Categories: Health

दांतों की सड़न कारण व उपचार (Tooth Decay Problems in Hindi)

दांतों की सड़न कारण व उपचार (Tooth Decay Problems in Hindi) :

दांतों की सड़न कारण व उपचार - हमारे दांतो में Calcium (कैल्शियम) ,Phosphorus (फॉस्फोरस) और अन्य खनिज से मिलकर बने होते है। शरीर का सबसे कठोर भाग दांत ही होते है लेकिन लापरवाही और awareness (जागरूकता) देखभाल ना होने की वजह से Tooth Decay (दांत सड़न) के शिकार हो जाते हैं।

दांतों की सड़न का कारण (Causes of Tooth Decay in Hindi) :

यों तो दांतों की सड़न एक आम समस्या है लेकिन ये मुंह के अन्दर होती है तो किसी और को दिखाई नहीं देती है तो हम इसको नजरंदाज कर देते है लेकिन हमारा नजरंदाज करना ही दांतो के लिए एक समस्या बन जाता है । दांतो की सड़न के यह कारण हो सकते है -

  • खान-पान = खाद्य प्रदार्थ जिसमें Carbohaydred (कार्बोहायड्रेट) और शक्कर की मात्रा अधिक होती है जिससे दांतों की सड़न का खतरा रहता है,  खाद्य प्रदार्थ जैसे की -
    • Toffy (टॉफ़ी)
    • Sweets मिठाई
    • Chips पोटैटो चिप्स
  • दांतों की सफाई = दांतों को ठीक तरह से साफ़ ना करना सड़न को बुलावा देने जैसा है। प्रतिदिन दांतों को दो वक्त साफ़ करना
    जरुरी है। जिससे मुंह मे मौजूद बैक्टीरिया को कम कर साथ में फंसे हुए खाद्य प्रदार्थ को भी साफ़ कर सकते हैं। दांतों को साफ़ रखने के लिए ब्रश करना, फ्लॉस करना और माउथवाश का प्रयोग करना चाहिए।

दांतों के सड़न के लक्षण (Symptoms of Tooth Decay in Hindi) :

दांतों की सड़न के लक्षण यह होते है की दांतो की उपरी सतह पर भूरे रंग जैसा निशान होना । धीरे-धीरे यह निशान बड़ा होता जाता है यह एक छेद का रूप ले लेता है और उस छेद में खाना फंसना शुरू हो जाता है। खाना फंसने से दांतो में सड़न की प्रक्रिया बढ़ जाती है और छेद गहरा होता जाता है और अंदरूनी सतह (डेंटिन) में पहुँच जाता है तब हमें ठंडे या मीठे से झनझनाहट महसूस होती है। जब सड़न बहुत ज्यादा बढ़ जाए तो वह पल्प (दांतों की नस) तक पहुँच जाती है और इससे दांत संक्रमित हो जाते है,तब दांतों में तेज दर्द होता है।

दांतों की सड़न से बचाव (Prevention of Tooth Decay in Hindi) :

  • 6 महीने में दांतों को चिकित्सक से जांच
  • कांच के सामने खड़े हो कर ब्रश करें
  • दिन में 2 बार दांतों को साफ़ करें, सुबह और रात को सोने से पहले ।
  • ब्रश को ज्यादा जोर से ना रगड़े
  • ब्रश सही तरीके से करें
  • माउथवाश का उपयोग करें।
  • मीठा और चिपचिपे पदार्थ ना खाएं
  • Cake , Toffy , Chips का उपयोग कम करें
  • भोजन में साबुत अनाज का उपयोग करें
  • Soda (सोडा), Cold-Drinks (कोल्ड ड्रिंक्स) का इस्तेमाल कम करें
  • धूम्रपान ना करें , तम्बाकू आदि का उपयोग ना करें

दांतों में सड़न की समस्या है तो अपनाएं यह घरेलू उपाय (Home Remedies to Cure Dental Problems in Hindi) :

  1. लौंग – दांतों की किसी भी समस्या से बचाव के लिए लौंग बहुत लाभकारी होता है। लौंग में दातों की सड़न के लिए बैक्टीरिया को पनपने से रोकने का गुण पाया जाता है। लौंग को दांतों के नीचे दबाकर इसके रस को चूसते रहने से दांत नहीं सड़ते
  2. लहसुन – दांतो में बैक्टीरिया से लड़ने में लहसुन काफी मददगार साबित है। प्रतिदिन 1-2 लहसुन दांतो से चबाकर खाएं तो दांतो के सड़ने की समस्या नहीं होगी।
  3. नीम - नीम का दातुन इसका इस्तेमाल प्राचीन काल से ही दांतों को साफ करने के लिए किया जाता रहा हैनीम के दातुन से सांसों में बदबू नहीं आएगी
  4. अमरूद - अमरूद के पत्तों का
    उपयोग कई घरेलू उपचार में किया जाता है। अमरूद के नये पत्ते दांतों के दर्द के लिए बहुतअसरकारक होते हैं। नये पत्ते अच्छे से साफ करके हल्के-हल्के चबाना इसके अलावा उन्हें पानी में उबालकर उस पानी से कुल्ला करना
  5. प्याज - प्याज में एंटिसेप्टिक पदार्थों की मौजूदगी दांतों के दर्द को कम करती है। प्याज के टुकड़े को दांतों से धीरे-धीरे हल्का-हल्का चबाने से दांतो की सड़न व बदबू कम होगी है।

यह भी पढ़े :

दांतों की सड़न का इलाज (Tooth Decay Treatment in Hindi) :

  • दांतों में सड़न हो गयी है तो दन्त चिकित्सक से परामर्श लें
  • दांतो में सड़न कम हो तो और सड़न दांतों की उपरी सतह पर हो तो दन्त चिकित्सक उसे साफ़ करके उस छेद में Filing (फिलिंग)(कोचर ) भर देते हैं यह Filing (फिलिंग)(कोचर ) दांत के रंग की भी हो सकती है और Metalic (मेटालिक) की भी हो सकती है, ।
  • अगर सड़न से दांत का बड़ा हिस्सा ख़राब हो जाता है और tooth pain की शिकायत हो तो dentist चिकित्सक द्वारा दिए गए निर्देशों को अपनाना चाहिये
  • ज्यादा सड़े हुए दांतों को Root Canal Therapy ( दांतों की नस का इलाज) के द्वारा ठीक किया जा सकता है
  • ज्यादा सड़न और पूरी तरह खराब हो चुके दांतों को निकाल कर उस जगह पर कृत्रिम दांत भी लगाये जा सकते है।