Categories: Paymanager
| On 6 months ago

Pay Manager and It's Basic Informations

पेमेनेजर की आरम्भिक जानकारी

पेमेनेजर प्रत्येक राजकीय कार्यालय द्वारा उपयोग में लाया जाता है लेकिन अधिकांश कर्मचारी इस पर कार्य करने का तरीका नही जानते है। आइये, पेमेनेजर की आरंभिक जानकारी प्राप्त करते है-

यदि राजस्थान में काम कर रहे किसी भी सरकारी कर्मचारी को उनके वेतन ( Salary ) को लेकर कोई भी परेशानी होती है तो Pay Manager (पे-मैनेजर) उनके लिए एक बहुत ही अच्छा और उपयोगी साधन है।
अगर आप भी राजस्थान में काम कर रहे एक सरकारी कर्मचारी हैं तो आपको Pay Manager के बारे में ज़रूर जानना चाहिए क्योंकि इससे आपकी सैलरी से सम्बंधित हर परेशानी दूर हो सकती है।

और अगर आपको Pay Manager (पे-मैनेजर) के बारे में कुछ नहीं पता या आपको इसका उपयोग करना नहीं आता तो आपके लिए यह आर्टिकल बहुत ही उपयोगी होने वाला है, तो आपसे निवेदन है कि इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें क्योंकि इस आर्टिकल में हमने पेमेनेजर की चर्चा की है जो राजस्थान सरकार में काम कर रहे कर्मचारियों के लिए बनाई गई एक वेबसाइट है जिससे उनकी सैलरी (Salary) से सम्बंधित हर परेशानी हल हो जाएगी।

पेमेनेजर क्या होता है?

पेमेनेजर वेतन बिल इत्यादि तैयार करने की प्रणाली है। यह राजस्थान राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए है। यह कर्मचारियों के वेतन बिल तैयार करने के लिए सामान्य और एकीकृत सॉफ्टवेयर एवम वेबसाइट है। पेमेनेजर सॉफ्टवेयर न केवल पे बिल तैयार करने की सुविधा प्रदान करता है बल्कि डीए एरियर, बोनस, एरियर और लीव इनकैशमेंट बिल की भी तैयारी करता है।

  • Pay Manager (पे-मैनेजर) का उपयोग salary slip प्राप्त करने व सैलरी (Salary) से जुड़ी हर एक जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है ।
  • PayManager की प्रक्रिया को राजस्थान की सरकार ने लगभग 2011 में शुरू किया था जो की अब काफ़ी सफल दिखाई दे रही है और इसने लोगो को जो कि सरकारी विभाग के कर्मचारियों की समस्याओं का निदान किया है ।
  • राजस्थान सरकार के लगभग ज़्यादातर विभागों को इसमें जोड़ा/शामिल किया जा चुका है । राजस्थान के लगभग सभी सरकारी कर्मचारियों को उनका वेतन व उनके बाकी बिल Pay Manager के द्वारा ही दिया जाता है ।

पेमेनेजर पर कार्य करने के लिए कौन अधिकृत है?

पेमेनेजर पर कार्य करने के लिए कार्यालय कार्य मे निपुण कनिष्ठ सहायक ,वरिष्ठ सहायक व आहरण वितरण अधिकारी जिन्हें इस कार्य हेतु योग्य समझे व जो विश्वासी हो उसे ये जिम्मेदारी नियमानुसार सुपुर्द की जा सकती है।

पेमेनेजर पर क्या क्या कार्य होते है?

पेमेनेजर पर सभी कर्मचारियों का मास्टर डाटा सुरक्षित होता है। इस पर वेतन से जुड़े सब्बि कार्यो का प्रबंधन भी होता है।
मुख्य रूप से वेतन व भत्तों का आहरण, आहरण वितरण से संबंधित सूचनाओं को स्टोर करने के साथ साथ जरूरत पड़ने पर प्राप्त करना। सैलरी स्लिप, GA55 ,सैलरी बिल  आदि मुख्य कार्यो का प्रबंधन इस पर होता है।
जैसा कि आप जानते हैं मित्रों PayManager राज्य सरकार का एक ऐसा Software है जहां कर्मचारियों के Salary बिलों को तैयार किया जाता है यह न केवल वेतन बिलों अपितु D.A., Arrears, बोनस, अवकाश नकदीकरण एवं विभिन्न प्रकार के यात्रा व्यय के बिल तैयार करने की सुविधा भी प्रदान करता है। PayManager पर कर्मचारी से संबंधित संपूर्ण जानकारी होती है कर्मचारी के Bank Account की डीटेल्स, आधार, मोबाइल

नंबर आदि उसमें रजिस्टर्ड होते हैं आज की इस पोस्ट में हम PayManager login details update करने के बारे में जा इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप आसानी से PayManager पर login करके आपके मोबाइल नंबर, ईमेल एड्रेस तथा अन्य details आसानी से update कर सकते हैं।

पेमेनेजर पर कार्य करने हेतु क्या skills होनी चाहिए?

पेमेनेजर में रुचि के साथ साथ कंप्यूटर संचालन की सामान्य जानकारी व पेमेनेजर की शब्दावली का व इसके उपयोग की प्रारंभिक जानकारी होना अति आवश्यक है।
अंग्रेजी का भी सामान्य ज्ञान इसमे फायदेमंद होता है।

पेमेनेजर पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया क्या है?

सर्वप्रथम संस्था या कार्यलय को ddo कोड हेतु आवेदन कर अपना ddo रजिस्ट्रेशन करवाना होता है। फिर उन्हें पेमेनेजर हेतु ddo को आईडी व पासवर्ड जारी किए जाते है वे अपने अधीनस्थ कर्मचारियों की प्रविष्टि कर इस पर वेतन प्रबंधन का कार्य प्रारंभिक समझ के बाद आसानी से कर सकते है।
कार्मिक का डेटा पेमेनेजर पर ऐड होने के पश्चात वह अपनी लोगिन आई डी व पासवर्ड के माध्यम से लॉगिन कर इस्तेमाल कर सकते है।

पेमेनेजर पर कार्य करने की पाबंदी/मनाही क्या है?

पेमेनेजर का इस्तेमाल करने वालो को कुछ जरूरी सावधानी या पाबंदी रखने की भी आवश्यकता है। इसके आई डी व पासवर्ड किसी से सांझा न करे। सूचनाओं की सही सही प्रविष्टि करे। ddo द्वारा डिजिटल सिग्नेचर से पूर्व बिलों के आंकड़ों व सूचनाओं का वेरिफिकेशन जरूरी। गैर जिम्मेदार व लापरवाह लोग इसके इस्तेमाल से बचे वर्ना स्वयं के साथ साथ औरो पर भी संकट आ सकता है

पेमेनेजर का लिंक

http://paymanager.raj.nic.in/

विशेष निवेदन

पेमेनेजर पर उपरोक्त आलेख का निर्माण श्री लोकेश कुमार जी जैन , व्याख्याता, उदयपुर ने किया है। अब आपको नियमित रूप से पेमेनेजर पर कार्य करने हेतु उचित जानकारी उपलब्ध करवाई जाएगी।