बहुत से लोगों को पसंद होती है।

लहसून को अपनी डाइट का

हिस्सा बनाने का एक और तरीका है इसे ज्यूस के तौर पर इस्तेमाल करना। आप जल्दी ही इससे आने वाले बदलाव को महसूस करने लगेंगे।

लहसुन के फायदे-

1. लहसून के ज्यूस की 10 बूंदें और दो चम्मच शहद को एक ग्लास पानी में मिलाकर रोजाना पीने से दमा रोग में बहुत फायदा होता है।

2. अगर आपका गला खराब है तो लहसून के ज्यूस को गर्म पानी में मिलाकर गरारे करने से गले की खिचखिच में तुरंत आराम मिलता है।

3. लहसून के रस की 20 बूंदें और एक ग्लास अनार का ज्यूस मिलाकर पीने से किसी भी तरह की खांसी पूरी तरह से ठीक हो जाती है।

4. लहसून के ज्यूस को मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए सीधे ही चेहरे पर लगाया जा सकता है। लहसून के ज्यूस को दिन के समय में चेहरे पर लगाकर 5 मिनट के लिए रखना चाहिए और फिर इसे पानी के साथ धो लेना चाहिए। इस उपाय को मुंहासों के गायब होने तक अपनाया जा सकता है।

5. लहसून का ज्यूस कम बालों वाले लोगो के लिए वरदान की तरह है। इसे दिन में दो बार कम बाल वाली जगह पर लगाकर सुखने तक रखना चाहिए। इससे न

सिर्फ नए बाल उगते हैं बल्कि रुसी और जूं जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिलता है।

6. लहसून के ज्यूस को दूध में मिलाकर रोजाना सुबह के समय पीने से महिलाओं में होने वाले बांझपन पर नियंत्रण किया जा सकता है।

7. लहसून के ज्यूस को किसी जहरीले जानवर के काटने पर होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

8. लहसून के ज्यूस का सबसे कारगार गुण होता है शरीर में कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करना और कम बनाए रखना। इसका नियमित इस्तेमाल से ह्दयाघात और दूसरी ह्रदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

9. लहसून का ज्यूस खून को साफ करता है और उसे पतला रखकर शरीर में खून के प्रवाह को सुचारु बनाए रखता है।

10. लहसून का ज्यूस महिलाओं को स्वस्थ रखने में बहुत कारगर है। इसका रोजाना इस्तेमाल स्तनों को सही आकार देता है।

लहसुन : लहसुन के प्रयोग में बरती जाने वाली सावधानी।

लहसून गुणों की खान है पर इसको रोजाना अपनी डाइट का हिस्सा बनाने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना बहुत जरुरी है।

1. लहसून का ज्यूस हमेशा खाना खाने के बाद ही पीना चाहिए।

2. लहसून का ज्यूस को दिन

के वक्त और केवल सुखने तक ही लगे रहने देना चाहिए वर्ना यह आपकी स्किन को नुकसान पहुंचा सकता है।

3. ताजे लहसून से सबसे ज्यादा स्वाद और फायदा पाया जा सकता है।

4. झुर्रियों वाला लहसून नहीं खरीदना चाहिए।

5. लहसून को धूप से बचाकर सूखी और ठंडी जगह में रखना चाहिए।

6. छिला हुआ लहसून या लहसून के ज्यूस को फ्रीज में नहीं रखना चाहिए।

आवश्यक सलाह/परामर्श

नोट: उपरोक्त सभी तथ्य आयुर्वेद के सिद्धांतों के तहत प्रतिपादित है लेकिन यह हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि यह नुस्खे आरंभिक इलाज अथवा रोकथाम तक ही उचित है। समस्या के सम्पूर्ण निवारण हेतु आवश्यक है कि हम योग्य वैद्य अथवा मेडिकल डॉक्टर के परामर्श से ही इलाज लेवे एवम उनकी देखरेख में स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करे।