Categories: Education

GATE पेपर क्यों दें? कौन दे सकते हैं Gate?

Graduate Aptitude Test In Engineering (GATE) गेट जिसे इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट कहा जाता है। GATE की परीक्षा इंजीनियरिंग के विभिन्न विषयों में मास्टर डिग्री की पढ़ाई करने के लिए होती है। यह परीक्षा भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान संस्थान, राष्ट्रीय समन्वय बोर्ड, उच्च शिक्षा विभाग, देश की सात IIT आईआईटी, और मानव संसाधन विकास मंत्रालय के द्वारा आयोजित की जाती है। इस परीक्षा के द्वारा उन विद्यार्थियों का मूल्यांकन किया जाता है कि, क्या वह विद्यार्थी भारत के प्रीमियम संस्थानों में उच्च अध्ययन के लिए योग्यता रखते है या नहीं।

GATE exam एक ऐसी परीक्षा है जिसके जरिए Engineering विद्यार्थी अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन में प्रवेश लेते हैं। गेट की परीक्षा देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक हैं इस परीक्षा को हर साल 10,00,000 विद्यार्थी देते हैं और इन 10,00,000 में से सिर्फ 10 से 15% विद्यार्थी ही सफल होते हैं।

गेट परीक्षा के जरिए देश के बहुत सारे प्रसिद्ध इंजीनियरिंग कॉलेज में मास्टर की डिग्री कर सकते हैं। Gate परीक्षा देश की National level की परीक्षा है जिसके जरिए पोस्ट ग्रेजुएशन के कोर्स और PHD पीएचडी के लिए देश के प्रसिद्ध कॉलेज में दाखिला मिलता है। गेट परीक्षा के जरिए कॉलेज विद्यार्थियों की ability का पता चलता है इस परीक्षा में

से बहुत ही conceptual questions पूछे जाते हैं। GATE परीक्षा को आयोजित कराने की जिम्मेदारी देश के सबसे प्रसिद्ध इंजीनियरिंग कॉलेज और साइंस संस्थानों की है।

Gate परीक्षा को  Indian Institute of Science IIT आईआईटी रुड़की, IIT आईआईटी दिल्ली, IIT आईआईटी मुंबई, IIT आईआईटी कानपुर, IIT आईआईटी खड़कपुर, IIT आईआईटी मद्रास, IIT आईआईटी गुवाहाटी इन सारे प्रतिष्ठित संस्थानों द्वारा इस परीक्षा को आयोजित कराया जाता है। गेट परीक्षा को पास करने के बाद आपको M.Tech एमटेक के लिए IITs और IIM में दाखिला मिलता है।

गेट परीक्षा का अंक अगले 03 साल तक वैध रहता है अगर विद्यार्थी पहले साल में अच्छे अंक लाये हैं और इस साल कॉलेज में दाखिला नहीं लेना चाहते हैं तो अगले साल उसके आधार पर अच्छे कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं। गेट की परीक्षा ग्रेजुएशन के बाद बहुत बार दे सकते हैं इसके लिए कोई सीमा तय नहीं की गई है।

गेट परीक्षा के लिए योग्यता (Eligibility for GATE Exam In Hindi)

  • बैचलर आर्किटेक्चर (Bachelor Architecture) में पांच साल की स्नातक डिग्री।
  • बीई, बी.टेक, बिफार्म इंजीनियरिंग, प्रौद्योगिकी में स्नातक की डिग्री, अंतिम वर्ष के विद्यार्थी भी परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • बी.एससी, पोस्ट डिप्लोमा के बाद चार वर्ष की डिग्री।
  • विज्ञान, गणित, कंप्यूटर एप्लीकेशन, सांख्यिकी में मास्टर
    डिग्री प्राप्त धारक या इन ब्रांच में फाइनल ईयर के विद्यार्थी भी शामिल हो सकते हैं।
  • Graduate Aptitude Test In Engineering exam  के लिए आपको 12वीं math science subject  से 60% अंकों के साथ बात करनी होती है।
  • गेट एग्जाम के लिए आपको किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी या कॉलेज से Engineering यानी BTech  की डिग्री लेनी होती है।
  • Graduate Aptitude Test In Engineering exam  विद्यार्थी भी दे सकते हैं जो कि Math Physics  जैसे विषय से स्नातक की डिग्री की हो।
  • Graduate Aptitude Test In Engineering Exam के द्वारा अगर आप पीएचडी करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कोई अच्छे और मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से masters degree कोई भी science branch, mathematics, statistics, computer applications जैसे विषयों से करनी होती है।
  • इस परीक्षा को देने के लिए कोई age limit तय नहीं की गई है। ग्रेजुएशन के बाद आप किसी भी उम्र तक इस परीक्षा को कई बार दे सकते हैं।

गेट परीक्षा का फॉर्म कैसे भरें (How To Fill Gate Exam Form In Hindi)

Graduate Aptitude Test In Engineering exam के लिए विद्यार्थी अपना आवेदन गेट की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर कर सकते हैं। परीक्षा के लिए आवेदन अगस्त के आखिरी सप्ताह में शुरू होता है और सितंबर के आखिरी सप्ताह तक परीक्षा के लिए आप आवेदन कर सकते हैं।

  • लड़कियों और आरक्षित वर्ग और विकलांग विद्यार्थियों के लिए Form fees 750  रुपए हैं।
  • लड़कों के लिए Form Fees 1,500  रुपए हैं।
  • International Candidate के लिए इस Form Fees 50 USD है।

गेट परीक्षा उत्तीर्ण करने के फायदे (Benefits of Qualifying GATE Exam In Hindi)

  1. यदि इस परीक्षा में सफल होते हैं तो इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ साइंस बेंगलुरु और देश के सात भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों में आपको M.Tech, ME और PHD में प्रवेश मिल जाता है।
  2. सार्वजनिक क्षेत्र की विभिन्न बड़ी-बड़ी कंपनियों में करियर भी बना सकते है।
  3. इससे लिए सरकारी नौकरी के भी रास्ते खुल जाते है।
  4. Graduate Aptitude Test In Engineering में अच्छा स्कोर करने पर छात्रों को MHRD एमएचआरडी या अन्य सरकारी एजेंसी से वित्तीय सहायता भी प्राप्त होती है।

Also Read :

CAT पेपर करने से क्या होता है? CAT करके क्या बन सकते हैं? कौन दे सकते हैं CAT?

गेट परीक्षा पैटर्न (Gate Exam Pattern In Hindi)

Graduate Aptitude Test In Engineering Exam में 100 प्रश्न पूछे जाते हैं उनमें से कुछ प्रश्न Objective Type के होते हैं  जबकि कुछ प्रश्न Numerical Type के होते हैं।

  • Graduate Aptitude Test In Engineering परीक्षा में  Engineering Mathematics के 15 अंक के प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • Graduate Aptitude Test In Engineering परीक्षा मैं आपसे जनरल एप्टीटुड के 15 अंक के प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • Graduate Aptitude Test In Engineering परीक्षा में Core Branch के 70 से 72 अंक के प्रश्न पूछे जाते हैं। जिस Branch से इंजीनियरिंग Graduation किया है 70  अंक के प्रश्न उसी विषय से पूछे जाते हैं।
  • General Aptitude के प्रश्न सारे स्ट्रीम के  विद्यार्थियों के लिए Common  ही रहती है। इसमें Analytics Skills देखी जाती है।
  • Graduate Aptitude Test In Engineering Exams में Objective Question के गलत उत्तर देने पर कुछ काट लिए जाते हैं यानी नेगेटिव मार्किंग भी होती है।

Graduate Aptitude Test In Engineering परीक्षा का सिलेबस (GATE Exam Syllabus In Hindi)

GATE परीक्षा 23 पेपर के लिए होती है। परीक्षा का पाठ्यक्रम सभी धारा के लिए अलग-अलग होता है। 23 पेपरों की सूची पेपर कोड के साथ इस प्रकार है :

GATE पेपर/कोडGATE पेपर/कोड
Aerospace Engineering (AE) (एयरोस्पेस इंजीनियरिंग (AE))Geology and Geophysics (EG) (जियोलॉजी एंड जिओफिजिक्स (EG))
Agricultural Engineering (AG) (एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग (AG))Mathematics (MA) (मैथमेटिक्स (MA))
Architecture and Planning (AR) (आर्किटेकचर एंड प्लानिंग (AR))Mechanical Engineering (ME) (मैकेनिकल इंजीनियरिंग (ME))
Biotechnology (BT) (बायोटेक्नोलॉजी (BT))Instrumentation Engineering (IN) (इंस्ट्रूमेंटशन इंजीनियरिंग (IN))
Civil Engineering (CE) (सिविल इंजीनियरिंग (CE))Mining Engineering (MN) (माइनिंग इंजीनियरिंग (MN))
Chemical Engineering (CH) (केमिकल इंजीनियरिंग (CH))Physics (PH) (फिजिक्स (PH))
Computer Science and Information Technology (CS) (कंप्यूटर साइंस एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (CS))Metallurgical Engineering (MT) (मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग (MT))
(कैमिस्ट्री (CY))Petroleum Engineering (PE) (पेट्रोलियम इंजीनियरिंग (PE))
Electronics and Communication Engineering (EC) (इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग (EC))Production and Industrial Engineering (PI) (प्रोडक्शन एंड इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग (PI))
Electrical Engineering (EE) (इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (EE))Textile Engineering and Fiber Science (TF) (टेक्सटाइल इंजीनियरिंग एंड फाइबर साइंस (TF))
Ecology and Evolution (EY) (इकोलॉजी एंड एवोलूशन (EY))Life Science (XL) (लाइफ साइंस (XL))
Engineering Science (XE) (इंजीनियरिंग साइंस (XE))-