Categories: Uncategorized
| On 3 weeks ago

परीक्षा में ज्यादा नंबर कैसे लाये? बोर्ड मेरिट में आने के 8 सरल तरीके।

ज्यादा नम्बर लाने के लिए पढ़ाई के साथ ही एक स्ट्रेटेजी दिमाग मे लानी होगी। आप सिर्फ पढ़ाई करके ज्यादा नम्बर नही ला सकते इसलिए आपको बहुत सारी बाते समझनी होगी। सबसे पहले आपको कॉम्पिटीशन, आपकी डिलीवरी, आपके एग्जामिनर पर फोकस होना पड़ेगा। नीचे दिए गए 7 सरल तरीके बताएँगे आपको की बोर्ड परीक्षा में ज्यादा नंबर कैसे लाये जाते है

Contents [hide]

It's very easy to achieve maximum marks in board exams but you have to follow your strategy with sincere educational efforts. Be ready to follow. आप शुरू कीजिए इन प्रयासों को तथा चमत्कार देखिए।

परीक्षा में अपने कॉम्पिटिशन को समझे।Understand the Competition in Exam

  • कॉम्पिटिशन के बारे में लोग बहुत कम सोचते है इसलिए सबसे ज्यादा नम्बर नही ला पाते है। अगर आप कभी आईएएस एग्जाम के बारेमे सोचेंगे तथा विचार बना लेंगे की यह बहुत बड़ा कॉम्पिटीशन है व आप इसको पास नही कर सकेंगे।
  • यहीं ना? पर आप गलत है क्योंकि आईएएस का फॉर्म 10 लाख से ज्यादा बेरोजगार भरते है लेकिन इसके फाइनल एग्जाम को सिर्फ 90 हजार गई देते है तथा साक्षात्कार में सिर्फ 5 हजार ही पहुचते हैं। ऐसे क्यूँ?
  • लोग फॉर्म भर के भूल जाते है कि उन्होंने कोई फॉर्म भर है। जब उनको प्रवेश पत्र मिलता है तो कई किताबें खरीदने जाते है व दुर्भाग्य है कि इस बीच कई काम आ हॉट
    है इससे भी बुरी बात है कि एग्जाम की डेट को उनकों एग्जाम सेंटर तक जाने का समय या साधन नही मिलता है।
  • आप फॉर्म भरने से पहले किताब खरीदने जाओ। फॉर्म भरते ही सेंटर कहा आना है तथा वहा तुरंत कैसे जाना है यह सोच लो। साक्षात्कार से बहुत पहले उस दिन पहनने वाले कपड़े डिसाइड करके खरीद लो तथा उनको आलमारी में सबसे ऊपर रख लो। फिर बताना की कैसे आपका सलेक्शन नही हुआ। ये बेसिक बाते है जो कक्षा 10 की परीक्षा में भी काम आजायेगी। यह गारण्टी हैं।

The correct way to give answers | उत्तर देने का तरीका

एग्जाम देना एक कला है। आपको अपना बेस्ट डिलीवर करना है। इसके लिए आपको बहुत तैयारी करनी ही पड़ेगी।

Physical Preparation before exam | परीक्षा से पूर्व आपकी भौतिक तैयारी

आपको एग्जाम देने से पहले अपना प्रवेश पत्र, आइडेंटिटी कार्ड, दो फोटो, अच्छे पेन, मास्क, सेनेटाइजर इत्यादि कम से कम दिन पहले ok करने ही पड़ेंगे। आपको एग्जाम सेंटर पर डेढ़ घण्टे पहले पहुँचना ही पड़ेगा। खुद को सुव्यवस्थित रखकर वेल ड्रेसअप होकर परीक्षा केंद्र पर पहुँचना सुनिश्चित करना होगा।

Mental Preparation before Exam | परीक्षा से पूर्व आपकी मानसिक तैयारी

परीक्षा आरंभ है समापन नही। आप को यह मानकर चलना होगा कि आपने अपनी क्षमता के अनुसार तैयारी की है एवम बेस्ट रिजल्ट मिलेगा लेकिन असफल हो गए तो कोई बात नही। अगर आप यह भाव लेकर परीक्षा देने जाते है तो ही अच्छे परिणाम मिलेंगे। अगर आप भी भय लेकर जाओगे तो मान कर चलिए की नम्बर कम आने हैं।

Spritual Preparation before Exam | परीक्षा से पूर्व आध्यात्मिक तैयारी

भगवान है तथा वह ही प्रथम व अंतिम सत्य है। ऐसा मानकर ही परीक्षा कक्ष में प्रवेश करें। अपना सर्वश्रेष्ठ उसी पर छोड़ देवे। देखिए, आप लाभ में ही Preparation विश्वास से ही खेती पकती है तथा विश्वास से ही युद्ध जीते जाते हैं। प्रभु पर विश्वास करके ही आप किसी भी ही परीक्षा को पास कर सकते हो और वह भी अव्वल नम्बर लेकर।

पढ़िए परीक्षक का दिमाग परीक्षा से पहले | Read the mind of Examiner

वर्तमान समय की यह सबसे बडी कमी है कि परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न आते है जिसमे ऐ, बी,सी व डी चयन करना है। यह उचित नही है क्योंकि इससे परीक्षार्थियों की रचनात्मक क्षमता नही जाँची जाती। इस प्रकार के प्रश्न पत्रों के हल में सिर्फ किया गया अध्ययन काम मे आएगा लेकिन यदि आपको सामान्य परीक्षा में भाग लेना है जिसमे सभी प्रकार के प्रश्न है तो निम्नलिखित टिप्स काम के हैं।

उत्तरपुस्तिका की स्वच्छता महत्वपूर्ण हैं | Make Answer Sheet Presentable & Clean

आप प्रश्नों के उत्तर बहुत स्वच्छता से लिखे। आपका हस्तलेख सुंदर हो तथा अनावश्यक कांट छाट कॉपी में बिल्कुल भी नही करें। कोई बात गलत लिख दी जाए तो उस पर एक लाइन डालकर उसे काँटे।

आप उत्तर सही तरीके से लिखिये | Right your Answer in Correct Manner

प्रश्न का उत्तर लिखने से पहले उसकी शब्द सीमा देखे। परीक्षक क्या पूछ रहा हैं? यह समझगे। यदि आप प्रश्न को आधा समझकर उत्तर देंगे तो पूरे नम्बर कौन देगा? आप प्रश्न समझे। कई बार प्रश्न में किसी वस्तु की विशेषता पूछी जाती है एवम परीक्षाथियों द्वारा महत्व बताया जाता हैं। इसी प्रकार की अनेक गलती सम्भव है अतः आप पहले प्रश्न को पूरा समझे।

एजुकेशनल एक्सपर्ट परिक्ष को लेकर क्या कहते हैं? Experts Opinions for Exam

पढ़ाई के साथ-साथ खेल जैसी अन्य गतिविधियों का संतुलन आपको अधिकतम अंक हासिल करने में सहयोग करता हैं।यहाँ कुछ सुझाव दिए गए हैं जिनका आप अनुसरण कर सकते है।

समय प्रबंधन कीजिये | Manage Your time before Exam

आपको सभी विषयों के लिए समान रूप से समय विनियोग करना चाहिए। किसी एक विषय मे 100% नम्बर लाकर भी आप परीक्षा में असफल हो सकते हैं।

जिज्ञासा शमन तुरंत हो | Quick findings of Curiosity Regarding Solution

अपने पाठ्यक्रम या किसी भी प्रश्न के लिए अपनी जिज्ञासा को कल पर मत छोड़ो। उसको आज ही हल करो क्योंकि कल कोई दूसरी जिम्मेदारी आ सकती हैं।

सेंपल पेपर का अभ्यास जारी रखे | Practice is Necessary of Practice and Sample Paper

  • विद्यार्थियों द्वारा यही सोचा जाता हैं कि पहले सिलेबस पूरा हो जाए उसके बाद सैंपल पेपर करना शुरू कर देंगे, लेकिन यह गलत हैं।
  • यह मानव प्रवृत्ति है, जब तक हम पर कोई दबाव नहीं होगा हमउस काम को नहीं करेंगे अतः दबाब लेवे। सेंपल पेपर हल करें व अपना आकलन करें।
  • अपना समय केवल सीखने में इन्वेस्ट न करें बल्कि सैंपल पेपर को बराबर सॉल्व करते चले।
  • सेम्पल पेपर का अभ्यास ही यह बताएगा कि आपका कौन सा चेप्टर कमजोर हैं ताकि आप उस चेप्टर पर अधिक जोर दे सकें।
  • यह भी बताएगा कि आपसे क्या अपेक्षा की जाती है और आपको यह भी पता चल जाएगा कि किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं।