Categories: Astrology

ज्योतिष में कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा (Moon in 7th House for Aquarius Ascendant in Astrology in Hindi)

कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा सिंह राशि में है और जातक के लिए विलासिता, धन, स्वीकृति, उपलब्धियों, शक्ति, प्रतिष्ठा और प्रसिद्धि का प्रतिनिधित्व करता है।

कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा

कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा के लक्षण :

  • कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा का जातक अपनी उपलब्धियों को स्वीकार करने के लिए दूसरों की मान्यता और प्रशंसा की इच्छा रखेगा।
  • जातक के काम, व्यक्तित्व और दूसरों के विचारों की सराहना और प्रशंसा जातक को समझदार और आत्मविश्वासी बनाए रखेगी।
  • जातक अपने साथी पर बड़े-बड़े आलीशान उपहारों और उपहारों के साथ जमकर खर्च करना चाहता है।
  • जातक एक बड़े संगठन का हिस्सा बनने की इच्छा रखता है, लेकिन वह अपने भावनात्मक स्वभाव के कारण वहां दुश्मन पैदा करेगा।
  • जातक शत्रुओं को आकर्षित करेगा जो जातक के साथ मानसिक खेल और युद्ध करेंगे।
  • कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा यह दर्शाता है कि जातक और उसके साथी के बीच एक मजबूत अंतरंग बंधन होगा।
  • जातक अपनी शादी के बाद दिन के मध्य में सोना और बिस्तर से नियमित कार्य करना पसंद करेगा।
  • जातक की पत्नी शादी के बाद कर्ज में डूब सकती है, खासकर विलासिता की भूख के लिए।
  • जातक का अपने जीवनसाथी के साथ अनावश्यक ऋण और ऋण के लिए मानसिक झगड़े होंगे।
  • जातक का प्रारंभिक बचपन में स्वास्थ्य और शरीर कमजोर हो सकता है, लेकिन 18 वर्ष की आयु के बाद वह स्वस्थ और स्वस्थ हो जाएगा।
  • रोमांटिक संबंधों में होने पर जातक को मानसिक संतुष्टि मिलेगी।
  • जातक अच्छे दिखने वाले और गतिशील लोगों को आकर्षित करेगा।
  • कुम्भ लग्न के लिए सातवें भाव में चन्द्रमा, गुरु के प्रभाव में होने से जातक का शीघ्र विवाह 18 या 19 वर्ष की आयु के आसपास हो सकता है।

कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा का शुभ फल :

  • कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चन्द्रमा के साथ जातक को सुन्दर पत्नी की प्राप्ति होती है।
  • जातक साहसी और परिश्रमी होता है।
  • जातक व्यवसाय में सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत करता है।
  • जातक शत्रुओं पर विजय प्राप्त करता है और विवादों से लाभ प्राप्त करता है।
  • जातक को दीर्घायु होने का लाभ मिलता है, और यह उसे प्रसन्नता का अनुभव करने के लिए प्रोत्साहित करता है।
  • जातक सुन्दर और स्वस्थ होता है, लेकिन भारी शारीरिक परिश्रम उसे जल्दी ही थका देता है।
  • जातक मनोबल का व्यक्ति होता है और समाज में मान-सम्मान प्राप्त करता है।

कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा का अशुभ फल :

  • जातक की पत्नी हमेशा बीमार रहती है।
  • जातक चिंतित रहता है और यौन सुख खो देता है।
  • जातक को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।
  • जातक का पारिवारिक जीवन अस्त-व्यस्त रहता है।

ज्योतिष में 7 वां भाव क्या दर्शाता है?

7 वां भाव विवाह, कानूनी साझेदारी (व्यावसायिक साझेदारी भी शामिल है) का प्रतीक है और व्यक्ति की प्रसिद्धि को नियंत्रित करता है क्योंकि यह पहले भाव के विपरीत है। इसमें कानूनी साथी के साथ यौन संबंध और यौन संबंध भी शामिल हैं। यह भी है मृत्यु दायक भाव (मरका हाउस)

शारीरिक रूप से, पेट का निचला हिस्सा छोटी आंतों

के बाद कतार में होता है। इसमें बड़ी आंत और गुर्दे शामिल हैं, और 7 वां भाव इन पर शासन करता है। तुला राशि सातवें भाव से मेल खाती है।

वैदिक ज्योतिष में चंद्रमा क्या दर्शाता है?

  • ज्योतिष में चंद्रमा आपकी मां, या मातृ आकृति, आपके पर्यावरण के प्रति आपकी भावनात्मक प्रतिक्रिया और आपकी कल्पना का प्रतिनिधित्व करता है क्योंकि चंद्रमा आपका दिमाग है।
  • चंद्रमा व्यक्ति के सोचने और स्थिति पर प्रतिक्रिया करने का तरीका दिखाता है।
  • ज्योतिष में आपकी कुंडली या जन्म कुंडली में एक अच्छा चंद्रमा निम्नलिखित चीजों को लाभकारी या शुभ बना देगा, अर्थात, आपकी मां और आपके मन के साथ आपके संबंध शांत होंगे और आप एक रचनात्मक व्यक्ति होंगे।
  • यदि आपकी कुंडली में चंद्रमा प्रतिकूल रूप से स्थित है, तो यह आपकी मां के साथ संबंध खराब कर सकता है।

ज्योतिष में कुंभ लग्न का क्या अर्थ है?

  • कुम्भ लग्न (लग्न) में जन्म लेने वाला जातक स्थिर, बातूनी, पानी का खूब सेवन करने वाला, चंचल-हृदय, अति-स्वामित्व वाला, मिलनसार और आकर्षक होता है।
  • जातक का शरीर तेजस्वी होता है।
  • जातक सभी को प्रिय होता है।
  • जातक धैर्यवान होता है और स्त्रियों के साथ सुखी रहता है,
  • जातक की गर्दन मोटी और सिर गंजा होता है।
  • जातक आसक्त, अहंकारी, ईर्ष्यालु, द्वेषपूर्ण और भाईचारा होता है।
  • जातक प्रारंभिक अवस्था में दुखी रहता है, अधेड़ अवस्था में सुख प्राप्त करता है और अंतिम अवस्था में धन, पुत्र, भूमि, घर आदि का सुख भोगता है।

अंग्रेजी में कुंभ लग्न के लिए सातवें भाव में चंद्रमा के बारे में ओर ज्यादा रोचक और विस्तारपूर्वक जानने के लिए, जाये : Moon in 7th House for Aquarius Ascendant

पाएं अपने जीवन की सटीक ज्योतिष भविष्यवाणी सिर्फ 99 रुपए में। ज्यादा जानने के लिए : यहाँ क्लिक करे