Categories: Articles
| On 3 years ago

USA- Top ten hurdles.

अमेरिका के सामने सबसे बड़े 10 खतरे।

अमेरिका विश्व की महाशक्ति होने के बावजूद भी आज कई गम्भीर समस्याओं का सामना कर रहा है। उनमें से प्रमुख 10 समस्याएं निम्नानुसार हैं।

परमाणु बमो का जखीरा।

आज अमेरिका एवम रूस के पास सबसे ज्यादा परमाणु बम है। चोटी के वैज्ञानिक चाहे कितने भी दावे कर ले लेकिन परमाणु हथियारों का परीक्षण व सरंक्षण पूरी तरह निरापद नही हो सकता। इन हथियारों की खतरनाक होड़ विश्व शांति एवम स्वयम अमेरिका हेतु भी एक बड़ा खतरा है।

उत्तरी कोरिया।

उतरी कोरिया के प्रेसिडेंट किम जोंग-उन से सुलह वार्ता के बावजूद माहौल अंदरूनी शांति प्रतीत नही होती।कठोर अमेरिकी निर्देशो एवम सुलह की शर्तो के कारण निश्चित रूप से उत्तरी कोरिया ने कुछ संयंत्रों को नष्ट किया

है। ये सब एक रणनीति के तहत भी हुआ हो सकता हैं। एक कदम पीछे लेना भी एक बड़ी रणनीति हो सकता है।

चीन के साथ व्यापार युद्ध।

आज अर्थव्यवस्था के मामले में चीन की भारी भरकम अर्थव्यवस्था अमेरिकी अर्थव्यवस्था से बहुत पीछे नही है। अमेरिका द्वारा चीनी माल पर शुल्क वर्द्धि को चीन ने प्रत्यक्ष बहुत हल्के तरीके से लिया है। चीन निर्मित माल के सस्ता होने का मुख्य कारण कम मजदूरी, कठोर नियम एवम उदारता का अभाव है। अमेरिका इन मुद्दों पर चीन का सामना बहुत मुश्किल से कर सकेगा।

विद्यार्थियों में अनुशासनहीनता

आसानी से उपलब्ध होने वाले हथियारों की नीति के चलते आज अमेरिकी विद्यार्थियों के स्कूल बैग में हथियारों की बरामदगी दिखने लगी है। यह बहुत बड़ी चिंता का विषय

है कि कुछेक दुर्घटनाओं में इन हथियारों का प्रयोग स्कूली बच्चों ने किया भी है।

आतंकवाद एवम आतंकवादी घटनाएं

अमेरिकी सुरक्षा व्यवस्था बहुत व्यवस्थित है। अमेरिका अपने बुलन्द हौसलों, राष्ट्रवाद एवम आधुनिक उपकरणों के बल पर अपनी सुरक्षा में कोई कसर नही रखता। इसके उपरांत भी 2001 में हुई निंदनीय आतंकवादी हमले में तकरीबन 3000 निर्दोष नागरिकों की हत्या हुई थी। क्रूर आंतकवाद हर देश के लिए खतरा है एवम यह खतरा अमेरिका को भी रहेगा।

एकल परिवार

विकास कीमत मांगता है। शहरीकरण पर्यावरण को निगल जाता है। व्यापार का विस्तार संयुक्त परिवार व्यवस्था को नष्ट कर देता है। आज सम्पूर्ण विश्व मे एकल परिवार व्यवस्था विकसित हो रही है। एकल परिवार में खुशियां व गम सांझा नही होते और अकेलापन नैराश्य विकसित करता हैं।

बाह्य प्रतिभाओं के आगमन पर रोक

अमेरिका विश्व व्यवस्था का केंद्र बिंदु है। सम्पूर्ण विश्व की प्रतिभाओं ने अमेरिकी विकास में योगदान दिया है। अमेरिकी सरकार की "अमेरिका फर्स्ट" की नीति के कारण व कठोर आव्रजन नियमों के कारण बहुत सी वैश्विक प्रतिभाएं अब अमेरिकी विकल्पों के चयन के स्थान पर अन्य विकल्पों की तलाश कर रही हैं।

मानसिक अवसाद

स्वास्थ्य समन्को के अनुसार मानसिक अवसाद से ग्रसित व्यक्तियों का प्रतिशत सम्पूर्ण विश्व मे तेजी से बढ़ रहा है। मानसिक अवसाद एक विशेष बीमारी है जिसका त्वरित व प्रभावी इलाज उपलब्ध नही हैं। मानसिक अवसाद के अनेक अज्ञात कारणों की खोज जारी है। सम्भवतः प्रकति से खिलवाड़, आवश्यकता से अधिक धनार्जन, पारिवारिक मूल्यों का हनन, सामाजिकता का अभाव जैसे कारण भविष्य में हम स्वीकार करे।

एकाधिकार स्थाई स्तिथी नही

अनेक वर्षों तक अमेरिका ने अन्य देशों पर अपनी बढ़त सभी क्षेत्रों में बनाये रखी। आप हमेशा हर क्षेत्र में स्थायी रूप से आगे नही रह सकते। विगत दो दशकों में अनेक देशों खासकर चीन ने अमेरिका को विभिन्न क्षेत्रों में कठोर टक्कर दी है। आज स्पेस को छोड़कर प्रत्येक क्षेत्र में अमेरिका को संघर्ष करना पड़ रहा है। विश्व को नियंत्रित करने वाली वैश्विक संस्थाओं पर नियमित नियंत्रण भी एक चुनौती हैं

शैक्षिक पाठ्यक्रम

आज अमेरिका वैश्विक नेतृत्व कर रहा है । अमेरिकी शैक्षणिक व्यवस्था में यह तथ्य दर्शित भी होना चाहिए। अमेरिकी शैक्षणिक पाठ्यक्रम में अंतर्राष्ट्रीय भातृत्व, विश्व परिवार, सामुदायिक व्यवहार की कमी भी एक बड़ी समस्या हैं।