Categories: Guest PostTeaching
| On 4 months ago

SIQE : What to do at beginning of Educational Session.

CCE /SIQE : शिक्षण सत्र आरम्भ के समय किए जाने वाले कार्य।

एसआईक्यूई एक विशिष्ट कार्यक्रम है जिसके मुख्य घटक सतत व व्यापक मूल्यांकन एवं बाल केंद्रीत शिक्षण विधा है। SIQE के तहत सत्रपर्यंत कार्य किया जाता है। इस लेख में आपको सत्र आरम्भ में किये जाने वाले कार्यो के बारे में बताया जा रहा है।

SIQE के अन्तर्गत

लर्निंग आउटकम्स अनुरूप सी. सी.ई./सी.सी.पी. / ए.बी.एल. आधारित टर्म एवं कक्षावार पाठ्यक्रम विभाजन।

कक्षा : 1 से 5 तक
विषय : हिन्दी
सत्र 2020-2021

दस्थापन/ बेसलाईन

* कक्षा 1 में नवप्रवेशित बालको का पदस्थापन नही करना है ।इनका कक्षास्तर नामांकित कक्षा ही है। अत: इनका उपसमूह नहीं बनाना है ।* आपके विद्यालय में अध्ययनरत कक्षा 2,3,4,5 के बालको का कक्षास्तर आपने सत्र 2018-19 के परिणाम घोषित करते समय निर्धारित किया था ,वही रखना है।*यदि कक्षा 2,3,4,5 में कोई बालक आपके विद्यालय में गैर सीसीई/निजी विद्यालय या शपथ पत्र से सीधा प्रवेश लेता है तो कक्षा स्तर निर्धारण करने हेतु बेसलाईन टेस्ट लेना है।* बेसलाईन हेतु हिन्दी,अंग्रेजी,गणित का ही टेस्ट लेना है।पर्यावरण में बालक का स्तर नामांकित कक्षा ही है।* बेसलाईन निर्धारण हेतु टेस्ट/ परख का प्रकार मौखिक,लिखित और गतिविधि आधारित हो सकता है।

SIQE/CCE सबंधित प्रधानाध्यापक /प्रधानाचार्य के कर्तव्य:

1. मासिक स्टाफ बैठक लेकरCCE गतिविधियों की समीक्षा करना।
2. शिक्षक योजना डायरी नियमित रूप से संधारित की जा रही है या नही। इस हेतु पर्यवेक्षण करना।
3.विषय अध्यापको द्वारा पाक्षिक योजना बनाई जा रही है या नही।
4.साप्ताहिक समीक्षा की जा रही हे या नहीं।
5.प्रत्येक माह check list भरी जा रही या नहीं।
6.समय पर टर्म के अनुसार पाठ्यक्रम पूरा किया जा रहा है नही।
7.कक्षा स्तर से नीचे वाले बालको के लिए अलग से पाक्षिक योजना बनाई जा रही है या नहीं।
8.पोर्ट फोलियो अप डेट की जा रही है या नही।
9 .अभिभावक बैठक लेवें।
10.बच्चों के कक्षा स्तर में सुधार हो रहा है या नहीं।

पोर्ट फोलियो में लगाये जाने वाले दस्तावेज:

1. baseline copy
2. स्वास्थ्य संबंधी रिपोर्ट।
3. बालक के नैतिकता सामाजिक सहयोग सम्बन्धी गुण ।
4. समय की पाबन्दी सम्बंधित गुण।
5. प्रोजेक्ट कार्य (प्रति सप्ताह एक बार) ।
6. प्रत्येक विषय के सप्ताह में दो बार पेन पैपर क्लास टेस्ट लेकर उत्तरपुस्तिका को साथ रखना।
7. अभिभावक सूचना पृष्ठ।
जिसमे अभिभवक को बालक की सभी प्रकार की गतिविधियों की सुचना देकर उसके हस्ताक्षर लेवे और विषय अध्यापक भी date लगाकर हस्ताक्षर करे।

SIQE/CCE सम्बंधित महत्व पूर्ण जानकारी:

1. कक्षा 1 की baseline नहीं लेनी है।
2. पर्यावरण की baseline नहीं लेनी है।
3. SIQE/CCE में बच्चों को नम्बर नहीं देना है।केवल कॉपी के अंत में शिक्षक टिप्पणी लिखकर हस्ताक्षर करके date लगानी है।
4.टिप्पणी का तरीका...
बालक अनिल कक्षा 4 में नामांकित हे और यह गणित विषय मे कक्षा 4 या 3 या 2 का स्तर रखता है ।यह शिक्षक की सहायता से कार्य कर सकता हे अतः यह B grade के अंतर्गत आता है।5.प्रत्येक बालक की एक personal फाइल (पोर्ट फोलियो) बनानी है।6.पोर्ट फोलियो में निम्न दस्तावेज लगावे....
A.बालक का विवरण (biodata) ।
बालक के स्वास्थ्य, नैतिकता, सामाजिक सहयोग, कला, संगीत, समय की पाबन्दी, अनुशासन, अन्य मानवीय गुणों और उसकी अच्छी आदतो के बारे में टिप्पणी समय समय पर लिखे।
C.सप्ताह में दो बार पेन पेपर टेस्ट लेकर (एक या दो प्रश्न) उसे जांच कर टिप्पणी लिखे और पोर्ट फोलियो में लगाये ।
D.ऐसा प्रत्येक विषय में करे।
E. 15 दिन में एक बार बालक के अभिभावक से सम्पर्क कर उसे बच्चे के स्तर की जानकारी देवे और पोर्ट फोलियो में अभिभावक के हस्ताक्षर लेवे।

View Comments