Categories: Shala Darpan Updates
| On 1 year ago

Shala Darpan :Latest To Do list for Schools.

शाला दर्पण : शाला दर्पण पर अब करणीय नए कार्य।

राजस्थान स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख पोर्टल पर विद्यालय स्तर पर निम्नलिखित नए कार्य सम्पादित किये जाने है-

5वीं और 8वीं बोर्ड के अंक शाला दर्पण पर अपलोड होंगे-

राज्य की स्कूलों में होने वाले 5वीं और 8वीं बोर्ड परीक्षा के अंतरांकन और कॉपी के नंबर अब शाला दर्पण पर सीधे ही अपलोड करने होंगे। ताकि रिजल्ट समय पर जारी किया जा सके।

शिक्षकों को अब एसीपी व नियमितिकरण के आवेदन ऑनलाइन करने होंगे-

माध्यमिक शिक्षा निदेशालय की ओर से जारी गाइड
लाइन के मुताविक शिक्षक को शाला दर्पण पोर्टल पर
एप्लीकेशन फार डिपार्टमेंटल सर्विसेज में आवेदन करना
होगा। जहां प्रपत्र 10 के अनुसार सेवा विवरण शो होगा।इसमें गलती होने पर पहले प्रपत्र-10 सुधारना होगा। मांगे गये दस्तावेज की पीडीएफ फाइल अटैच करनी होगी। शिक्षक आवेदन स्कूल के संस्था प्रधान को फॉरवर्ड करने के साथ ही हार्ड कॉपी प्रस्तुत करेगा। संस्था प्रधान को आवेदन का मिलान सेवा पुस्तिका से कर मुख्य ब्लाक शिक्षा अधिकारी को और वहा से आगे भेजना होगा।

किसी भी स्तर पर कोई कमी होने पर आवेदन वापस फारवर्ड करना होगा।सभी आहरण वितरण अधिकारियों को शाला दर्पण पोर्टल पर शुरू किए गए एसीपी माड्यूल पर ऑनलाइन करने होंगे ताकि तुरन्त प्रकरणों का निस्तारण किया जा सके।

गार्गी पुरस्कार व बालिका प्रोत्साहन पुरस्कार हेतु आवेदन-

बोर्ड परीक्षा-2019 की दसवीं और बारहवीं का छात्राओं को गार्गी पुरस्कार राशि सीधे उनके खाते में ट्रांसफर होगी। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन भराए जा रहे हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 29 जनवरी है।

विद्यालय स्टाफ की ऑनलाइन हाजरी-

राजकीय विद्यालयों में शिक्षकों तथा कार्मिकों
के लिए 16 जनवरी 2020 से ऑनलाइन हाजरी की व्यवस्था आरम्भ हो गई है। 16 जनवरी से सभी सरकारी स्कूलों में शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक
कर्मचारियों की उपस्थिति आनॅलाइन करने के लिए शाला दर्पण में स्टाफ की दैनिक उपस्थिति मॉड्यूल शुरू हो गया है।
दैनिक ऑनलाइन उपस्थिति की प्रकिया पीईईओ स्तर करने के निर्देश है। जिसमें पीईईओ को अपने अधीनस्थ सभी स्कूलों का निर्धारित समय पर स्टाफ उपस्थिति का विवरण शाला दर्पण पर ऑनलाइन फीडिंग करना है।

शालादर्पन आई डी के माध्यम से विद्यालय कार्मिको हेतु अवकाश आवेदन प्रोसेस-

1. सर्वप्रथम शाला दर्पण पर आप स्वयं का या शाला दर्पण प्रभारी की मदद से पर्सनल NIC-ID (शालादर्पण आईडी) बनवाएं, इसके आईडी और पासवर्ड आपके मोबाइल पर एसएमएस द्वारा प्राप्त होंगे, उन्हें सुरक्षित रखें।
2. NIC-ID से कार्य के लिए पहले Google में Shala darpan डालें फिर नीचे shala darpan पर क्लिक करें
3. पेज खुलने पर नीचे जाएं उसमें staff Window पर क्लिक करें।
4. पेज खुलेगा उसमें staff login पर क्लिक करें, फिर अपनी NIC-ID और पासवर्ड व कैप्चा डालकर लॉगिन करें।
5. इसके पश्चात Home के ऊपर 3 लाइन ||| बांई ओर ऊपर देखेंगी उस पर क्लिक करें। उन पर क्लिक करने पर profile, आवेदन, प्रपत्र, reports शो करेगा
6. अब आवेदन पर क्लिक करें फिर अवकाश हेतु आवेदन शो करेगा उस पर क्लिक करें फिर नीचे अवकाश हेतु आवेदन शो करेगा उस पर क्लिक करें।
7. इसके पश्चात नीचे Leave Application Form खुलेगा उसे भरना है।
8. Leave Reason में Casual, medical ground, Election duty, child birth आदि शो करेगा इसमें से किसी एक पर क्लिक

करना है
9. इसके बाद Leave Type में आकस्मिक अवकाश, रूपांतरित अवकाश, HPL, ML, CCL, PL आदि में से एक पर टिक करें
10. From में छुट्टी लेने का दिनांक व To में कब तक छुट्टी लेनी है का दिनांक डालें। Full Day या Half Day पर क्लिक करें। अगर Half Day चुना है तो उसके नीचे मध्याह्न पूर्व या मध्याह्न पश्चात पर क्लिक करें।
11. Headquater Leave Required में अगर आप हेडक्वार्टर छोड़ रहे हैं तो yes लिखें अगर नहीं छोड़ रहे हैं तो No लिखें
12. Address during Leave period इसमें छुट्टी के समय आप जहां रहोगे उस स्थान का नाम लिखें।
13. Remark में जो आप छुट्टी ले रही हैं उसका नाम डालें जैसे CL, PL, ML आदि फिर Next पर क्लिक करें तो आपको भरा हुआ अवकाश फॉर्म शो करेगा उसमें नीचे [] चौकोर बॉक्स पर क्लिक करें।
इसके पश्चात आवेदन करें पर क्लिक कर दें, अब आप का अवकाश प्रार्थना पत्र DDO विद्यालय शाला दर्पण आईडी पर पहुंच चुका है अब आप अपने प्रधानाध्यापक को फोन करके अवकाश प्रार्थना पत्र के बारे में पूरी जानकारी बता दें जिससे प्रधानाध्यापक उसको Approvel कर सकें।

बोर्ड परीक्षा परिणाम उन्नयन हेतु-

माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने पंचायत प्रारम्भिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किए है। इसके अनुसार 5 मार्च से शुरू हो रही बोर्ड परीक्षा के उत्कृष्ट परिणाम के लिए योजनाबद्ध प्रयास करने होंगे।इसके लिए शाला दर्पण पर अपलोड की गई सामग्री का उपयोग सुनिश्चित करवाना होगा। इसमें मुख्य रूप से बोर्ड परीक्षा सुधार कार्य योजना, प्रश्न बैंक, मेधावी विद्यार्थियों की उत्तर पुस्तिकाओं की फोटो प्रतियां डाउनलोड कर उसका उपयोग करवाने, प्री-बोर्ड परीक्षा से प्राप्त परिणाम का विश्लेषण, अतिरिक्त कक्षाएं लगाने आदि के निर्देश दिए गए हैं।

बालिकाओं हेतु स्कुटी योजनाओं की आरम्भिक जानकारी-

देवनारायण छात्रा स्कूटी योजना पहले की तरह ही
अपने नाम से संचालित होगी, जबकि शेष स्कूटी योजनाएं कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना
में समाहित हो जायेंगी। टीएडी विभाग द्वारा संचालित
स्कूटी योजना में 10वीं कक्षा उत्तीर्ण करने वाली मेधावी छात्राओं को भी पूर्ववत स्कूटी मिलेगी। इससे मेधावी छात्राओं को 11वीं कक्षा में नियमित प्रवेश लेने
के लिए प्रोत्साहन मिल सकेगा।