Categories: Health

विटामिन ए के फायदे और नुकसान (Vitamin A Benefits and Side Effects in Hindi)

विटामिन A के फायदे और नुकसान - विटामिन अन्य जैविक यौगिकों से भी भिन्न होते हैं। क्योंकि उनके कार्यों को पूरा करने के लिए अपेक्षाकृत कम मात्रा की आवश्यकता होती है। ये कार्य उत्प्रेरक या नियामक प्रकृति के होते हैं, जो शरीर की कोशिकाओं में महत्वपूर्ण रासायनिक प्रतिक्रियाओं को सुविधाजनक और नियंत्रित करते हैं। यदि विटामिन आहार से प्राप्त न हो या शरीर द्वारा ठीक से अवशोषित नहीं किया जाता है, तो एक विशेष रोग का सामना करना पड़ सकता है विटामिन काफी मात्रा में पाये जाते हैं विज्ञान के अनुसार अब तक जिन विटामिन को जांचा गया है वह निम्न है।

विटामिन ए क्या है? (What is Vitamin A in Hindi?) :

विटामिन ए प्राकृतिक खाद्य पदार्थों में कम मात्रा में मौजूद कार्बनिक पदार्थ होते हैं। विटामिन ए एक कार्बनिक यौगिक है, जिसका अर्थ है कि इसमें कार्बन पाया जाता है। यह आवश्यक पोषक तत्व भी है। जिसे भोजन के द्वारा प्राप्त करने की आवश्यकता होती है। Vitamin (विटामिन) हमारे शरीर को सामान्य रूप से बढ़ने और विकसित करने में मदद करते हैं। विटामिन ए आँखों से देखने के लिये आवश्यक होता है। साथ ही यह संक्रामक रोगों से बचाता है। Vitamin (विटामिन) शरीर में अनेक अंगों को सामान्य रूप में बनाये रखने में मदद करता है जैसे कि त्वचा, बाल, नाखून, ग्रंथि, दाँत, मसूड़ा और हड्डी आदि।

पर्याप्त विटामिन ए प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों के साथ संतुलित आहार लेना है। Vitamin (विटामिन) कई कार्बनिक पदार्थों में जो सामान्य स्वास्थ्य और पशु जीवन के उच्च रूपों में वृद्धि के लिए कम मात्रा में आवश्यक होते है। Vitamin (विटामिन) आमतौर पर शारीरिक जरूरतों को पूरा करने के लिए

पर्याप्त मात्रा में संश्लेषित नहीं किया जा सकता है इसलिए इसे आहार से प्राप्त किया जाता है । इसी कारण Vitamin (विटामिन) को आवश्यक पोषक तत्व कहा जाता है।

विटामिन अन्य जैविक यौगिकों से भी भिन्न होते हैं। क्योंकि उनके कार्यों को पूरा करने के लिए अपेक्षाकृत कम मात्रा की आवश्यकता होती है। ये कार्य उत्प्रेरक या नियामक प्रकृति के होते हैं, जो शरीर की कोशिकाओं में महत्वपूर्ण रासायनिक प्रतिक्रियाओं को सुविधाजनक और नियंत्रित करते हैं। यदि Vitamin (विटामिन) आहार से प्राप्त न हो या शरीर द्वारा ठीक से अवशोषित नहीं किया जाता है, तो एक विशेष रोग का सामना करना पड़ सकता है Vitamin (विटामिन) काफी मात्रा में पाये जाते हैं विज्ञान के अनुसार अब तक जिन Vitamin को जांचा गया है वह निम्न है।

  • Vitamin B (विटामिन बी ) जिनमें शामिल हैं-
    • Vitamin B 1 (विटामिन बी 1)
    • Vitamin B 2 (विटामिन बी 2)
    • Vitamin B 3 (विटामिन बी 3)
    • Vitamin B 6 (विटामिन बी 6)
    • Vitamin B 12 (विटामिन बी 12)
    • Pholic Acid (फोलिक एसिड)
    • Pentothenik Acid (पैंटोथेनिक एसिड 4)
    • Biotin (बायोटिन 5)
  • Vitamin C (विटामिन सी)
  • Vitamin D (विटामिन डी)
  • Vitamin E (विटामिन ई)
  • Vitamin K 1 (विटामिन के 1)

विटामिन ए के फायदे और नुकसान (Vitamin A Benefits and Side Effects in Hindi) :

Vitamin (विटामिन) का रासायनिक नाम Retinal (रेटिनॉल) है। इसे एंटीक्सोफोथैलमिक विटामिन भी कहते है विटामिन ए एक वसा में घुलनशील Vitamin (विटामिन) है जो यकृत में जमा होता है।भोजन में दो प्रकार के Vitamin A (विटामिन ए) पाए जाते हैं। प्रीफॉर्मेड विटामिन पशु उत्पादों जैसे मांस, मछली, मुर्गी पालन और डेयरी खाद्य पदार्थों में पाया जाता है।

प्रोविटामिन ए पौधों पर आधारित खाद्य पदार्थों जैसे फलों और सब्जियों में पाया जाता है। Pro Vitamin (प्रो-विटामिन) का सबसे आम प्रकार Vita Cerotin (बीटा-कैरोटीन) है। विटामिन भोजन में भी उपलब्ध है। 

यह रेटिनिल एसीटेट या रेटिनिल पामिटेट पूर्वनिर्मित विटामिन ए, Vita Cerotin बीटा-कैरोटीन (प्रोविटामिन ए) या Pre Farmed प्रीफॉर्मेड और Pro Vitamin (प्रोविटामिन) के संयोजन के रूप में आता है। Vitamin A (विटामिन ए) दो रूपों में पाया जाता है।

1. रेटिनॉल Vitamin A (विटामिन ए) का एक सक्रिय रूप है। यह जानवरों के जिगर, पूरे दूध और कुछ गढ़वाले खाद्य पदार्थों में पाया जाता है।
2. Kerotenoyadas (कैरोटेनॉयड्स) ये गहरे रंग के डाई Pigment (पिगमेंट) होते हैं। जो पौधों के खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं जो Vitamin A (विटामिन ए) को सक्रिय रूप में बदल सकते हैं।

500 से अधिक ज्ञात Kerotenoyad (कैरोटीनॉयड) हैं। ऐसा ही एक Kerotenoyad (कैरोटीनॉयड) Vita Cerotin (बीटा-कैरोटीन) है। Vita Cerotin (बीटा-कैरोटीन) एक Antioxcident (एंटीऑक्सीडेंट) है।Antioxcident (एंटीऑक्सिडेंट) कोशिकाओं को मुक्त कण नामक पदार्थों से होने वाली क्षतियों से बचाता हैं।

Vitamin A (विटामिन ए) के चार मुख्य कार्य हैं:

  • यह संक्रमण के खिलाफ प्रतिरक्षा को मजबूत करता है
  • यह आँखों के लिए एक आवश्यक भूमिका निभाता है जो आँखों को कम रोशनी में देखने में सहायता करता है
  • यह हड्डी के सामान्य विकास में मददगार होता है
  • यह त्वचा और शरीर के स्तर को स्वस्थ रखता है

Vitamin (विटामिन) Cencer (कैंसर) के खतरे को कम करने में भी मदद करता है, क्योंकि यह एक Antioxidant (एंटीऑक्सीडेंट) है। यह शरीर को मुक्त कणों से बचाता है जो शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। 

विटामिन ए के स्रोत (Sources of Vitamin A in Hindi) :

Vitamin (विटामिन) के अच्छे स्त्रोत ये हैं जिनमें अधिक मात्रा में विटामिन पाया जाता हैं जो इस प्रकार है-

  • Carrot गाजर
  • Turnip शलगम/ चकुंदर
  • Sweet Potato शकरकंद
  • Pea मटर
  • Tomato टमाटर
  • Broccoli ब्रोकली
  • Pumpkin कद्दू
  • Whole Grains साबुत अनाज
  • Green Vegetables हरी सब्जियां
  • Orange नारंगी
  • Mango आम
  • Watermelon तरबूज
  • Papaya पपीता
  • Sapodilla चीकू
  • Paneer पनीर
  • Beans राजमा
  • Egg अंडा

विटामिन ए के फायदे (Benefits of Vitamin A in Hindi) :

  1. इम्यून सिस्टम के कार्यों को बेहतर बनाने और हृदय, फेफड़े, किडनी के साथ शरीर के दूसरे आवश्यक अंगों के कार्यों को भी सामान्य रखने के लिए Vitamin A (विटामिन ए) की भूमिका अहम मानी जाती है।
  2. यदि शरीर में Vitamin A (विटामिन ए) की कमी देखने को मिलती है तो इससे शरीर कई समस्याओं से ग्रस्त हो जाता है।
  3. Vitamin A (विटामिन ए) में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होता है, जो शरीर की कोशिकाओं के नुकसान को कम करता है।
  4. Vitamin A (विटामिन ए) मुक्त कणों को टूटने से रोकता है,तथा सूजन जैसी समस्याओं को कम करता है।
  5. Vitamin A (विटामिन ए) आंखों की बीमारियों को कम करता है, इसकी कमी से रतौंधी, आंख के सफेद हिस्से में धब्बे जैसी समस्यांए पैदा हो जाती हैं.
  6. कैंसर को रोकता है।
  7. शारीरिक कार्यों का समर्थन करता है।
  8. दृष्टि में सुधार।
  9. हड्डियों को मजबूत बनाता है।
  10. मांसपेशियों की वृद्धि को बढ़ावा देता है।
  11. मुँहासे कम करता है।
  12. लाल रक्त कोशिका का उत्पादन।
  13. अधिक मात्रा में विटामिन ए लेने से नुकसान (Side Effects of Excess Vitamin A in Hindi) :

Vitamin A (विटामिन ए) पानी में आसानी से घुल जाता है, हमारा शरीर इसे अतिरिक्त मात्रा में लीवर में मुख्य रूप से संग्रहीत कर सकता है।अतिरिक्त मात्रा में Vitamin A (विटामिन ए) से एलर्जी हो सकती है। विटामिन ए के अधिक उपयोग से चेहरा, होंठ, जीभ और गला फूल सकता है इससे इंट्राक्रैनीयल दबाव, चक्कर आना और जोड़ों का दर्द बढ़ सकता है।अत्यधिक मात्रा व्यक्ति कोमा में ले जा सकती है।

यह भी पढ़े :

विटामिन ए की कमी से नुकसान एंव लक्षण (Deficiency Side Effects in Hindi) :

  • लिवर की बीमारी होने कारण शरीर में Vitamin A (विटामिन ए) की कमी हो जाती है।
  • टीबी, यूरिन इन्फेक्शन, कैंसर, निमोनिया, किडनी के संक्रमण के बार-बार पेशाब आने लगता है। बार बार पेशाब आने के कारण Vitamin A (विटामिन ए) की कमी होने लगती है।
  • गर्भवती महिला और नवजात बच्चा व स्तनपान करने वाली महिला में Vitamin A (विटामिन ए) की आंशका बनी रहती है।
  • कुपोषण Vitamin A (विटामिन ए) का सबसे बड़ा कारण है
  • लक्षण -
    • बच्चे का शारीरिक विकास नहीं होना।
    • आंखो की रौशनी कम होना।
    • थकावट महसूस होना।
    • ओठ का फटना।
    • दस्त।
    • मूत्राशय में संक्रमण।
    • चोट जल्दी नहीं भरना।
    • श्वास नली के ऊपरी निचली हिस्से में संक्रमण होना