Categories: Uncategorized
| On 2 years ago

Social Media: Strengthen your organization on social media.

सोशल मीडिया : अपनी संस्था को मजबूती प्रदान करें सोशल मीडिया पर।

आज सोशल मीडिया महत्वपूर्ण निर्धारक होने लगा है एवम इसका रोल सामाजिक दायरों से बढ़कर वाणिज्यिक स्तर पर पहुंच गया है। प्रत्येक संस्थान मजबूती से अपने कार्य-कलापो , गतिविधियों व सेवाओं के बारे में बढ़-चढ़कर सोशल मीडिया पर प्रस्तुत करके विकास की नई मंजिल की तरफ अग्रसर हो रहा है। ऐसे में आप से भी अपेक्षा की जाती है कि आप भी अपनी संस्था की नवीनतम गतिविधियों को समाज के समक्ष प्रस्तुत करें!

सोशल मीडिया पर संस्था को प्रस्तुत करने के लाभ-

सोशल मीडिया पर संस्था को प्रस्तुत करने एवं इसकी नवीनतम गतिविधियों, उपलब्धियों व कार्यक्रमों को समुचित रूप से प्रस्तुत करने से निम्नलिखित लाभ प्राप्त होते है-

समाज का ध्यानाकर्षण

"जँगल में मोर नाचा, किसने देखा? " बहुत सारी संस्थाए चुपचाप बेहतरीन कार्य करने के बावजूद समाज व सरकार का ध्यान आकर्षित नही करने के कारण उन अधिकारों से वंचित

हो जाती है जिनकी की वे अधिकारी है व उनके स्थान पर अन्य संस्थाए विभिन्न पुरस्कारों को प्राप्त करती है एवम सराहना का पात्र बन जाती है। मात्र प्रचार पाने के लिए ही कार्य करना कदापि उचित नही है लेकिन स्वंय के वास्तविक निष्पादित कार्यो को समाज के समक्ष लाकर अन्य संस्थाओ को प्रेरित करना सामाजिक व व्यक्तिगत हित में रहता है।

समाज से जुड़ाव

सोशल मीडिया पर मजबूत उपस्तिथि से संस्था अपने उपभोक्ताओं, पूर्व विद्यार्थियों, वर्तमान सामाजिक कार्यकर्ताओं, प्रशासन अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों, विभिन्न सामाजिक संस्थाओं, भामाशाहों, आर्थिक जगत व अपने कर्मियों से जुड़ कर उनका सक्रिय सहयोग प्राप्त करते हुए विकास की गति को तीव्र कर सकती है। बहुत सी संस्थाओ ने सोशल मीडिया द्वारा समाज के विभिन्न वर्गों को जोड़कर आर्थिक, प्रशासनिक व भौतिक सहयोग प्राप्त किया है।

कार्यो का अभिलेखीकरण

सोशल मीडिया पर अपलोडेड कार्य, सन्देश, गतिविधियां व प्रस्तुतियां सदैव उपलब्ध रहती है तथा विभिन्न सोशल टूल्स द्वारा हम इनको सुरक्षित रखते हुए

विभिन्न अवधियों में किये गए कार्यो की आपसी तुलना कर सकते है। इसके अलावा सोशल मीडिया पर अपलोडेड सामग्री को हम किसी भी समय एक्सेज (विदोहन) करके उसका उपयोग संस्था हिट में कर सकते है।

प्रोत्साहन व सम्बलन

सोशल मीडिया पर हम श्रेष्ठ सहयोगियों, कार्मिको, उपभोक्ताओं व जनसाधारण के कार्यो को जब आधिकारिक रूप से प्रस्तुत करते है तो उनका मनोबल बढ़ता है एवम वे दुगने जोश से लक्ष्य की प्राप्ति हेतु प्रयास आरम्भ कर देते है क्योंकि सामाजिक मान्यता प्राप्ति से प्रत्येक पक्षकार को एक सुखद अनुभूति होती है।

सोशल मीडिया पर प्रस्तुति के तरीके

सोशल मीडिया पर स्वयम की संस्था को हम निम्न प्रकार से प्रस्तुत कर सकते है-

फेसबुक

सोशल मीडिया पर फेसबुक आज सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाला मंच है। फेसबुक पर हम हमारी संस्था का ग्रुप बना कर विद्यार्थियों, अभिभावकों, अधिकारियों, जनसाधारण, पूर्व विद्यार्थियों व अन्य को जोड़कर उनसे निरन्तर सम्वाद कर सकते है। फेसबुक पर हम एक "पेज" का निर्माण करके भी ऐसा ही कर सकते है। "ग्रुप" का उपयोग सम्वाद के लिए जबकि "पेज" का अधिक उपयोग प्रस्तुति के लिए होता है। हम संस्था को फेसबुक पर साइनअप करने के पश्चात मैसेंजर से जुड़कर सन्देशवाहन के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते है।

व्हाट्सएप

आज व्हाट्सएप सबसे तीव्र सन्देशवाहन के स्वरूप में अपना स्थान बना चुका है। हम व्हाट्सएप पर ग्रुप बना कर आवश्यक संदेशो को समस्त पक्षो तक पहुँचा सकते है। व्हाट्सएप ग्रुप से दो तरफा सन्देश लेनदेन होता है। इसी प्रकार हम व्हाट्सएप पर समस्त सम्बन्धित यूजर्स की "लिस्ट

" बना सकते है। हम एक सन्देश को लिस्ट में सम्मिलित सभी सदस्यों को एक ही क्लिक में सन्देश भेज सकते है लेकिन यह एकतरफा होता है क्योंकि वे इसका जबाब हम तक नही भेज सकते।

यूट्यूब

हम एक यूट्यूब "चैनल" बना कर संस्था द्वारा संपादित विभिन्न गतिविधियों के वीडियो सदा के लिए सुरक्षित भी कर सकते है व "शेयर" के माध्यम से उनको हम आगे सम्बन्धित तक भेज कर प्रचार-प्रसार भी कर सकते है। यूट्यूब पर हम वीडियो के साथ "शार्ट फिल्म्स" इत्यादि भी अपलोड कर सकते है। एक सक्रिय यूट्यूब चैनल को मोनोटाइज़ेशन करने से एक आमदनी भी अर्जित की जा सकती है।

ब्लॉगर

हम विभिन्न ब्लॉगिंग वेबसाइट पर स्कूल का अकाउंट खोल कर संस्था से सम्बंधित विभिन्न आलेखों को एक पत्रिका के रूप में भी प्रस्तुत कर सकते है। ब्लॉगस्पॉट, वर्ड प्रेस इत्यादि इसी प्रकार की फेमस ब्लॉगिंग मंच है।

वेबसाइट

हम एक उपयुक्त डोमिन (संस्था का नाम जैसे

delhicollege.org इत्यादि) लेकर किसी सर्वर से होस्टिंग परचेज करके हमारी संस्था की वेबसाइट को लांच करके सोशल मीडिया पर अपनी स्वतंत्र आइडेंटी डवलप कर सकते है। इसके माध्यम से हम स्वयं की आईडी /ईमेल एड्रेस बना सकते है जैसे info@delhicollege.org इत्यादि।

आप अपनी संस्था की वेबसाइट का उचित दरों पर निर्माण करने के लिए ABC Steps Technologies Pvt Ltd से 9610001234 पर सम्पर्क कर सकते है। इस कम्पनी द्वारा 8,000 की शुरुआती दर से आप अपनी वेबसाइट निर्माण करवा सकते है।

ट्विटर

कम शब्दों में अपनी बात स्पेशल ग्रुप के समक्ष रखने का एक जबरदस्त माध्यम ट्विटर है। हम संस्था का ट्विटर पर अकाउंट खोल कर एकाउंट हेंडल कर सकते है। ट्वीटर पर लोग आपको follow करने लगते है। आपके followers तक आपकी बात अविलम्ब पहुंच जाती है। जिसे वे लाइकरीट्वीट करके आगे पहुचाते है। इस प्रकार आपके शार्ट मेसेज की चेन बन जाती है।

टेलीग्राम

टेलीग्राम पर भी हम व्हाट्सएप की तरह सभी कार्य कर सकते है। टेलीग्राम की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह एप आपके मोबाइल हैंडसेट की मेमोरी को यूज नही करता है। आजकल इस एप का उपयोग भी तेजी से बढ़ रहा है।

इंस्टाग्राम

इंस्टाग्राम का अधिक इस्तेमाल शार्ट मेसेज व फोटो शेयरिंग के लिए किया जाता है। इसका उपयोग सेलेब्रिटीज़ द्वारा अधिक किया जा रहा है। इस पर शेयरिंग करने से एक सीमा के बाद आर्थिक धनार्जन भी होता है।