Categories: Full Form
| On 2 weeks ago

UGC CSIR Full Form in Hindi | यूजीसी सीएसआईआर का फुल फॉर्म क्या है?

UGC CSIR Full Form in Hindi | यूजीसी सीएसआईआर का फुल फॉर्म क्या है?

दोस्तों यहाँ हम UGC CSIR Full Form in Hindi के बारे में जानेंगे ,जो की "कॉउन्सिल ऑफ़ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च " होती है | सीएसआईआर का फुल फॉर्म “Council of Scientific and Industrial Research” होता है | वहीं इसका हिंदी में उच्चारण “कॉउन्सिल ऑफ़ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च” होता है | इसे हिंदी भाषा में “वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद” कहा जाता है।

UGC CSIR Full Form in Hindi | यूजीसी सीएसआईआर के अलावा यूजीसी सीएसआईआर से जुडी विशेष जानकारियां|

सीएसआईआर मुख्य रूप से एक स्वायत्त निकाय के रूप में स्थापित किया गया है, जो भारत में सबसे बड़े अनुसंधान और विकास संगठन के रूप में जाना जाता है। सीएसआईआर की अनुसंधान और विकास गतिविधियों में एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, संरचनात्मक इंजीनियरिंग, महासागर विज्ञान, जीवन विज्ञान, धातु विज्ञान, रसायन, खनन, भोजन, पेट्रोलियम, चमड़ा और पर्यावरण विज्ञान शामिल हैं।  इसी तरह वर्तमान समय में सीएसआईआर के अधीन 38 अनुसंधान प्रयोगशालाएं देश में कार्यरत है।

सीएसआईआर के अंतर्गत आने वाले UGC /CSIR NET के विषय

  1. Physical Science
  2. Chemical Science
  3. Biological Science
  4. Mathematical Science

वहीं इसकी ऑफिसियल वेबसाइट http://www.csir.res.in/ है |

सीएसआईआर के अध्यक्ष – भारत के प्रधानमंत्री है।

महा निदेशक – परमवीर सिंह आहूजा है

सीएसआईआर की गिनती World में इस प्रकार के 2740 संस्‍थानों में 81वें स्‍थान पर की जाती है |

  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के विविध क्षेत्रों में अपने अग्रणी अनुसंधान एवं विकास ज्ञानाधार के लिए ज्ञात एक वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) समसामयिक अनुसंधान एवं विकास संगठन है। संपूर्ण भारत में मौजूदगी के चलते सीएसआईआर का 38 राष्‍ट्रीय प्रयोगशालाओं, 39 दूरस्‍थ केन्‍द्रों, 3 नवोन्‍मेषी कॉम्‍प्‍लेक्‍सों और 5 यूनिटों का सक्रिय नेटवर्क है। सीएसआईआर की अनुसंधान एवं विकास सुविज्ञता तथा अनुभव इसके लगभग 4600 सक्रिय वैज्ञानिकों में सन्निहित / समाविष्‍ट हैं जिन्‍हें लगभग 8000 वैज्ञानिक एवं तकनीकी कार्मिकों की सहायता प्राप्‍त है।
  • सीएसआईआर रेडियो और अंतरिक्ष भौतिकी, महासागर विज्ञान, भूभौतिकी, रसायन, औषध, जीनोमिकी, जैवप्रौद्योगिकी और नैनोप्रौद्योगिकी से खनन, वैमानिकी, उपकरणन, पर्यावरणीय इंजीनियरी तथा सूचना प्रौद्योगिकी तक के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के व्‍यापक विषयों व क्षेत्रों में कार्य कर रहा है। यह सामाजिक प्रयासों से जुड़े अनेक क्षेत्रों में महत्‍वपूर्ण प्रौद्योगिकीय अंतराक्षेपण उपलब्‍ध कराता है जिसमें पर्यावरण, स्‍वास्‍थ्‍य, पेयजल, खाद्य, आवास, ऊर्जा, कृषि एवं गैर-कृषि क्षेत्र शामिल हैं। इसके अतिरिक्‍त, वैज्ञानिक एवं तकनीकी मानव संसाधन विकास में सीएसआईआर की भूमिका उल्‍लेखनीय है।
  • सीएसआईआर ने उद्यमशीलता को प्रोत्‍साहन देने के लिए वांछित क्रियाविधि तैयार की है जिससे नए आर्थिक क्षेत्रों के विकास को नया आधार बनाते हुए मूल और बृहत नवोन्‍मेषों के सृजन और वाणिज्यीकरण को प्रोत्‍साहन दिया जा सकेगा ।
  • सीएसआईआर ने नवीन विज्ञान और उन्‍नत ज्ञान के क्षेत्रों में
    अग्रणी कार्य किया है। सीएसआईआर का वैज्ञानिक स्‍टाफ भारत की वैज्ञानिक जनशक्ति का लगभग 3-4 प्रतिशत है किंतु भारत के वैज्ञानिक निर्गत में उनका योगदान लगभग 10 प्रतिशत है । वर्ष 2012 में, सीएसआईआर ने प्रति शोधपत्र 2.673 के औसत प्रभाव घटक सहित साइंस जर्नलों में 5007 शोधपत्र प्रकाशित किए। वर्ष 2013 में, सीएसआईआर ने प्रति शोधपत्र 2.868 के औसत प्रभाव घटक सहित साइंस जर्नलों में 5086 शोधपत्र प्रकाशित किए।
  • भारत के बौद्धिक संपदा आंदोलन का पथ प्रदर्शक सीएसआईआर वर्तमान में प्रौद्योगिकी के चयनित क्षेत्रों में देश को अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर नेतृत्‍व दिलवाने के लिए अपने पेटेंट पोर्टफोलियो को सुदृढ़ कर रहा है। सीएसआईआर को किसी भी भारतीय सार्वजनिक वित्‍तपोषित अनुसंधान एवं विकास संगठन को स्‍वीकृत अमरीकी पेटेंटों के 90 प्रतिशत पेटेंट स्‍वीकृत किए गए हैं। सीएसआईआर प्रतिवर्ष औसतन लगभग 200 भारतीय पेटेंट और 250 विदेशी पेटेंट फाइल करता है। सीएसआईआर के लगभग 13.86% पेटेंटों को लाइसेंस प्राप्‍त है - यह संख्‍या वैश्विक औसत से अधिक है। विश्‍व में सार्वजनिक रूप से वित्‍तपोषित अपने पीयर अनुसंधान संगठनों में सीएसआईआर विश्‍वभर में पेटेंट फाइल और अर्जित करने में सबसे आगे है।

UGC CSIR Full form in Hindi | UGC CSIR Eligibility Criteria | यूजीसी सीएसआईआर परीक्षा हेतु पात्रता मानदंड |

  • CSIR UGC NET 2020 परीक्षा राष्ट्रीय स्तर की सबसे कठिन परीक्षा है। सीएसआईआर नेट 2020 परीक्षा जूनियर रिसर्च फेलोशिप (JRF) या लेक्चरशिप (LS) के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों की योग्यता की जांच करने के लिए आयोजित किया जाता है।
  • सीएसआईआर नेट 2020 द्वारा संचालित किया जाता है HRDG (मानव संसाधन विकास समूह) वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद। यह एक प्रमुख राष्ट्रीय R & D संगठन है और दुनिया के सबसे बड़े सार्वजनिक रूप से वित्त पोषित R & D संगठनों में से एक है। CSIR संयुक्त का आयोजन करता है सीएसआईआर नेट यूजीसी, जो विज्ञान, जीवन विज्ञान, भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणितीय विज्ञान और पृथ्वी के वायुमंडलीय महासागर और ग्रह विज्ञान सहित विज्ञान के क्षेत्र में एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है।
  • साइंस स्ट्रीम में मास्टर डिग्री हासिल करने या उसका पीछा करने वाले उम्मीदवार केवल CSIR NET 2020 परीक्षा देने के लिए पात्र हैं। मास्टर्स में उम्मीदवारों के कम से कम 55% अंक होने चाहिए, यदि वे सामान्य / ओबीसी श्रेणी के हैं या यदि वे एससी / एसटी / पीडब्ल्यूडी श्रेणियों से संबंधित हैं, तो उन्हें कुल 50% अंक प्राप्त करने चाहिए।
  • जिन अभ्यर्थियों ने मास्टर डिग्री में कम से कम 55% अंक (बिना राउंड ऑफ) प्राप्त किए हों या यूजीसी द्वारा मानविकी (भाषाओं सहित) और सामाजिक विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान और अनुप्रयोग, इलेक्ट्रॉनिक विज्ञान आदि में मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों / संस्थानों से समकक्ष परीक्षा इसके लिए पात्र हों। परीक्षा।
  • आरक्षित श्रेणी के लिए: अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) गैर क्रीमी लेयर / अनुसूचित जाति (एससी) / अनुसूचित जनजाति (एसटी) / विकलांग व्यक्ति (पीडब्ल्यूडी) श्रेणी के उम्मीदवारों से संबंधित है, जिन्होंने कम से कम 50% अंक प्राप्त किए हैं (बिना बंद किए) मास्टर डिग्री या समकक्ष परीक्षा में इस परीक्षा के लिए पात्र हैं।

CSIR NET 2020 परीक्षा के लिए आयु सीमा:

CSIR UGC NET 2020 परीक्षा के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की अधिकतम आयु 28 वर्ष है। अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / अन्य पिछड़ा वर्ग / पीडब्ल्यूडी / महिला आवेदकों को आयु मानदंड में 5 वर्ष तक की छूट दी गई है। असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए कोई आयु मानदंड नहीं है।

यदि आप एक विज्ञान के छात्र हैं और एक जूनियर रिसर्च फेलो या सहायक प्रोफेसर के रूप में अपने करियर को आगे बढ़ाने के लिए तैयार हैं, तो आपको इस परीक्षा का लक्ष्य बनाना चाहिए। अन्यथा आप जा सकते हैं यूजीसी नेट परीक्षा ।

सीएसआईआर नेट / जेआरएफ परीक्षा पात्रता:

1. सीएसआईआर नेट लाइफ साइंसेज के लिए पात्रता

जीवन विज्ञान के लिए सीएसआईआर नेट पात्रता के अनुसार, उम्मीदवारों के पास जीवन विज्ञान में उपर्युक्त से केवल एक डिग्री होनी चाहिए।

2. सीएसआईआर नेट केमिकल साइंस एलिजिबिलिटी

CSIR पात्रता के अनुसार, उम्मीदवारों के पास ऊपर उल्लेखित आवश्यक प्रतिशत के साथ रसायन विज्ञान में M.Sc./BS/B-Tech या समकक्ष योग्यता होनी चाहिए।

3. सीएसआईआर नेट पृथ्वी विज्ञान पात्रता

सीएसआईआर परीक्षा पृथ्वी विज्ञान के लिए पात्रता दिशानिर्देशों में कहा गया है कि उम्मीदवारों को आवश्यक पात्रता मानदंड के भीतर M.Sc./BS-MS/BS-4/B-Pharmacy या पृथ्वी विज्ञान के क्षेत्र में कोई समकक्ष डिग्री पूरी करनी चाहिए।

4. सीएसआईआर नेट मैथ्स के लिए पात्रता मानदंड

CSIR NET 2020 के उम्मीदवारों को M.Sc./BS-MS/BS/B-Tech में गणित या गणित के लिए CSIR पात्रता शर्तों को पूरा करने के लिए गणित के किसी भी समकक्ष अध्ययन के लिए एक वैध डिग्री की आवश्यकता है।

5. सीएसआईआर नेट भौतिकी के लिए पात्रता

इसके अनुसार सीएसआईआर यूजीसी नेट 2020 भौतिक विज्ञान के लिए योग्यता, उम्मीदवारों के पास एम.एससी की मान्य डिग्री होनी चाहिए। भौतिकी या भौतिकी या किसी भी प्रासंगिक डिग्री में बीएस या एमएस आवश्यक प्रतिशत के भीतर उत्तीर्ण।

राष्ट्रीयता संबंधी सीएसआईआर नेट 2021 पात्रता मानदंड (CSIR NET  eligibility criteria on the basis of nationality)

सीएसआईआर नेट 2021 में भाग लेने के लिए इच्छुक उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए।

सीएसआईआर नेट 2021 आयु संबंधी पात्रता मानदंड (CSIR NET eligibility criteria on the basis of age)

सीएसआईआर यूजीसी नेट परीक्षा 2021 हेतु पात्र होने के लिए उम्मीदवारों को एक निश्चित आयु का होना चाहिए। जॉइंट रिसर्च फेलोशिप के लिए 1 जुलाई, 2021 तक आवेदक की अधिकतम आयु 28 वर्ष होनी चाहिए। हालांकि आरक्षित श्रेणियों के आवेदकों को ऊपरी आयु सीमा में छूट दी गई है। नीचे दी गई तालिका में आवेदकों को श्रेणी के अनुसार अधिकतम उम्र सीमा में मिलने वाली छूट की जानकारी दी गई है।

सीएसआईआर नेट 2021 शैक्षणिक योग्यता (CSIR NET Eligibility Criteria Education Qualification)

  • सामान्य (यूआर)/सामान्य-ईडब्ल्यूएस और ओबीसी उम्मीदवार को सीएसआईआर यूजीसी नेट के लिए पात्र होने के लिए कम से कम 55% अंकों के साथ एमएससी या समकक्ष डिग्री/इंटीग्रेटेड बीएस-एमएस/बीएस-4 वर्षीय/बीई/बीटेक/ बीफार्मा/एमबीबीएस उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • ऐसे सभी उम्मीदवार जो एमएससी के लिए नामांकित हैं या स्नातक हो चुके हैं, वे इस शर्त पर सीएसआईआर यूजीसी नेट 2021 के लिए आवेदन कर सकते हैं कि वे दो वर्ष के भीतर आवश्यक अंकों के साथ आवश्यक डिग्री पूरी करेंगे।
  • एससी/एसटी और विकलांग (पीडब्ल्यूडी) उम्मीदवारों को सीएसआईआर यूजीसी नेट के लिए पात्र होने के लिए कम से कम 50% अंकों के साथ एमएससी या समकक्ष डिग्री/इंटीग्रेटेड बीएस-एमएस/बीएस-4 वर्षीय/बीई/बीटेक/ बीफार्मा/एमबीबीएस उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • कम से कम 55% अंक (सामान्य उम्मीदवारों के लिए) और एससी/एसटी/पीडब्ल्यूडी के लिए 50% अंकों के साथ बीएससी (ऑनर्स) या समकक्ष डिग्री धारक या ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने एकीकृत एमएस-पीएचडी प्रोग्राम में दाखिला लिया है वे भी इसके लिए पात्र होंगे।
  • स्नातक की डिग्रीधारी केवल ऐसे ही उम्मीदवार फेलोशिप के लिए पात्र होंगे जिन्होंने दो साल की अवधि के भीतर पीएचडी/एकीकृत पीएचडी कार्यक्रम के लिए पंजीकरण करा लिया होगा।
  • जिन उम्मीदवारों ने कम से कम 50% अंकों के साथ 19 सितंबर 1992 से पहले मास्टर डिग्री हासिल की है वे केवल लेक्चरशिप के लिए आवेदन करने हेतु पात्र हैं।

सीएसआईआर नेट 2021 के लिए लेक्चररशिप/जेआरएफ परीक्षा हेतु पात्रता (CSIR NET  Eligibility for LS/JRF Exam)

  • जीवन विज्ञान के लिए सीएसआईआर नेट 2021 पात्रता: जीवन विज्ञान के लिए सीएसआईआर नेट पात्रता के अनुसार उम्मीदवार को जीवन विज्ञान में अकादमिक योग्यताधारक होना चाहिए।
  • पृथ्वी विज्ञान के लिए सीएसआईआर नेट 2021 पात्रता: पृथ्वी विज्ञान के लिए सीएसआईआर यूजीसी नेट पात्रता मानदंड के अनुसार उम्मीदवार ने पृथ्वी विज्ञान के क्षेत्र में एमएससी/बीएस-एमएस/4 वर्षीय बीएस/बीफार्मा या किसी समकक्ष डिग्री की पढ़ाई पूरी की हो।
  • केमिकल साइंस के लिए सीएसआईआर यूजीसी नेट 2021 पात्रता: उम्मीदवारों को तय आवश्यक प्रतिशत के साथ रसायन विज्ञान में एमएससी/बीएस/बीटेक या समकक्ष मान्य योग्यताधारी होना चाहिए।
  • भौतिक विज्ञान के लिए सीएसआईआर नेट 2021 पात्रता: भौतिक विज्ञान के लिए निर्धारित सीएसआईआर यूजीसी नेट पात्रता मानदंडों के अनुसार उम्मीदवार का भौतिक विज्ञान में एमएससी होना आवश्यक है।
  • गणित के लिए सीएसआईआर नेट 2021 पात्रता: सीएसआईआर नेट (CSIR NET) के उम्मीदवारों को मैथ्स के लिए तय सीएसआईआर यूजीसी पात्रता शर्तों को पूरा करने के लिए गणित में एमएससी/बीएस-एमएस/बीएस/बीटेक या गणित में कोई समकक्ष डिग्रीधारी होना चाहिए।

जूनियर रिसर्च फेलोशिप और लेक्चरशिप के लिए चयन (Selection for Junior Research Fellowship and Lectureship)

  • सीएसआईआर यूजीसी नेट आवेदन भरते समय
    उम्मीदवारों को उन पदों का उल्लेख करना होता है जिनके लिए वे आवेदन कर रहे हैं। पात्रता के अनुसार उम्मीदवारों को जेआरएफ और/या लेक्चररशिप को अपनी वरीयता देने की आवश्यकता होती है।
  • जेआरएफ के लिए आवेदन करने वाला उम्मीदवार यदि लेक्चररशिप के लिए तय पात्रता मानदंडों को पूरा करता है तो जेआरएफ और एलएस दोनों के लिए उनकी उम्मीदवारी पर विचार किया जाएगा।
  • यदि जेआरएफ (नेट) के लिए उम्मीदवार की आयु अधिक है तो उन्हें केवल लेक्चररशिप (नेट) के योग्य माना जाएगा।
  • उम्मीदवार द्वारा आवेदन पत्र में भरे गए विकल्प/वरीयता अंतिम होगी और बाद में किसी भी स्तर पर परिवर्तन के अनुरोध को स्वीकार नहीं किया जाएगा।
  • एमएससी उम्मीदवार या एमएससी रिजल्ट प्रतीक्षित श्रेणी के उम्मीदवार उम्मीदवार लेक्चरशिप के लिए पात्र होंगे बशर्ते यूजीसी द्वारा निर्धारित पात्रता मानदंड को पूरा करते हों।

सीएसआईआर यूजीसी नेट में अधिकतम प्रयासों की कोई सीमा नहीं है। हालांकि, जेआरएफ श्रेणी के लिए उम्मीदवार केवल 28 साल की आयु तक ही आवेदन कर सकते हैं। इससे अधिक आयु वाले केवल लेक्चररशिप के लिए आवेदन कर सकेंगे। परिणाम की घोषणा के बाद से जेआरएफ सर्टिफिकेट 3 वर्ष के लिए वैध रहता है। हालांकि लेक्चररशिप के लिए कोई वैधता सीमा निर्धारित नहीं है। नेट के लिए बीएड की अनिवार्यता नहीं है। एमएससी उम्मीदवार सीएसआईआर नेट पात्रता मानदंड 2021 के अनुसार ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

दोस्तों, अब तक आप जान चुके है यूजीसी सीएसआईआर की फुल फॉर्म के बारे में (UGC CSIR Full Form in Hindi ), अब जानते है -