| On 3 days ago

NEP IN MP : मध्यप्रदेश में स्टूडेंट्स पढ़ेंगे रामायण व महाभारत

NEP IN MP : देश के राज्य मध्यप्रदेश में अब BA प्रथम वर्ष के छात्र भगवान श्री राम के बारे में पढ़ेंगे। मध्यप्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग ने 'रामचरितमानस का व्यावहारिक दर्शन' नाम से एक पाठ्यक्रम तैयार किया है। यह 100 अंकों का पेपर रहेगा। इसे दर्शन शास्त्र सब्जेक्ट में रखा गया है। हालाँकि यह सभी के लिए अनिवार्य न होकर वैकल्पिक ही रहेगा। इस विषय को हिंदी और दर्शन शास्त्र के प्रोफेसर स्टूडेंट्स को पढ़ाएंगे। मतलब जहां सिर्फ हिंदी के प्रोफेसर हैं, तो वहां हिंदी के प्रोफेसर एवं जहां दर्शन शास्त्र के प्रोफेसर हैं, वहां यही प्रोफेसर यह विषय पढ़ाएंगे। इसे इसी वर्ष यानी 2021-2022 में शामिल किया गया है। इसका मतलब इसी वर्ष से स्टूडेंट्स को यह पढ़ाया जाएगा।

NEP IN MP Latest News : नई शिक्षा निति के तहत यह पाठ्यक्रम हुआ शामिल

NEP IN MP : दरअसल देश में नई शिक्षा नीति, 2020 (New Education Policy) के तहत अब मध्य प्रदेश के कॉलेजों (MP colleges) में स्नातक प्रथम वर्ष के स्टूडेंट्स के पास योग एवं ध्यान (Yoga and Meditation) के अलावा महाभारत (Mahabharata), रामचरितमानस (Ramcharitmanas) जैसे महाकाव्य भी उनके नए कोर्स का हिस्सा होंगे । इस नए कोर्स के अनुसार इस शैक्षणिक सत्र से इसे प्रभावी बनांने के लिए एप्लाइड फिलॉसफी ऑफ श्री रामचरितमानस को वैकल्पिक विषय के रूप में प्रस्तुत किया गया है।

NEP IN MP 2021 की नीति में यह भी

NEP IN MP Hindi News : नई शिक्षा नीति 2020 में मध्य प्रदेश के कॉलेजों में बीए फर्स्ट ईयर के नए कोर्स शामिल किए गए हैं। जिसमे महाभारत, रामचरितमानस, योग और ध्यान शामिल हैं। इसके मुताबिक, श्री रामचरितमानस अप्लाइड फिलॉसफी को वैकल्पिक विषय के तौर पर रखा

गया है। इसके साथ ही अब कला वर्ग में उर्दू गजल, उर्दू जबान एवं मुख्तलिर्फ असनाफ भी पढ़ाई जाएगी।

यह भी पढ़ें

Tamil Nadu Scrap NEET : तमिलनाडु में NEET को रद्द करने का प्रस्ताव किया पास, अब 12वीं के अंकों के आधार पर मिलेगा प्रवेश
USA Pak News : अब अमेरिका ने पाकिस्तान पर लगाया यह आरोप
Covid Vaccine News : अब भारत के इस टीके को जल्द मिल सकती है WHO की मान्यता
Congress Manifesto : राजस्थान में अल्पसंख्यको से किए वादे अभी तक अधूरे
Covid Death Guidelines : सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद अब सरकार ने कोरोना से मौत को लेकर जारी की गाइडलाइन
Panchayati Raj Election : अब दिल्ली पहुंचा जिला परिषद चुनाव में क्रॉस वोटिंग का मामला
CM Gehlot Claimed : 2023 में फिर से बनेगी कांग्रेस सरकार
College Education News : कॉलेजों में नहीं है गुरु, भारत कैसे बनेगा विश्व गुरु
International News : पाकिस्तान को भारत के मुद्दे पर लगा जोर का झटका
Taliban China News : अब चीन के पैसों पर पलेगा अफगानिस्तान
Google Strike : तालिबान को गूगल ने दिया झटका, पूर्व अफगान सरकार के ई-मेल अकाउंट्स किए लॉक
Nepal Warns On Anti-India Protests : भारत के खिलाफ किया प्रदर्शन तो होगी
Girls Entry In NDA : अब बेटियां भी दिखाएगी NDA में शौर्य
Rural Olympics Rajasthan : खेल का है शौक तो यहां मिल रहा है उमीदों का मंच
India's MasterStrock On Taliban : भारत के इस कदम से चीन, पाकिस्तान में मची खलबली

NEP IN MP News Hindi : इसके साथ ही अग्रेजी के फाउंडेशन कोर्स में प्रथम वर्ष के छात्रों को सी राजगोलाचारी की महाभारत की प्रस्तावना की पढ़ाई करवाई जाएगी। मध्यप्रदेश राज्य के शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अग्रेजी, हिंदी, योग एवं ध्यान के साथ तीसरा फाउंडेशन

कोर्स भी प्रस्तुत किया गया है। इसमें OM ध्यान और मंत्रों का उच्चारण भी शामिल है

इन विषयों को पढ़ने के उद्देश्य

NEP IN MP : मध्यप्रदेश सरकार के जारी आदेश केअनुसार विषय का मुख्य उद्देश्य है पढ़ाई के बाद स्टूडेंट्स के व्यक्तित्व विकास के विभिन्न आयामों पर केंद्रित होकर एक संतुलित नेतृत्व क्षमता व मानवतावादी दृष्टिकोण को विकसित करने में योग्य बनाना है। स्टूडेंट्स उन जीवन मूल्यों को भी जान सकें, जिसकी आज समाज में जरूरत है। स्टूडेंट्स तनाव प्रबंधन एवं व्यक्तित्व विकास के क्षेत्र में एक प्रेरक कुशल वक्ता बन सके।