स्वाधीनता दिवस समारोह-2022 के आयोजन के संबंध में विशेष निर्देश

20220812 225028 | Shivira Hindi News

स्वाधीनता दिवस समारोह-2022 (15 अगस्त, 2022 ) सम्पूर्ण राज्य में गरिमापूर्ण ढंग से मनाया जाये। कार्यक्रमों के आयोजन में कोरोना महागारी के परिप्रेक्ष्य में राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी किये गये दिशा-निर्देशों की पालना भी सुनिश्चित की जाये। इसी के अनुरूप जिला मुख्यालयों/जिलों में निम्नानुसार समारोह आयोजित किये जाने की अपेक्षा की जाती है :

  • समस्त राजकीय भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जायेगा।
  • स्वाधीनता दिवस समारोह 2022 के अवसर पर दिनांक 15 अगस्त, 2022 को संभागीय / जिला मुख्यालयों (जयपुर के राज्य स्तरीय समारोह को छोड़कर) पर आयोजित कार्यक्रमों में ध्वजारोहण के लिये प्रभारी मंत्री महोदय के मनोनयन की सूचना पृथक से भेजी जा रही है। इन स्थानों पर प्रभारी मंत्री महोदय द्वारा ध्वजारोहण किया जायेगा यदि इस अवसर पर प्रभारी मंत्री महोदय उपस्थित न हो तो ऐसी स्थिति में सम्भागीय मुख्यालय पर संभागीय आयुक्त तथा जिला मुख्यालय पर जिला कलेक्टर द्वारा ध्वजारोहण किया जायेगा।
  • संभागीय स्तर व जिला स्तर पर राष्ट्रीय पर्व को समारोह पूर्वक मनाया जायेगा जिसमें अर्द्ध सैनिक थल, पुलिस, एनसीसी, होमगार्ड एवं स्काउट की टुकडियां भाग लेंगी। यथा संभव विद्यालयों के छात्र-छात्राओं द्वारा सामूहिक व्यायाम प्रदर्शन एवं सामूहिक नृत्य, देशभक्ति के गीत गाये जायें।
  • राष्ट्रीय एकता एवं अखण्डता के सन्दर्भ में विभिन्न सम्प्रदायों के कलाकारों को आमंत्रित किया जाये तथा इन भावनाओं को प्रेरित किये जाने वाले कार्यक्रम संगीत समारोह, कवि सम्मेलन, मुशायरे नाटक अखाड़े दंगल, कबड्डी प्रतियोगिता आदि का यथा संभव आयोजन किया जाये।
  • जिलों के मुख्य समारोह में माननीय राज्यपाल महोदय का संदेश पढ़ा जायेगा। यह संदेश पृथक से भेजा जा रहा है।
  • शिक्षण संस्थाएँ अपने यहां समारोह की व्यवस्था करें तथा इस अवसर पर सामूहिक राष्ट्रगान भी करें।
  • राष्ट्रीय एकता को दृष्टिगत रखते हुये विभिन्न समुदायों के व्यक्तियों को आमंत्रित किया जाये एवं कार्यक्रम की व्यवस्था इस प्रकार की जाये कि जनता स्वयं उसमें आगे होकर भाग ले सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिये जिला अधिकारी स्थानीय समितियाँ बनायें ताकि कार्यक्रम भलीभांति उत्साहपूर्वक मनाया जा सके और उसकी क्रियान्विति यथोचित रूप से की जा सके।
  • अखिल भारतीय सेवाओं (ALL INDIA SERVICES) के सेवानिवृत्त अधिकारियों एवं अन्य सेवानिवृत्त अधिकारियों को आमंत्रित किया जाये तथा उनके उचित सम्मान के साथ बैठाने की व्यवस्था की जाये।
  • समस्त स्थानीय संस्थाओं और जन साधारण से अनुरोध किया जाये कि राष्ट्रीय ध्वज अपने-अपने भवनों, निवास स्थानों पर फहरायें।
  • स्थानीय सांसदों, विधायकों एवं जिले के स्वतंत्रता सैनानियों जिलों में निवास कर रहे शहीदों के परिवार के सदस्यों की जिला मुख्यालय, उपखण्ड एवं तहसील मुख्यालय पर आयोजित समारोह में आर्मी रत किया जाये तथा उनके उचित सम्मान के साथ बैठाने की व्यवस्था की जाये।
  • भारत रत्न राजस्थान रत्न, पद्म विभूषण पद्म भूषण तथा पुरस्कार परमवीर चक्र, महावीर चक्र, शीयं चक प्राप्तकर्ताओं तथा राज्यस्तर / जिलास्तर पर पुरस्कृत शिक्षकों को भी आमंत्रित किया जाये।
  • उपखण्ड स्तर के समारोह में सब ‘डेविजनल मजिस्ट्रेट द्वारा राष्ट्रीय झण्डा फहराने का कार्य किया जायेगा तथा राष्ट्रगान होगा।
  • महाविद्यालयों विद्यालयों में छात्र-छात्राओं के राष्ट्रीय कार्यक्रमों एवं लघु बचत, पर्यावरण, वृक्षारोपण, परिवार नियोजन, सामुदायिक ग्राम विकास के समसामयिक बिन्दुओं के अनुकूल कार्यक्रम, वाद विवाद प्रतियोगिता आदि के कार्यक्रम आयोजित किये जाये एवं जन सामान्य को इन कार्यों के लिए प्रेरित किया जाये।
  • पंचायत मुख्यालयों पर सरपंचों द्वारा ध्वज फहराने की रस्म अदा की जायेगी। जिन स्थानों पर पंचायत / नगर निकाय में चुनाव / उपचुनाव संभावित है, उन पंचायत / नगर निकायों के मुख्यालयों एवं बड़े-बड़े गांवों में समारोह में प्राथमिक विद्यालय, उच्च प्राथमिक माध्यमिक विद्यालय उच्च माध्यमिक विद्यालय इत्यादि में से जो भी उच्च स्तर क विद्यालय होगा उसके प्रधानाध्यापक/ प्रधानाचार्य द्वारा ध्वज फहराने की रस्म की जायेगी।
  • नगर निगम / नगर परिषद / नगर पालिका / पंचायती राज संस्थाओं के आम चुनाव / उप चुनाव होने की स्थिति में राज्य निर्वाचन आयोग के द्वारा जारी निर्देशों के अनुरूप कार्यवाही की जावे।
fb img 16603247232011027209368273836581 | Shivira Hindi News
fb img 16603247269082195087374819719287 | Shivira Hindi News

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top