Watch “Meet 12th Fail DIG – Mr. Manoj Kumar Sharma” on YouTube

images28329 | Shivira Hindi News

‘ट्वेल्थ फेल’ उपन्यास 2005 बैच के IPS अधिकारी श्री मनोज कुमार शर्मा की ज़िंदगी पर आधारित है। श्री मनोज कुमार शर्मा दृष्टि के पुराने विद्यार्थी रहे हैं। बारहवीं क्लास में फेल होने के बाद भी वे न सिर्फ़ IPS में चयनित हुए, बल्कि आज वे एक सफल अधिकारी के तौर पर भी जाने जाते हैं।

इस उपन्यास को हम इसलिए रिकमेंड करते है क्योंकि एक सामान्य प्रतिभावान विद्यार्थी की जबरदस्त सफलता की कहानी है। जब मनोज एक बार 12 th फेल होने के बाद भी भारत के सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा ” यूपीएससी ” को उतीर्ण करके एक सफल अधिकारी बन सकते है तो हमारे सभी विद्यार्थियों को भी सफलता मिल सकती है।

डॉ विकास दिव्यकिर्ति आज भारत के सफलतम टीचर में से एक है। डा विकास ” दृष्टि ” नाम की संस्था चलाते है। इस संस्था द्वारा ” यूपीएससी परीक्षा ” की तैयारी करवाई जाती है। खैर, इस लेख में हम आपको मनोज शर्मा द्वारा बताई गई कुछ बातों को आपके लिए पेश करते है-

  • मनोज शर्मा ने अपना स्व-मूल्यांकन बहुत अच्छे से किया था। वे अपनी कमजोरी से पूर्णतया परिचित थे। इसलिए वे उनको दूर कर सके। आपको भी प्रयास करके खुद का मूल्यांकन अवश्य करना चाहिए।
  • मनोज ने सफलता पाने के लिए कठोर मेहनत की लेकिन लक्ष्य से डिगे नही। उन्होंने अपनीं पढ़ाई को जारी रखने के लिए अमीर लोगो के कुत्तों को घुमाने तक का भी कार्यं किया।
  • मनोज ने पढ़ाई का अपना तरीका भी शेयर किया है। वे विद्यार्थियों को लिखने के अभ्यास करने पर जोर दिया है। यह सही है, मेरा स्वयम का भी निजी विश्वास है कि जब आदमी लिखता है तो एक साथ बहुत सारी लर्निंग होती हैं।
  • जब आदमी लिखता है तो उसका दिमाग फोकस होता है अतः बेहतर रूप से सोचने का प्रयास करता है तथा लिखने से कोई भी बात याद भी रहती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top