Categories: News
| On 3 weeks ago

UGC-NET परीक्षा आवेदन की अंतिम तिथि 5 सितम्बर, जल्दी करें आवेदन

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने यूजीसी नेट (UGC) अक्टूबर एग्जामिनेशन 2021 के लिए आवेदन मांगे हैं। इस परीक्षा के लिए योग्य आवेदक 5 सितम्बर 2021 तक आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। नेट की परीक्षा 6 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी।एनटीए की ओर से जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक योग्य अभ्यर्थी 5 सितम्बर तक आवेदन कर सकेंगे वहीं 6 सितम्बर तक आवेदन शुल्क जमा करवाना होगा। इसके अलावा 7 से 12 सितम्बर तक आवेदक अपने फाॅर्म में करेक्शन करवा सकता है। नेट परीक्षा में आवेदन के लिए उम्र की कोई सीमा निर्धारित नहीं की गई है।

यदि आपने भी अभी तक आवेदन नहीं किया है तो आवेदन करने की अंतिम तारीख 5 सितम्बर है। आपको बता दें की कोरोना महामारी के चलते कई बार नेट की परीक्षा तिथि में बदलाव

किया गया है। वहीं सेंटरों पर परीक्षा के दौरान कोरोना को लेकर सरकारी गाइडलाइन का उलंघन नहीं हो इसके लिए भी विशेष एतिहात बरती जा रही है। यदि आपका सपना भी यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफेसर या लेक्चरार बनकर विद्यार्थियों को पढाने का है तो आप इस नेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा आप यूजीसी के पोर्टल पर स्वयं से संबंधित जानकारी रजिस्टर कर सकते हैं। जहां यूजीसी की ओर से जारी होने वाले विभिन्न एग्जाम शेड्यूल, नौकरी आदि के बारे में अपडेट प्राप्त कर सकते हैं। तो देर किस बात की मजबूत इरादों व आत्मविश्वास के साथ इस परीक्षा को पास कर अपने सपनों को साकार करें।

कौन कर सकता है आवेदन


एनटीए की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक इस परीक्षा में आवेदन करने वाले

आवेदक का न्यूनतम 55 फीसद अंको के साथ मास्टर डिग्री का होना आवश्यक है। नेट जेआरएफ के लिए आवेदन की अधिकतम उम्र 30 वर्ष रखी गई है। वहीं नेट परीक्षा में आवेदन के लिए उम्र की कोई सीमा निर्धारित नहीं की गई है। आपको बता दें की विश्वविद्यालय में प्रोफेसर बनने व स्टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए नेट पास आउट होना जरूरी है।

कितना देना होगा शुल्क


नेट परीक्षा के लिए जनरल वर्ग के आवेदकों को 1 हजार रूपए का आवेदन शुल्क देना होगा। वहीं ओबीसी व आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग ईडब्ल्यूएस के लिए 500 रूपए का आवेदन शुल्क जमा करवाना होगा। इसके अलावा एससी-एसटी व दिव्यांग आवेदकों को आवेदन के लिए 250 रूपए जमा करवाने होंगे। आवेदन शुल्क डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग सहित ई-चालान के द्वारा जमा करवाया जा सकता है।

नेट जेआरएफ के फायदे


यदि आप भी नेट जेआरएफ परीक्षा पास करते हैं तो आपको हर माह यूनिवर्सिटी से 30 से 35 हजार रूपए फैलोशिप की राशि मिलती है। नेट एग्जाम क्लियर करने के बाद पीएचडी भी कर सकते हैं। वहीं असिस्टेंट प्रोफेसर या लेक्चरर पद के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

नेट क्लीयर करने के फायदे


यूजीसी नेट क्लीयर करने के भी कई लाभ है। आपको बता दें की नेट का सर्टिफिकेट एक बार पास करने के बाद लाइफटाइम तक वैलिड रहता है। वहीं जेआरएफ की वैलिडिटी 3 वर्ष के लिए होती है। नेट करने के बाद आप किसी भी विश्वविद्यालय से संबंधित विषय में आसानी से पीएचडी कोर्स कर सकते हैं। इसके लिए आपको एंट्रेंस एक्जाम भी नहीं देना होगा। सरल शब्दों में बताया जाए तो

आपको अन्य स्टूडेंट्स के मुकाबले वरीयता दी जाएगी। वहीं पीएचडी करने के बाद आप अपने नाम के आगे डाॅ. लगा सकते हैं। वहीं आप जो भी रिर्सच करते हैं उसके दम पर किसी भी संस्थान, मंच पर अपना पक्ष तथ्यों के साथ रख सकेंगे। आपका जीवन स्तर उच्च का होगा।

कैसे करें आवेदन


यूजीसी नेट के लिए आवेदन करने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की आफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। यहां नेट से संबंधित लिंक पर क्लिक करके आवेदन किया जा सकता है।