Categories: Health

चश्मा हटाने का घरेलु उपाय और नुस्खे (Home Remedies and Remedies to Remove Glasses in Hindi)

चश्मा हटाने का घरेलु उपाय और नुस्खे - नेत्र मानव शरीर का वह अंग होता है। जो विभिन्न उद्देश्यों से प्रकाश के प्रति क्रिया करता है। आँख वह इंद्रिय है जिसकी सहायता से हमें दिखाई देता है। मानव नेत्र करीब 1 करोड़ रंगों

में अन्तर कर सकता है। नेत्र शरीर की वह प्रमुख ज्ञानेंद्रिय है। जिससे रंग-रूप का आलोकन होता है।

आज-कल के समय में बच्चे हो या बड़े Mobile (मोबाइल) TV (टीवी) और laptop (लैपटॉप) पर लगे रहते हैं। जिसकी वजह से समय से पहले ही आंखों

में चश्मा लग जाता है। बदलती दिनचर्या में हम अपनी आंखों का ख्याल नही रख पाते हैं। जिसकी वजह से हम दूर और पास की नजर कमजोर हो जाती है, और हमें चश्मा लगाने की जरूरत हो जाती है। आज-कल कई लोग आंखों के कम दिखने से परेशान होते हैं और जिससे हर समय चश्मा या Lens (लेंस) लगा कर रखने पड़ते हैं।

वैसे यदि एक बार जिनको चश्मा लग जाता है। उनके चश्मे का नंबर भी धीरे-धीरे बढ़ता ही रहता है, और यह उम्र भर के सरदर्द का कारण बन जाता है, लेकिन अगर समय रहते हम अपनी दृष्टि और उससे होने वाली परेशानी के कारणों पर ध्यान नहीं देते हैं, तो चश्मा लगाने की नौबत आ जाती है।

This image has an empty alt attribute; its file name is image-56.png

आँखों की रोशनी कम होने के कारण (Due to Poor Eyesight in Hindi ) :

  • रहन-सहन
  • अत्यधिक TV (टी.वी) देखना
  • Mobile (मोबाइल) का अधिक प्रयोग
  • Computer (कंप्यूटर) का अधिक प्रयोग
  • पौष्टिक आहार न लेना/खाना
  • किसी न किसी बीमारी की वजहों से

चश्मा हटाने का घरेलु उपाय और नुस्खे (Home Remedies and Remedies to Remove Glasses in Hindi)

गाजर का रस (Carrot Juice) :

गाजर में बहुत से Vitamin (विटामिन) पाए जाते हैं। गाजर का रस सभी प्रकार के तत्व आंखों को सही रखने मे कारगर होता है। इसलिए इस गाजर का रस पीना आंखों के लिए लाभकारी होता है।

धनिये का रस (coriander Juice) :

धनिये के रस से आंखों की रोशनी को सही किया जा सकता है, और आंखों की रोशनी सही करने के लिए धनिये का रस थोड़ी मात्रा में अपनी दोनों आंखों में डालना पड़ता है। आंखों में धनिये का रस डालने के बाद 15 से 20 मिनट तक अपनी आंखें बंद रखें।

हरी सब्जियों का उपयोग अधिक करना (Use More Green Vegetables) :

हरी सब्जियों में कई लाभकारी तत्व होते हैं। जो शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। हरी सब्जियों को खाने से आंखों को लाभ पहुंचता है, और आंखों की रोशनी सही बनी रहती है। आंखों की रोशनी कम होने पर विभिन्न प्रकार की हरी सब्जियों को खाने से रोशनी को बढ़ाया जा सकता है।

मुलेठी चूर्ण (Liquorice Powder) :

मुलेठी के चूर्ण को एक ग्लास दूध के साथ तथा उसमें स्वादानुसार शहद डाल कर उपयोग में लेना चाहिए।

गुलाब जल (Rose Water)-

गुलाब जल आंखों को ठंडक देने का कार्य करता है। इसे आंखों में डालने से आंखों की रोशनी बनी रहती है। हफ्ते में दो बार गुलाब जल जरूर डालना चाहिए।

त्रिफला का उपयोग (Use of Triphala) :

01 चम्मच त्रिफला चूर्ण को 01 गिलास पानी में डाल कर रात भर रखें। दूसरे दिन सुबह उस पानी को छान लें, और उस पानी से अपनी आँखे धोलें। 01 महीने तक ऐसा करने से असर दिखाई देता है। जिससे उचित परिणाम मिलता है।

आंवला (Amla) :

आंवला में Vitamin C (विटामिन सी) पाया जाता है। जो आँखों के लिए अच्छा होता है। हम आंवला का किसी भी रूप इस्तेमाल कर सकते हैं, जैसे आमला को ऐसे ही खा सकते हैं, चूर्ण, जैम, मुर्रबा, दवाई, रस भी ले सकते है। आंवला हमारे बालों, नाखूनों, और आँख के लिए बहुत अच्छा होता है। आंवला के प्रयोग से रोग अवरोधक क्षमता बढ़ती है।

सरसों का तेल (Mustard Oil) :

सरसों के तेल को रोज रात को सोने से पहले पैरों के नीचे लगाने से और कुछ देर तक पैरों की मालिश करने से आँखों पर प्रभाव पड़ता है।

फलों का उपयोग (Use of Fruits) :

अंगूर, संतरा और पपीता आंखों के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

बादाम, मिश्री और सौंफ (Almonds, Sugar Candy and Fennel) :

यदि प्रतिदिन सौंफ, बादाम और मिश्री से बने हुए चूर्ण का इस्तेमाल करें, तो यह आखों के लिए फायदेमंद होता है।

बिलबेरी (Bilberry) :

बिलबेरी फल Antioxidants (एंटीऑक्सीडेंट) का कार्य करता है, और यह शरीर में रक्त के प्रवाह को ठीक रखता है। इसके प्रयोग से रेटिना पर अच्छा प्रभाव पड़ता है, तथा इससे कम रोशनी की समस्या को भी दूर किया जा सकता है।

काली मिर्च (Black Pepper) :

काली मिर्च आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए कारगर साबित होती है।

सूखे मेवे (Dry Fruits) :

dry fruits (सूखे मेवे) शरीर के लिए काफी अच्छे होते हैं। इनका सेवन करने से आंखों पर अच्छा प्रभाव पड़ता है।

पालक का रस/सूप (Spinach Juice/Soup) :

पालक के रस को पिने से आँखों की रौशनी अच्छी होती है। इसका उपयोग हफ्ते में तीन बार जरूर करना चाहिए।

मछली (fish) :

मछली खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है, क्योंकि मछली में मौजूद Vitamin (विटामिन) आंखों के लिए लाभ दायक होते हैं।

चश्मा हटाने के लिए व्यायाम (Exercise to Remove Glasses in Hindi) :

आंखों पर हाथ रखना (Lay Hands on Eyes) :

हाथों को आपस में रगड़ें जैसे ही हाथ गर्म होने लगे, तो अपनी आंखें बंद कर उन्हें अपनी आंखों पर रख लें। इस क्रिया को पांच मिनट तक करते रहना चाहिए। यह व्यायाम करने से आंखों को आराम मिलता है।

पलक झपकाना (To Blink Eyes) :

Computer (कंप्यूटर) और TV (टी.वी) का अधिक उपयोग करने से आखें प्रभावित होती है। उसके लिए पलक झपकाने का व्यायाम करना चाहिए। इस व्यायाम को करने के लिए अपनी आंखों को जल्दी से बंद करना होगा और फिर जल्दी से खोलना होगा, यह व्यायाम कम से कम 02 मिनट तक जरूर करना चाहिए।

आंखों की मालिश (Massage Eyes) :

हल्के हाथों से मालिश करने से आंखों को आराम मिलता है। इससे आँखों की रोशनी को भी बढ़ाया जा सकता है। आंखों की मालिश के लिए आंखों को बंद करें, और हाथों की मदद से आँखों मालिश करें, हालांकि मालिश करते समय आंखों को जोर से नहीं दबाना चाहिए।

चारों दिशा में आँखों को घूमाए (Turn Eyes in All Directions) :

आंखों से पहले ऊपर की ओर देखें और फिर धीरे-धीरे उन्हें नीचे की ओर लाएं उसी तरह आंखों से पहले बायीं ओर देखें और फिर धीरे-धीरे उन्हें दायीं ओर ले जाएं। यह व्यायाम कम से कम 03 मिनट तक करें।

यह भी पढ़े :

आंखों का ध्यान रखने से जुड़ी अन्य बातें (Other Things Related to Taking Care of Eyes in Hindi) :

प्रतिदिन अपनी आंखों को कम से कम 02 बार ठंडे पानी से साफ करनी चाहिए। ऐसा करने से आँखोंको राहत मिलती है और आँखों पर जोर नहीं पड़ता है।