Categories: Students Forum
| On 1 year ago

RBSE XII Commerce Board Result: Bundi District is first in State.

कक्षा बारहवीं वाणिज्य बोर्ड रिजल्ट: वाणिज्य में बूंदी जिले ने  मारी बाजी।

कक्षा बारहवीं बोर्ड रिजल्ट: वाणिज्य में बूंदी जिले ने  मारी बाजी।

अजमेर, 13 जुलाई 2020, आज माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान , अजमेर की कक्षा 12 के वाणिज्य वर्ग का परीक्षा परिणाम घोषित प्रातः 11 बजे घोषित कर दिया गया। घोषित परिणाम के अनुसार बूंदी 99.30% के साथ प्रथम स्थान पर, हनुमानगढ़ 98.37% के साथ दूसरे व 97.66% के साथ तीसरे स्थान पर रहा है।

राजस्थान राज्य  में वाणिज्य  वर्ग में कुल विद्यार्थी 36114 पंजीकृत हुए जिनमे 23633 बालक व 12581 बालिकाएं थी। इनमें से 23314 बालक व  12398 बालिकाओं कुल 35712 ने परीक्षा में भाग लिया। राजस्थान राज्य में  बालिकाओं ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी। वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम  97.36 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 93.68% रहा। राज्य का कुल परीक्षा परिणाम  94.96 % रहा।

राजस्थान में बूंदी प्रथम

वाणिज्य वर्ग में बूंदी ने यह सिद्ध कर दिया है कि  राजस्थान का यह जिला वाणिज्य शिक्षा का सिरमौर है। वाणिज्य वर्ग में

जिले में परीक्षा में दाखिल कुल 143 विद्यार्थियों में से  137 विद्यार्थियों ने प्रथम श्रेणी प्राप्त की। बूंदी जिले ने जिला रैंकिंग वाणिज्य वर्ग में राजस्थान में पहला स्थान प्राप्त किया।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अगर आंकड़ो की बात की जाए तो वाणिज्य वर्ग में  बालक वर्ग में  पूरे राज्य में 100 फीसदी सफलता के साथ बूंदी राज्य में सबसे आगे रहा। इसके पश्चात हनुमानगढ़ 98.85% के साथ दूसरे स्थान पर व  करोली 96.84% के साथ तीसरे स्थान पर रहा।

वाणिज्य  वर्ग  के बालिका वर्ग में करोली व धौलपुर की बालिकाओं ने पूरे राज्य में 100% सफलता के साथ राज्य में सबसे आगे  रही।  सीकर की बालिकाओं ने  99.87% फीसदी सफलता के साथ दूसरा व भरतपुर की बालिकाओं ने 98.75% सफलता के साथ राज्य में तीसरा स्थान प्राप्त किया।

जोधपुर जिले में वाणिज्य  वर्ग में कुल 3600 विद्यार्थी
पंजीकृत हुए जिनमे 2387 बालक व 1213 बालिकाएं थी। इनमें से 2309 बालक व 1198 बालिकाओं कुल 3507 ने परीक्षा में भाग लिया। जोधपुर जिले में बालिकाओं ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी।

वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम 97.58 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 94.33% रहा। जिले का कुल परीक्षा परिणाम 95.44% रहा। जिले का राज्य में 13वा स्थान रहा।

बूंदी जिले में वाणिज्य  वर्ग में कुल 144 विद्यार्थी
पंजीकृत हुए जिनमे 106 बालक व 38 बालिकाएं थी। इनमें से 105  बालक व 38 बालिकाओं कुल 143 ने परीक्षा में भाग लिया। बूंदी जिले में बालको  ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी। वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम 97.37 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 100% रहा। जिले का कुल परीक्षा परिणाम 99.30% रहा। जिले का राज्य में पहला स्थान रहा।

हनुमानगढ़ जिले में वाणिज्य  वर्ग में कुल 251 विद्यार्थी पंजीकृत हुए जिनमे 177 बालक व 74बालिकाएं थी। इनमें से 174 बालक व 72 बालिकाओं कुल 246 ने परीक्षा में भाग लिया। हनुमानगढ़ जिले में  बालको ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी। वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम  97.22 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 98.85% रहा। जिले का कुल परीक्षा परिणाम 98.37% रहा। जिले का राज्य में दूसरा स्थान रहा।

करौली  जिले में वाणिज्य  वर्ग में कुल 128 विद्यार्थी पंजीकृत हुए जिनमे 95 बालक व 33 बालिकाएं थी। इनमें से 95  बालक व  33 बालिकाओं कुल 128 ने परीक्षा में भाग लिया। करोली जिले में  बालिकाओं ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी। वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम  100 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 96.84% रहा। जिले का कुल परीक्षा परिणाम 97.66% रहा। जिले का राज्य में तीसरा  स्थान रहा।

सीकर  जिले में वाणिज्य  वर्ग में कुल 1689 विद्यार्थी पंजीकृत हुए जिनमे 1153 बालक व 536 बालिकाएं थी। इनमें से 1138  बालक व  533 बालिकाओं कुल 1671 ने परीक्षा में भाग लिया। सीकर जिले में  बालिकाओं ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी। वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम  98.87 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 95.78% रहा। जिले का कुल परीक्षा परिणाम 96.77% रहा। जिले का राज्य में छठा स्थान रहा।

जयपुर जिले में वाणिज्य  वर्ग में कुल 9334विद्यार्थी पंजीकृत हुए जिनमे 6835 बालक व 3499 बालिकाएं थी। इनमें से 5757  बालक व  3479 बालिकाओं कुल

9246 ने परीक्षा में भाग लिया। जयपुर जिले में  बालिकाओं ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी। वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम  96.78 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 91.05% रहा। जिले का कुल परीक्षा परिणाम  93.21% रहा। जिले का राज्य में चौबीसवाँ स्थान रहा।

राजस्थान राज्य  में वाणिज्य  वर्ग में कुल विद्यार्थी 36114 पंजीकृत हुए जिनमे 23633 बालक व 12581 बालिकाएं थी। इनमें से 23314 बालक व  12398 बालिकाओं कुल 35712 ने परीक्षा में भाग लिया। राजस्थान राज्य में  बालिकाओं ने वाणिज्य वर्ग में बाजी मारी। वाणिज्य वर्ग में बालिकाओं का परीक्षा परिणाम  97.36 % रहा जबकि बालकों का परीक्षा परिणाम 93.68% रहा। राज्य का कुल परीक्षा परिणाम  94.96 % रहा।