Categories: Articles
| On 3 years ago

Profession, Professional and Professionalism .

प्रोफेशन, प्रोफेशनल औऱ प्रोफेशनलिज्म।

किसी भी क्षेत्र में सफ़लता प्राप्त करने हेतु प्रोफेशनल एटीट्यूड परम् आवश्यक होता है। प्रत्येक व्यक्ति से यह अपेक्षा की जाती है कि वह अपने प्रोफेशन को पूर्ण प्रोफेशनल तरीके से निर्वहन करे। प्रोफेशिनिज्म को पूर्णतया निम्नानुसार समझा जा सकता है।

प्रोफेशन का अर्थ

प्रोफेशन का शाब्दिक अर्थ पेशा है एवम जब इसे विशेषण के रूप में प्रयुक्त किया जाता है तो इसे पेशेवर कहा जाता है। पेशा से तातपर्य जीविकोपार्जन के साधन, धंधा या काम से होता है। पेशा एक पुर्लिंग शब्द है। इसे अंग्रेजी में Occupation, Profession, Business, Practice भी कहा जाता है।

प्रोफेशनल का अर्थ

पारंपरिक रूप से

प्रोफेशनल शब्द का मतलब है वह व्यक्ति जिसने किसी व्यावसायिक क्षेत्र में एक डिग्री प्राप्त की है। प्रोफेशनल किसी व्यवसाय का एक ऐसा सदस्य होता है जिसे विशिष्ट शैक्षणिक प्रशिक्षण के आधार पर चुना जाता है।इसका संदर्भ किसी विशेष गतिविधि के लिए काफी उच्च क्षमतावान व्यक्ति से भी हो सकता है

प्रोफेशनलिज्म का अर्थ

इसे हिंदी के शब्द व्यवसायिकता से समझ सकते है। किसी प्रोफेशन अथवा प्रोफेशनल के आचरण, उद्देश्य या गुणों को सामुहिक रूप से प्रोफेशनलिज्म कहा जा सकता है।
व्यवसायिकता किसी व्यक्ति विशेष के गुण होते है जिनकी सहायता से वह प्रभावशाली, विश्वसनीय व व्यवस्थित कार्य सम्पादन कर पाता है।

सफलता प्राप्ति हेतु प्रोफेशनल आचरण का विकास

समयबद्धता

एक व्यक्ति को समय की पाबंदी का कठोरतापूर्वक पालन करना चाहिए। एक प्रोफेशनल व्यक्ति का यह प्रथम गुण होना चाहिए। आज के प्रतिस्पर्धी युग मे सभी कार्य "टाइम बाउंड" होते है अतः हमको सबसे पहले इस गुण का अंगीकार करना चाहिए।

निर्देशो/आदेशों की पालना

प्रत्येक संगठन में आदेश प्रदान करने की व्यवस्था होती है एवम अपने अधिकारी से प्राप्त आदेशों/निर्देशो की अविलम्ब पालना अत्यावश्यक होती है।

क्षमताओं का पूर्ण उपयोग

एक प्रोफेशनल से अपेक्षित होता है कि वह अपने कार्य को सम्पन्न करने हेतू अपने समग्र ज्ञान, क्षमता व कौशल का उपयोग करे।

कार्य सम्पादन में निरन्तरता

एक प्रोफेशनल व्यक्ति कार्यस्थल पर कार्य सम्पादन हेतु फोकस रहता है वह कार्य समय मे निजी कार्य नही करता है।

कौशल विकास

एक प्रोफेशनल व्यक्ति अपने कार्य से सम्बंधित अपने कौशलों व ज्ञान के विकास हेतु सदैव प्रयत्नशील रहता है व इस हेतु नए कोर्स सीखता है व सम्बन्धित पुस्तकों का अध्ययन करता है।

टीम वर्क

व्यक्ति एक सामाजिक प्राणी है एवम कार्यस्थल पर उसे एक टीम सदस्य के रूप में कार्य करना पड़ता है अतः एक प्रोफेशनल को अहम का त्याग करके सकारात्मक दृष्टिकोण से सबको साथ लेकर कार्य सम्पादन हेतु प्रयासशील रहना चाहिए।

व्यक्तित्व

एक प्रोफेशनल को अपने पेशे के अनुरुप ही अपने व्यक्तित्व को ढालना पड़ता है अतः उसे अपनी वेशभूषा, भाषा व व्यवहार के प्रति सजग रहना चाहिए।

निरन्तर अपडेटेशन-

एक प्रोफेशनल को अपने ज्ञान, सूचना व जानकारी को अपडेट रखने के लिए नवीनतम उपकरणों , गेजेट्स व संसाधनों का कुशल प्रयोग करना चाहिए।

खुद को आत्मप्रेरित करना-

एक प्रोफेशनल व्यक्ति किसी भी वातावरण या स्तिथि में अपने कार्य को सम्पन्न करने हेतु स्वयं को प्रेरित करता है। वह विपरीत स्तिथियों या नकारात्मक माहौल के बावजूद हिम्मत नही हारता है।
उपरोक्त के साथ ही एक प्रोफेशनल संगठन के अंदर संसाधनो को निजी संपत्ति नही मानता एवम सभी लोग उसकी न्यायप्रियता, व्यवहार व कार्यप्रणाली पर विश्वास रखे ऐसा प्रयास करता है।