Categories: NationalNews

Heavy Rain In India : इन राज्यों में बारिश से बदहाल हुए हाल, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

Heavy Rain In India Latest Hindi News : देश के गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तराखंड सहित कई राज्यों में इन दिनों Heavy Rain हो रही है। जिससे लोग बदहाल है । गुजरात के कई इलाकों में तो सड़कों पर पानी का सैलाब नजर आ रहा है। मकान-दुकान, रेलवे ट्रैक सब बारिश के पानी में डूब गए हैं। उधर, उत्तराखंड में पहाड़ खिसकने से कई रास्ते और हाइवे बंद हो चुके हैं। वहीं महाराष्ट्र के पालघर एवं पुणे सहित कई बड़े जिलों में आज फिर मौसम विभाग ने बारिश को लेकर चेतावनी जारी की है।

गुजरात के इन जिलों में विकट हैं हालात

बात यदि गुजरात की करें तो यहां के जामनगर, पोरबंदर, राजकोट और जूनागढ़ जिले में बारिश से बाढ़ के हालात बन गए हैं। इसमें जूनागढ़ के आनंदपुर, हसनापुर, विलिंगडन, ओजात, व्रजमी, ध्राफद जैसे बड़े बांध Heavy Rain की वजह से ओवरफ्लो हो रहे हैं। इन बांधों से पानी छोड़ने की वजह से नेशनल हाइवे डूब चूका है। इसके अलावा कई गांवों में भी बाढ़ की स्थिति बन चुकी है।

कई गांवों का अन्य जगहों से संपर्क टूट गया है। सड़कों पर पानी आने से पोरबंदर, जूनागढ़, गिर सोमनाथ से जुड़ने वाले सभी राष्ट्रीय व राज्य हाइवे बंद कर दिए गए हैं। Heavy Rain के चलते गिरनार रोपवे भी अभी बंद कर दिया गया है।

Heavy Rain Latest News इस माह हुई वर्षा ने तोड़ा रिकॉर्ड

गुजरात के सौराष्ट्र इलाके में आमतौर पर बहुत कम वर्षा होती है, लेकिन इस बार सितंबर के माह में यहां रिकॉर्ड तोड़ वर्षा हुई है। इसी वजह से यहां बाढ़ जैसे हालात देखने को मिल रहे है। मौसम विभाग (IMD) के अनुसार गुजरात में सितंबर के पहले 15 दिनों में अगस्त के मुकाबले करीब 4 गुना अधिक वर्षा हो चुकी है। गुजरात में गत माह 65.3 मिमी बारिश हुई थी, वहीँ सितंबर में 219.2 मिमी बारिश अब तक दर्ज की गई है।

महाराष्ट्र में बाढ़ का खतरा

महाराष्ट्र के पालघर जिले में बीते दो दिनों से हो रही Heavy Rain एवं बाढ़ के पानी से वसई-विरार को पानी पहुंचाने वाले मासवण पंपिंग स्टेशन व

धुकटन फिल्टर प्लांट में घास और मिट्टी भर चुकी है । वर्तमान में दोनों ही प्लांट डूब गए हैं। वर्षा की वजह से लगातार बिजली भी गुल हो रही है, इसलिए पेयजल सप्लाई प्रभावित होने की आशंका भी है। मौसम विभाग ने पालघर, पुणे, औरंगाबाद एवं ठाणे जिलों में भारी बारिश की आशंका भी जताई है। इनके अलावा विदर्भ के कुछ जिलों में हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है।

Heavy Rain In उत्तराखंड

इधर उत्तराखंड के कई इलाकों में भी बुधवार को भारी बारिश का सिलसिला जारी रहा है। चमोली का पागल नाला फिर से उफान पर है। वहीं, भूस्खलन के चलते बद्रीनाथ नेशनल हाइवे-58 को फ़िलहाल बंद कर दिया गया है। इसके अलावा केदारनाथ हाइवे से लेकर बद्रीनाथ हाइवे तक जगह-जगह भूस्खलन भी हो रहा है। रुद्रप्रयाग के ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कें भी बारिश और भूस्खलन की वजह से क्षतिग्रस्त गई हैं तो कई जगह पर सड़कें जाम हैं।

यह भी पढ़ें

Telecom sector को केंद्र सरकार ने दी खुशखबरी, राहत पैकेज को मंजूरी
School Reopen News : कक्षा 6 से 8 के स्टूडेंट्स को स्कूल खुलने के लिए करना पड़ेगा इंतजार
TIME Influential List : दुनिया के 100 प्रभावशाली नेताओं में फिर आया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम
Rajasthan Assembly News : विधानसभा में उठा परकोटे के अतिक्रमण का मामला
JNVU Jodhpur में नए सत्र से शुरू होगा उर्दू विभाग, हंगामे के बीच मिली सहमति
Farmer's Protest : सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब सिंधु बॉर्डर से हटेंगे किसान
NLU Rajasthan Reservation : अब NLU में राजस्थानियों को मिलेगा 25% आरक्षण
Petrol Diesel GST News : अब जीएसटी के दायरे में आ सकते हैं पेट्रोल व डीजल
IIT Kanpur कर रहा रिसर्च, हिंदी में पढ़ने को मिल सकते हैं विकीपीडिया-जर्नल्स
ACB Action In Rajasthan : एसीबी के निशाने पर रहे इन मंत्रियों के विभाग
US India Green Card : भारतीयों को मिल सकती है अमेरिकी नागरिकता, अमेरिका ने दिए संकेत
NEP IN MP : मध्यप्रदेश में स्टूडेंट्स पढ़ेंगे रामायण व महाभारत

किन्नौर में टूटा पहाड़ का बड़ा हिस्सा

हिमाचल प्रदेश के किन्नोर में लैंडस्लाइड के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग बंद हो गया है। किन्नौर एवं लाहौल स्पीति के लिए वाहनों की आवाजाही

भी रोक दी गई है। सड़कों पर पहाड़ का मलबा आ जाने के कारण से कई रास्ते भी बंद करने पड़े हैं।

दिल्ली में भी Heavy Rain की चेतावनी

देश की राजधानी दिल्ली में हल्की व मध्यम बारिश का दौर फिर शुरू हो सकता है। मौसम विभाग (आईएमडी) ने गुरुवार को शहर में मध्यम बारिश की चेतावनी जारी की है। दिल्ली में कुछ जगहों पर Heavy Rain भी हो सकती है। बता दें की ऑरेंज अलर्ट बेहद खराब मौसम की चेतावनी के तौर पर जारी किया जाता है। मौसम विभाग ने आशंका जताई है कि वर्षा की वजह से सड़कें डूब सकती है।