Categories: Uncategorized
| On 12 months ago

Vidya Daan 2.0: Portal to strengthen India's online education system

Share

विद्यादान 2.0 : भारत की ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था को मजबूती प्रदान करने हेतु।

भारत सरकार के मानव संसाधन मंत्रालय ने विद्यादान 2.0 पोर्टल आरम्भ किया है। इस पोर्टल के माध्यम से आप देश की शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ करने में अहम भूमिका निभा सकेंगे। आरम्भिक दौर में इसमे हम सीबीएसई पाठ्यक्रम कक्षा 1 से 12 तक की शैक्षिक सामग्री को बनाकर महत्वपूर्ण योगदान कर सकते है।

आइये, इसके बारे में पूर्ण जानकारी प्राप्त करते है।

विद्यादान एक राष्ट्रीय कार्यक्रम है जिसके तहत विभिन्न शिक्षाविदों और संगठनों को पाठ्यक्रम के अनुसार ई-लर्निंग सामग्री विकसित करने और इसमें योगदान देने हेतु आमंत्रित किया गया है। इस प्रकार का सहयोग हम
व्याख्यात्मक वीडियो, एनिमेशन, पथ योजनाओं, मूल्यांकन और प्रश्न बैंक के रूप में प्रदान कर सकेंगे।

आपके द्वारा उपलब्ध करवाई गई सामग्री की शिक्षाविदों द्वारा समीक्षा की जाएगी। समीक्षा के पश्चात इस सामग्री को दीक्षा  पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। दीक्षा पोर्टल भारत सरकार का वेबपोर्टल है। इस पोर्टल को खोलने का लिंक निम्नलिखित है-

https://diksha.gov.in/

दीक्षा एप


दीक्षा एप की पूर्ण जानकारी हेतु निम्नलिखित आलेख को पढ़ सकते है-

https://shivira.com/diksha-national-teachers-platform-for-india/

दीक्षा एप को आप गूगल प्लेस्टोर पर जाकर निम्नलिखित लिंक के माध्यम से डाउनलोड कर सकते है।


https://play.google.com/store/apps/details?id=in.gov.diksha.app

विद्यादान पोर्टल 2.0

इसको निम्नलिखित वेबलिंक से खोल सकते है-

https://vdn.diksha.gov.in/

हिंदी भाषा मे उपलब्धता हेतु-

https://vdn.diksha.gov.in/?utm_source=DIKSHA&utm_medium=landing_page

विद्यादान 2.0 में सक्रिय सहयोग हेतु-

योगदान करने के लिए दिशानिर्देश

कौन योगदान दे सकता है?

जिन व्यक्तियों या संगठनों के पास अच्छी गुणवत्ता वाले ई-लर्निंग संसाधन हैं, उनका विद्यादान कार्यक्रम में योगदान करने का स्वागत है।

व्यक्तियों को योगदानकर्ता के रूप में।

यदि आप एक ऐसे व्यक्ति हैं, जिसके पास ई-लर्निंग कंटेंट है, तो आप विद्यादान के लिए एक व्यक्तिगत योगदानकर्ता के रूप में योगदान कर सकते हैं। यदि आप किसी संगठन का हिस्सा है, तो आपका संगठन भी योगदान दे सकता है।

योगदानकर्ताओं के रूप में संगठन।

यदि आप एक स्कूल, एक डाइट, एक एनजीओ, एक संस्था या एक निजी संगठन है, तो आप आगे आकर विद्यादान कार्यक्रम में योगदान कर सकते हैं।

मैं क्या योगदान कर सकता हूँ?


1. आप अपने "प्रोजेक्ट्स " के रूप में केंद्र / राज्य/संघ राज्य क्षेत्र संगठनों द्वारा निर्धारित विशिष्ट सामग्री आवश्यकताओं के सम्बंधित  ई-लर्निंग संसाधनों का योगदान कर सकते हैं।
2. आपका योगदान किसी परियोजना में परिभाषित विशिष्ट पाठ्यपुस्तकों और सामग्री प्रकारों के सम्बंधित  होना चाहिए।
3. ई-लर्निंग संसाधन वीडियो (mp4), पीडीएफ के रूप में हो सकते हैं। आप विद्यादान पोर्टल पर दिए गए टूल का उपयोग करके प्रश्नों का योगदान कर सकते हैं।

किस स्तर की शैक्षणिक सामग्री अपेक्षित-

आप सामग्री कैसे पोस्ट करेंगे?

आप निम्नलिखित लिंक को खोल लीजिए।

https://diksha.gov.in/auth/realms/sunbird/protocol/openid-connect/auth?client_id=portal&state=c7ac9e9d-cc41-4089-86c8-44af4cb7f6c0&redirect_uri=https%3A%2F%2Fvdn.diksha.gov.in%2Fcontribute%3Fauth_callback%3D1&scope=openid&response_type=code&version=4

इस हेतु वेबसाइट में Nominate to contribute पर क्लिक करना है। इसके उपयोग हेतु आपको दिक्षा पर रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता है।

नोट- यह लेख विद्यादान 2.0 को सपोर्ट करने हेतु लेख लिखा गया है। आप किसी भी सामग्री को पोस्ट करने हेतु अधिकृत वेबसाइट का उपयोग करे। सादर।