जननी सुरक्षा योजना (Janani Suraksha Yojana in Hindi)

जननी सुरक्षा योजना का आरंभ हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किया गया है। जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत देश की गर्भवती महिलाओं को सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से देश की गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशुओं की स्थिति में सुधार आएगा। इस योजना का लाभ केवल गरीब परिवार से आने वाली महिलाएं ही उठा सकती हैं।

  • ग्रामीण क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं:- जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत वह सभी महिलाएं जो गर्भवती हैं और गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line) जीवन यापन करती हैं उन्हें भारत सरकार के द्वारा ₹1400 की आर्थिक सहायता प्रदान करि जाएगी। इसके अलावा आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए ₹300 प्रदान करे जाएंगे और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए ₹300 रुपये प्रदान करे जाएंगे।
  • शहरी क्षेत्रों की गर्भवती महिलाएं:- Janani Suraksha Yojana के अंतर्गत सभी गर्भवती महिलाओं को प्रसव के समय पर ₹1000 की आर्थिक सहायता प्रदान करि जाएगी। इसके अलावा और आशा सहयोगी को प्रसव प्रोत्साहन के लिए ₹200 प्रदान किये जाएंगे और प्रसव के बाद सेवा प्रदान करने के लिए ₹200 प्रदान किये जाएंगे।

जननी सुरक्षा योजना के प्रमुख उद्देश्य (Main Objectives of Janani Suraksha Yojana) :

  • महिलाओ को सुरक्षा प्रधान करना
  • शिशु मृत्य दर में कमी लाना
  • गरीब महिलाओ का जीवन स्तर को बेहतर करना
  • प्रसव के बाद माता और उसकी संतान की देख रेख अच्छे से हो सके
  • माता को कोई परेशानी ना हो बच्चे की डिलीवरी करने में

जननी सुरक्षा योजना की विशेषताएं (Features of Janani Suraksha Yojana in Hindi) :

  • योजना को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू की गई है, लेकिन मुख्य लक्ष्य निम्न प्रदर्शन करने वाले राज्यों जैसे बिहार, उड़ीसा, राजस्थान, झारखंड, एमपी, यूपी, जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़ आदि का विकास करना है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए पंजीकृत प्रत्येक लाभार्थी के पास एमसीएच कार्ड के साथ-साथ जननी सुरक्षा योजना कार्ड भी होना अनिवार्य है।
  • योजना 100% केंद्र प्रायोजित योजना है और जिसका लक्ष्य नकद सहायता को एकीकृत करता है ।
  • इस योजना ने ASHA को मान्यता प्राप्त सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में पहचान की है ।
  • जो गर्भवती महिलाये आंगनवाड़ी या आशा के चिकित्सकों की सहायता से घर पर बच्चे को जन्म देती है । इन उम्मीदवारों 500 रुपये की राशि मिलेगी।
  • बच्चे की नि:शुल्क डिलीवरी के बाद पांच साल तक जच्चा-बच्चा के टीकाकरण को लेकर उन्हें जानकारी भेजी जाती है और नि:शुल्क टीकाकरण किया जाता है|
  • जननी सुरक्षा योजना 2021 के तहत पंजीकरण कराने वाली सभी महिलाओं को कम से कम दो प्रसव-पूर्व जाँच, बिल्कुल मुफ्त दी जाएँगी। इसके अलावा, आशा और आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भी संबंधित सेवाओं के साथ डिलीवरी के बाद की अवधि में उनकी सहायता की जाएगी ।

यह भी पढ़े :

जननी सुरक्षा योजना के लिए योग्यता मानदंड (Eligibility Criteria of Janani Suraksha Yojana in Hindi) :

  • योजना का लाभ देश के ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रो की गर्भवती महिलाये अपना पंजीकरण करवा सकती है ।
  • योजना का लाभ गर्भवती महिलाओ को तभी मिलेगा जब महिला 19 वर्ष या उससे अधिक आयु की हों।
  • योजना का लाभ लेने के लिए महिलाओ को केवल सरकारी अस्पतालों या किसी निजी संस्थान में जाना होगा जो सरकार द्वारा चुनी गई है।
  • यदि गर्भवती महिला मृत बच्चे को जन्म देती है, तो समय से पहले या बीच में जीवित बच्चों को जन्म देना वैध मामलों के रूप में माना जाएगा। कार्यक्रम के तहत वादे के अनुसार महिलाओं को पैसे दिए जाएंगे।
  • इस योजना के तहत देश की गरीबी रेखा से नीचे आने वाली (Below Poverty Line) महिलाओ को लाभ प्रदान किया जायेगा ।

जननी सुरक्षा योजना में आवेदन के लिए के आवश्यक दस्तावेज (Required Documents of Janani Suraksha Yojana in Hindi) :

  • आवेदिका का आधार कार्ड
  • Bpl Ration Card
  • पते का सबूत
  • निवास प्रमाण पत्र
  • Janani Suraksha Card
  • सरकारी अस्पताल द्वारा जारी डिलीवरी सर्टिफिकेट
  • Bank Account Passbook
  • मोबाइल नंबर
  • Passport Size Photo

निष्कर्ष :

स्वास्थ्य केंद्र में प्रजनन कराने से माता के साथ-साथ बच्चे को भी सुरक्षा प्रधान होती है । जननी सुरक्षा योजना के अंदर गर्बवती महिलाओ को धन राशि नकद (कैश ) में प्रधान की जाती है
वहीं जननी सुरक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं तथा रूग्‍ण नवजात शिशुओं पर कम खर्च करना पड़ता है।जननी सुरक्षा योजना कार्यक्रम की शुरुआत करने से सभी गर्भवती महिलाओं को सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों में प्रजनन कराने में प्रोत्‍साहन मिलेगा। रूग्‍ण नवजात शिशुओं का मुफ्त इलाज किये जाने से नवजात शिशुओं की

मृत्‍यु दर घटाने में सहायता मिलेगी। इस कार्यक्रम से माता एवं नवजात शिशुओं की की मृत्यु दर में काफी कमी आएगी

जननी सुरक्षा योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया (Procedure to apply for Janani Suraksha Yojana in Hindi) :

Janani Suraksha Yojana का लाभ लेने के लिए आवेदनकर्ता को सबसे पहले Ministry of Health and Family Welfare, Government of India की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर जननी सुरक्षा योजना की Application Form PDF Download करना होगा । आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के पश्चात आवेदनकर्ता को उस फॉर्म में अपना नाम ,विलेज नाम ,पता ,आदि जानकारी भरनी होगी । सारी जानकारी देने के पश्चात आपको आवेदन फॉर्म के साथ अपने सभी दस्तावेज़ों को अटैच करना होगा और फिर आवेदन फॉर्म को आंगनवाड़ी या महिला स्वास्थ्य केंद्र में जाकर जमा करना होगा। इस तरीके से Janani Suraksha Yojana में आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण होगी