Categories: Astrology

सूर्य का धनु राशि में गोचर (16 दिसंबर, 2021): आपकी राशि के लिए कितना फलदायी है? (Sun Transit In Sagittarius : How Much Fruitful For Your Sign? In Hindi)

यह सच है कि सूर्य ग्रह के अस्तित्व के बिना जीवन का अस्तित्व असंभव होगा। सूर्य सर्वशक्तिमान है और इसकी उपस्थिति जातक के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार आत्मा की ऊर्जा, सूर्य को जातक की आत्मा का कारक माना जाता है। उनकी चरम शक्तियों ने उन्हें हमारे सौर मंडल के पिता या राजा की प्रतिष्ठा दी है। यह सूर्य का प्रकाश है जिसे अन्य ग्रह प्रतिबिंबित करते हैं क्योंकि सूर्य ही प्रकाश का एकमात्र स्रोत है।

जातक की कुंडली में सूर्य की स्थिति व्यक्ति के जीवन में अच्छे और बुरे परिणाम देती है। जब दृढ़ता से रखा जाता है, तो व्यक्ति समाज में बहुत सम्मान पाता है और व्यवसाय के क्षेत्र में उत्कृष्टता प्राप्त करता है। हालाँकि, कुंडली में सूर्य की कमजोर स्थिति व्यक्ति को अहंकारी महसूस करा सकती है और भावनात्मक और मानसिक विकार भी पैदा कर सकती है।

सूर्य का धनु राशि में गोचर : 16 दिसंबर, 2021 (Sun Transit in Sagittarius : December 16, 2021 In Hindi) :

ऊर्जा और प्रकाश का ग्रह सूर्य 16 दिसंबर 2021 को सुबह 3:28 बजे धनु राशि में गोचर करेगा। यह 14 जनवरी, 2022, दोपहर 2:29 बजे तक उसी राशि में अपनी स्थिति बनाए रखेगा और उसके बाद मकर राशि में चला जाएगा। (अधिक जानकारी के लिए)।

हम दिन और रात की एक साधारण घटना से सूर्य के महत्व को समझ सकते हैं। दिन के समय सूर्य की उपस्थिति खुशी, आशा और सकारात्मक ऊर्जा लाती है, जबकि रात में इसकी अनुपस्थिति अंधकार लाती है।

सिंह राशि के स्वामी सूर्य हैं। यह मेष राशि में उच्च का और तुला राशि में नीच का होता है। यह एक राशि में एक महीने तक रहता है।

आइए अब राशि-वार विस्तृत जानकारी पर ध्यान दें और देखें कि सितारों के पास आपके लिए क्या है।

मेष राशि (Aries In Hindi) :

इस दौरान पंचम भाव का स्वामी सूर्य मेष राशि के नवम भाव में स्थित होगा।

वृषभ राशि (Taurus In Hindi) :

इस समय वृष लग्न के लिए सूर्य अष्टम भाव में धनु राशि में रहेगा।

मिथुन राशि (Gemini In Hindi) :

इस समय गोचर के दौरान जातकों के लिए सूर्य, जो तीसरे भाव का स्वामी है, सप्तम भाव में रहेगा।

कर्क राशि (Cancer In Hindi) :

इस समय कर्क लग्न के जातकों के लिए द्वितीय भाव का स्वामी सूर्य छठे भाव में विराजमान होगा।

सिंह राशि (Leo In Hindi) :

इस समय सिंह राशि के जातकों के लिए उदय राशि स्वामी सूर्य पंचम भाव में रहेगा इस समय भाग्य का साथ रहेगा।

कन्या राशि (Virgo In Hindi) :

इस समय कन्या राशि के जातकों के लिए बारहवें भाव का स्वामी सूर्य चतुर्थ भाव में रहेगा।

तुला राशि (Libra In Hindi) :

इस समय तुला राशि के जातकों के लिए एकादश भाव का स्वामी सूर्य तीसरे भाव में गोचर करेगा।

वृश्चिक राशि (Scorpio In Hindi) :

इस समय वृश्चिक राशि के जातकों के लिए दशम भाव का स्वामी सूर्य दूसरे भाव में विराजमान रहेगा।

धनु राशि (Sagittarius In Hindi) :

इस समय भाग्य और भाग्य के नवम भाव के स्वामी सूर्य जातक के पहले भाव में विराजमान होंगे।

मकर राशि (Capricorn In Hindi) :

इस समय मकर राशि के जातकों के लिए अष्टम भाव का स्वामी सूर्य बारहवें भाव में गोचर करेगा।

कुंभ राशि (Aquarius In Hindi) :

इस समय सप्तम भाव का स्वामी सूर्य एकादश भाव में आय और लाभ के भाव में रहेगा।

मीन राशि (Pisces In Hindi) :

इस समय मीन राशि के जातकों के लिए छठे भाव का स्वामी सूर्य दशम भाव से गोचर करेगा।