प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana in Hindi)

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना : भारत सरकार द्वारा 4 मई 2017 को देश के वरिष्ठ नागरिकों के लिए प्रधानमंत्री वय वंदना योजना शुरू की गई है। यह एक पेंशन योजना है। इस योजना के तहत, 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिक जो मासिक पेंशन का विकल्प चुनते हैं, उन्हें 10 वर्षों के लिए 8% ब्याज मिलेगा। अगर वे सालाना पेंशन का विकल्प चुनते हैं तो उन्हें 10 साल के लिए 8.3 फीसदी ब्याज मिलेगा। | प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को उनके निवेश पर अच्छा ब्याज मिलेगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana in Hindi) :

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना यह योजना एक सामाजिक सुरक्षा योजना और पेंशन योजना है, यह योजना भारत सरकार की है लेकिन एलआईसी द्वारा चलाई जा रही है। इस योजना के तहत निवेश करने की अधिकतम सीमा पहले साढ़े सात लाख थी, जिसे अब बढ़ाकर 15 लाख रुपये कर दिया गया है, साथ ही इस PMVVY योजना 2022 में निवेश करने की समय सीमा पहले 3 मई 2018 थी जिसे बढ़ाकर 31 मार्च कर दिया गया था. 2020 दिया गया है

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2022 आवेदन पत्र (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana 2022 Application Form in Hindi) :

पेंशन की पहली किस्त 1 साल, 6 महीने, 3 महीने, 1 महीने के बाद मिलेगी, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कौन सा विकल्प चुनते हैं, देश के इच्छुक लाभार्थी जो इस PMVVY योजना 2022 के तहत आवेदन करना चाहते हैं। वह इसे ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से कर सकता है और पॉलिसी खरीद सकता है। ऑनलाइन आवेदन आप एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण कर पॉलिसी खरीद सकते हैं और एलआईसी की शाखा में जाकर ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं और पीएम वय वंदना योजना 2022 का लाभ उठा सकते हैं।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना खरीद मूल्य और पेंशन राशि (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana Purchase Price and Pension Amount in Hindi) :

पेंशन की बारीन्यूनतम खरीद मूल्यपेंशन राशिअधिकतम खरीद मूल्यपेंशन राशि
वार्षिक1566581200 प्रति वर्ष1449086111000 प्रति वर्ष
अर्धवार्षिक1595746000 अर्धवार्षिक147606455500 प्रति अर्धवार्षिक
त्रैमासिक1610743000 प्रति तिमाही148993327750 प्रति तिमाही
मासिक1621621000 प्रति माह15000009250 प्रति माह

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना की मुख्य विशेषताएं (Key Highlights of Pradhanmantri Vaya Vandana Yojana in Hindi) :

योजना प्रधानमंत्री वय वंदना योजना
प्रारंभभारतीय जीवन बीमा निगम
लाभार्थीभारत के नागरिक
उद्देश्यप्रधानमंत्री वय वंदना योजना के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटक्लिक करें
वर्ष2022

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के कर लाभ (Tax Benefits of Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana in Hindi) :

  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना कोई टैक्स सेविंग स्कीम नहीं है।
  • यह योजना एक निवेश योजना है।
  • 60 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिक 31 मार्च 2023 से पहले 1500000 रुपये तक निवेश कर सकते हैं।
  • नागरिकों को निवेश के आधार पर ₹1000 से ₹9250 प्रति माह की पेंशन प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से प्राप्त रिटर्न पर मौजूदा कर कानूनों और समय-समय पर लागू कर की दर के अनुसार कर लगाया जाता है।
  • इसके अलावा इस योजना को जीएसटी से छूट दी गई है।
  • सभी सामान्य बीमा पॉलिसियों में टॉम इंश्योरेंस पर 18% जीएसटी लगता है। लेकिन प्रधानमंत्री वय वंदना योजना पर जीएसटी नहीं लगता है।
  • इस योजना के तहत निवेश करने वाले नागरिक द्वारा आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कटौती का दावा नहीं किया जा सकता है।

यदि कोई पॉलिसीधारक प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के नियमों और

शर्तों से संतुष्ट नहीं है, तो वह पॉलिसी लेने के 15 दिनों के भीतर पॉलिसी वापस कर सकता है। यदि पॉलिसी ऑफलाइन खरीदी जाती है तो इसे 15 दिनों के भीतर वापस किया जा सकता है और यदि पॉलिसी ऑनलाइन खरीदी जाती है तो इसे 30 दिनों के भीतर वापस किया जा सकता है।

पॉलिसी वापस करते समय पॉलिसी वापस करने का कारण बताना भी अनिवार्य है। यदि पॉलिसी धारक पॉलिसी लौटाता है, तो उसे जमा की गई स्टांप ड्यूटी और पेंशन की राशि काटकर खरीद मूल्य वापस कर दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना की न्यूनतम और अधिकतम पेंशन राशि (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana Minimum and Maximum Pension Amount in Hindi) :

पेंशन का तरीकान्यूनतम पेंशनअधिकतम पेंशन
वार्षिकरु. 12,000रु 1,11,000
अर्धवार्षिकरु. 6,000रु 55,500
त्रैमासिकरु. 3,000रु 27,750
मासिकरु. 1,000रु 9,250

भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा प्रदान की जाने वाली कई बीमा योजनाएं हैं। इन्हीं में से एक है प्रधानमंत्री वय वंदना योजना। इस योजना के तहत लाभार्थियों को पेंशन की राशि प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत, सरकार ने पेंशन की दर में संशोधन किया है और इस योजना की बिक्री की अवधि को तीन साल के लिए बढ़ा दिया है, जो कि वित्तीय वर्ष 2020-21 से 31 मार्च 2023 तक है।

प्रधानमंत्री के तहत प्रत्येक वर्ष के दौरान बेची जाने वाली बीमा योजना वय वंदना योजना की समीक्षा की जाएगी और नियम और शर्तों के अनुसार पेंशन की गारंटीड दरें वित्त मंत्रालय द्वारा प्रत्येक वर्ष की शुरुआत में तय की जाएगी कि उस वर्ष के लिए गारंटीकृत दर क्या है। 31 मार्च 2021 तक 7.40 प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से पेंशन दी जायेगी।

वय वंदना योजना का न्यूनतम और अधिकतम खरीद मूल्य (Vaya Vandana Yojana Minimum and Maximum Purchase Price in Hindi) :

पेंशन का तरीकान्यूनतम खरीद मूल्यअधिकतम खरीद मूल्य
वार्षिकरु 1,44,578रु 7,22,892
अर्धवार्षिकरु 1,47,601रु 7,38,007
त्रैमासिकरु 1,49,068रु 7,45,342
मासिकरु 1,50,000रु 7,50,000

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को इस योजना के तहत निवेश की अंतिम अवधि को 31 मार्च 2020 से बढ़ाकर 31 मार्च 2023 कर दिया। जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के माध्यम से लागू की गई पीएमवीवीवाई योजना का उद्देश्य वरिष्ठ नागरिकों (60 वर्ष और उससे अधिक) के लिए है। खरीद मूल्य / सदस्यता राशि पर सुनिश्चित रिटर्न के आधार पर एक सुनिश्चित न्यूनतम पेंशन का भुगतान करना है। इस योजना के तहत, वरिष्ठ नागरिकों को न्यूनतम पेंशन 12,000 रुपये प्रति वर्ष और 1,62,162 रुपये न्यूनतम पेंशन राशि 1000 रुपये प्रति माह प्राप्त करने के लिए 1,56,658 रुपये का निवेश करना होगा।

यह भी पढ़े :

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का उद्देश्य (Purpose of Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana in Hindi) :

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का मुख्य उद्देश्य भारत के वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन प्रदान करना है। उन्हें यह पेंशन उनके द्वारा किए गए निवेश पर ब्याज देकर प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से देश के वरिष्ठ नागरिक आत्मनिर्भर बनेंगे और

उन्हें बुढ़ापे में दूसरों पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस योजना के माध्यम से वरिष्ठ नागरिकों के बीच वित्तीय स्वतंत्रता उत्पन्न होगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत वरिष्ठ नागरिक अधिकतम 15 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं। इस योजना के तहत अब अधिकतम निवेश सीमा प्रति परिवार से प्रति वर्ष प्रति नागरिक कर दी गई है, अर्थात पति और पत्नी दोनों एक परिवार में वरिष्ठ नागरिक हैं, तो वे रुपये का निवेश कर सकते हैं। आप भी बोनस का लाभ उठा सकते हैं। PMVVY योजना 2022 के तहत पेंशनभोगी को ब्याज राशि को पेंशन के रूप में लेने का अधिकार है।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत 1000 से 10,000 रुपये तक की पेंशन भी मिलती है। इस पीएम वय वंदना योजना 2022 के तहत 10 साल के लिए 8% की गारंटीकृत वार्षिक रिटर्न के साथ पेंशन सुनिश्चित की जाती है। निवेश की सीमा बढ़ाने पर वरिष्ठ नागरिक को 10 हजार रुपए प्रतिमाह जबकि न्यूनतम 1000 रुपए पेंशन राशि की गारंटी दी जाएगी।

दरअसल, पेंशन के रूप में सिर्फ ब्याज की राशि ही मिलती है। यानी अगर आपने 15 लाख रुपए जमा किए हैं तो उस पर 8 फीसदी की दर से सालाना 1 लाख 20 हजार रुपए का ब्याज मिलेगा, यह राशि मासिक आधार पर मिलेगी। 10-10 हजार रुपये हर तिमाही 30000-30000 रुपये करके और साल में 2 बार 60000-60000 रुपये या साल में एक बार 120000 रुपये देकर दिए जाएंगे।

यह पॉलिसी प्लान 10 साल के लिए है। इस योजना के तहत, 31 मार्च, 2021 तक बेची गई पॉलिसियों के लिए 7.40 प्रतिशत प्रति वर्ष की दर से एक सुनिश्चित भुगतान किया जाएगा। पीएम वय वंदना योजना के तहत, पेंशनभोगी समय पर मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक या वार्षिक पेंशन चुन सकता है। खरीद का। इस योजना के तहत आप हर महीने अधिकतम 9,250 रुपये पेंशन ले सकते हैं।

27,750 प्रति तिमाही, 55,500 रुपये हर छमाही और 1,11,000 रुपये प्रति वर्ष। इस योजना की अवधि बढ़ाने के साथ ही सरकार ने इसमें बड़े संशोधन किए हैं। वय वंदना योजना के तहत हर माह न्यूनतम एक हजार रुपये (वार्षिक) पेंशन के लिए दी जाने वाली राशि में न्यूनतम निवेश 1 लाख 62 हजार 162 रुपये में संशोधन किया गया है

यदि कोई वरिष्ठ नागरिक योजना को बीच में छोड़ देता है या छोड़ देता है, तो योजना में परिपक्वता से पहले अपनी राशि निकालने का विकल्प भी है, यदि पेंशनभोगी को कोई गंभीर बीमारी है, तो पेंशनभोगी को इलाज के लिए पैसे की जरूरत है। ओर से जमा की गई राशि का 98 प्रतिशत वापस कर दिया जाएगा।

इस पीएम वय वंदना योजना 2022 के तहत राशि जमा करने के 3 साल बाद आप लोन भी ले सकते हैं, आप जमा की गई राशि का 75% तक लोन ले सकते हैं, लोन की राशि पर ब्याज हर तिमाही तय होता है। जब तक आप राशि वापस नहीं करेंगे तब तक आपको हर 6 महीने में ब्याज देना होगा। दी गई पेंशन से ब्याज की राशि काट ली जाएगी।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना की ब्याज दरें (Interest Rates of Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana in Hindi) :

पेंशन का विकल्पनिश्चित ब्याज दर
मासिक7.40%
त्रिमास7.45%
अर्धवार्षिक7.52%
प्रतिवर्ष7.60%

आप प्रधानमंत्री वय वंदना योजना का मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक या वार्षिक भुगतान कर सकते हैं। आपको यह भुगतान या तो एनईएफटी या आधार सक्षम भुगतान प्रणाली के माध्यम से करना होगा।

  • महीने के
  • त्रिमास
  • अर्धवार्षिक
  • इसे वार्षिक आधार पर लेने का विकल्प है, आप अपनी इच्छानुसार कोई भी विकल्प चुन सकते हैं।
  • पेंशन का भुगतान एनईएफटी या आधार सक्षम भुगतान प्रणाली के माध्यम से किया जाएगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2022 के लाभ (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana 2022 in Hindi) :

  • यदि पेंशनभोगी 10 वर्ष की पॉलिसी अवधि तक जीवित है तो जमा राशि के साथ पेंशन भी दी जाएगी।
  • यदि पेंशनभोगी की मृत्यु हो जाती है, तो पेंशनभोगी की मृत्यु में जमा की गई राशि पॉलिसी अवधि के 10 वर्षों के भीतर नामांकित व्यक्ति को वापस कर दी जाएगी।
  • यदि पेंशनभोगी आत्महत्या करता है, तो जमा की गई राशि वापस कर दी जाएगी।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के माध्यम से देश के वरिष्ठ नागरिकों को 60 वर्ष की आयु के बाद पेंशन प्रदान की जाती है। इस पेंशन को पाने के लिए लाभार्थी को प्रीमियम राशि का भुगतान करना होता है।
  • इस योजना के तहत पॉलिसी अवधि 10 वर्ष है।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के तहत प्रीमियम राशि का भुगतान पेंशन के तरीके के आधार पर किया जाएगा।
  • पेंशनभोगी इस योजना के तहत मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक और वार्षिक भुगतान कर सकते हैं।
  • यदि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है, तो पेंशन का क्रय मूल्य कानूनी उत्तराधिकारी को हस्तांतरित कर दिया जाता है।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना को बिना किसी मेडिकल जांच के खरीदा जा सकता है और इस योजना के तहत कुछ परिस्थितियों में समय से पहले निकासी की अनुमति है।
  • यदि लाभार्थी समय से पहले योजना से बाहर निकलता है तो खरीद मूल्य का 9% प्रदान किया जाता है।
  • इस योजना को खरीदने के 3 साल बाद लाभार्थी को ऋण भी मिल सकता है।
  • इस योजना के तहत खरीद मूल्य का 75% ऋण लिया जा सकता है।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना विशेष रूप से उन वृद्ध नागरिकों के लिए शुरू की गई है जिनकी आयु 60 वर्ष है।
  • इस योजना के तहत लाभार्थी को 10 वर्ष तक गारंटीड पेंशन प्रदान की जाती है।
  • यह योजना भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा संचालित है।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के माध्यम से आप 7.40% प्रति वर्ष की दर से ब्याज आय अर्जित कर सकते हैं।
  • इस प्लान को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से खरीदा जा सकता है।
  • पहले यह योजना 31 मार्च 2020 को बंद कर दी गई थी लेकिन अब इस योजना की अवधि मार्च 2023 तक बढ़ा दी गई है।
  • इस योजना के तहत मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक और वार्षिक पेंशन प्राप्त की जा सकती है।
  • पेंशन की अंतिम राशि के साथ खरीद मूल्य 10 वर्ष पूरे होने के बाद वापस किया जाएगा।
  • इस पॉलिसी के माध्यम से खरीद मूल्य का 75% तक ऋण भी लिया जा सकता है।
  • यह ऋण सुविधा पॉलिसी अवधि के 3 वर्ष पूरे होने के बाद ही प्राप्त की जा सकती है।
  • इस प्लान के साथ, खरीद मूल्य का 98% तक का आपातकालीन निकासी भी किया जा सकता है।
  • यदि 10 वर्ष पूरे होने से पहले लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है, तो खरीद मूल्य नामांकित व्यक्ति को वापस कर दिया जाएगा।
  • PMVVY योजना 2022 के तहत, वरिष्ठ नागरिक की आयु कम से कम 60 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। वर्तमान में अधिकतम आयु सीमा नहीं है।
  • पॉलिसी की अवधि 10 वर्ष होगी। न्यूनतम पेंशन जो 1000 रुपये प्रति माह होगी वह 3000 रुपये, 6000/अर्धवार्षिक, 12000 रुपये/वर्ष होगी। अधिकतम 30,000 रुपये/तिमाही, 60,000/अर्धवार्षिक और 1,20000 रुपये प्रति वर्ष होगी।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 2022 के तहत वरिष्ठ नागरिक अधिकतम 15 लाख रुपये का निवेश कर सकते हैं।
  • इस योजना की पॉलिसी अवधि 10 वर्ष है।
  • PMVVY योजना देश के वरिष्ठ नागरिकों को वृद्धावस्था आय सुरक्षा प्रदान करती है।
  • इस योजना के तहत आपको जीएसटी नहीं देना होगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना की पात्रता (Eligibility of Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana in Hindi) :

  • आवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की न्यूनतम आयु 60 वर्ष होनी चाहिए।
  • इस योजना के तहत कोई ऊपरी आयु सीमा नहीं है।
  • इस योजना के तहत पॉलिसी अवधि 10 वर्ष है।

पीएम वय वंदना योजना के महत्वपूर्ण दस्तावेज (Important Documents of PM Vaya Vandana Yojana in Hindi) :

  • आधार कार्ड
  • पण कार्ड
  • उम्र का सबूत
  • आय का प्रमाण
  • निवास प्रमाण
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

पीएम वय वंदना योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करें? (How to apply for PM Vaya Vandana Yojana 2022 in Hindi) :

  • सबसे पहले आवेदक को एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन का विकल्प दिखाई देगा, आपको उस विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको अपने सभी दस्तावेज अपलोड करने होंगे और अंत में सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आपका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा।

ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया :

  • सबसे पहले आवेदक को अपनी नजदीकी एलआईसी शाखा से संपर्क करना होगा। शाखा में जाने के बाद उस शाखा के अधिकारी को अपने सारे दस्तावेज देने होंगे और अपनी सारी जानकारी देनी होगी.
  • इस योजना के तहत एलआईसी एजेंट आपका आवेदन करेगा। आवेदन के सत्यापन के बाद एलआईसी एजेंट आपकी इस योजना की पॉलिसी शुरू करेगा।