Categories: Health

वजन बढ़ाने के उपाय (Weight Gain Tips in Hindi)

वजन बढ़ाने के उपाय : वजन बढ़ाने के उपाय सेहतमंद रहने के लिए वजन का संतुलित होना आवश्यक है। वजन आयु व कद के अनुसार संतुलित होता है। जितना जरूरी मोटापा कम करना होता है, उतना महत्व वजन बढ़ाने का भी होता है। कम वजन के लोग न सिर्फ कमजोर दिखते हैं, बल्कि उनका व्यक्तित्व भी आकर्षक नजर नहीं आता। कई लोग बेहद दुबले होते हैं। ऐसे लोग अक्सर अपने दुबले पतले शरीर के कारण शर्मिंदगी महसूस करते हैं। खान-पान पर ठीक से ध्यान न देने के कारण ऐसा होता है।

वजन बढ़ाने के उपाय वजन बढ़ाने के लिए यह आवश्यक नहीं कि पेट भरकर खाना खाया जाये, बल्कि वजन बढ़ाने के उपायों में कुछ किस्‍म के खाद्य पदार्थों का सेवन से वजन बढ़ा सकते हैं।

वजन बढ़ाने के उपाय
वजन बढ़ाने के उपाय

वजन कम होने के कारण (Due to Weight Loss in Hindi) :

वजन बढ़ाने के उपाय :

  • Hyperthyroidism (हाइपरथायरायडिज्म) : यह गले में तितली के आकार की ग्रंथि होती है, जिसे थायराइड कहते हैं। जिससे मेटाबॉलिज्म स्तर खराब होने लगता है। ह्रदय ठीक से काम नहीं कर पाता और वजन कम होने लगता है।
  • Cencer (कैंसर) : कैंसर होने पर वजन कम होने लगता है।
  • TB (टीबी) : इस बीमारी में आने पर वजन तेजी से कम होता है।
  • HIV / AIDS (एचआईवी एड्स) :
    जो एचआईवी एड्स से ग्रसित होते हैं, उनका वजन धीरे-धीरे कम होने लगता है।
  • kidney disease (किडनी की बीमारी) : किडनी में खराबी के संकेत से वजन कम होने लगता है।
  • Unnecessary Drugs (अनावश्यक दवाइयां) : दवाइयां ऐसी होती हैं, जो भूख को कम करने का काम करती हैं। भूख कम लगने पर शरीर को जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाते।
  • Food Imbalance (भोजन में असंतुलन) : जब व्यक्ति निश्चित समय पर और पौष्टिक तत्वों से भरपूर भोजन नहीं करता है तो उसका वजन कम होता है
  • Enzyme deficiency (एंजाइम में कमी) : पेट की आंतरिक दीवारें डाइजेस्टिव एंजाइम को ठीक से इस्तेमाल नहीं कर पाती हैं, तो उससे वजन कम होने की आशंका बढ़ती है।
  • Genetic (आनुवंशिक) : किसी परिवार में परिजनों का वजन कम होता है तो अनुमानित तौर पर बच्चों का भी वज़न कम रहता है।
  • Bad Liver (खराब लिवर) : लिवर खराब होने पर शरीर को जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाने की वजह से वजन कम होने लगता है।

वज़न बढ़ाने के लिए क्या खाएं? (What to Eat to Gain Weight In Hindi) :

वजन बढ़ाने के उपाय :

  • आलू : आलू को अपने नियमित आहार में शामिल करें। आलू में कार्बोहाइड्रेट्स और कॉम्प्लेक्स शुगर होता है जो वजन बढ़ाने में मदद करता है।
  • घी :
    घी खाने से वजन बढ़ता है, क्योंकि इसमें saturated fats और कैलारी की काफी अच्छी मात्रा होती है।
  • किशमिश : दिनभर में एक मुट्ठी किशमिश खाएं। ऐसा करने से वजन तेजी से बढ़ेगा।
  • अंजीर को रातभर भिगोने के बाद खाएं तो उससे वजन बढ़ेगा।
  • अंडा : अंडे में फैट और कैलोरी काफी अधिक होती हैं और इसका सेवन करने से वजन बढ़ेगा।
  • केला : केले में भरपूर मात्रा में कैलोरी होती हैं जो शरीर को ना सिर्फ ऊर्जा देती हैं बल्कि वजन बढ़ाने में भी मदद करती है।
  • बादाम : बादाम काफी हद तक वजन बढ़ाने में कारगर है। 3 से 4 बादाम रातभर पानी में भिगोकर अगले दिन पीसकर दूध में घोलकर पियें।
  • Peanut butter : मूंगफली के मक्खन से भी वजन बढ़ाया जा सकता है। Peanut butter में हाई कैलोरी होती है तथा इसमें कार्बोहाइड्रेट्स भी भरपूर मात्रा में होते हैं।
  • पर्याप्त नींद : पर्याप्त नींद लेने से वजन बढ़ता है।
  • दूध के साथ नट्स जैसे मूंगफली या ड्राय फ्रूट्स खाने से भी वजन बढता है।
  • बीन्स : बीन्स और फलियों के अलावा राजमा और दालें खाने से भी वजन बढ़ेगा। बीन्स यानि फलियों में कार्बोहाइड्रेट्स और कैलोरी के अलावा फाइबर की मात्रा काफी होती है और ये तत्व वजन बढ़ाने में मदद करते हैं।
  • अनार : अनार का जूस पीने से वजन तेजी से बढ़ता है।
  • चना और खजूर : चने के साथ खजूर खाने से वज़न में बढ़त मिलती है।
  • अखरोट और शहद : अखरोट में शहद मिलाकर इस्तेमाल करने से वज़न को बढ़ा सकते हैं।
  • साबुत अनाज।
  • गुड़।
  • दही।
  • सोयाबीन।

वजन बढ़ाने के लिए आहार सूची (Diet List For Weight Gain in Hindi) :

वजन बढ़ाने के उपाय :

Food (भोजन) Time (समय)What to Eat (Vegetarian / Non-Vegetarian) क्या खाएं (शाकाहारी/मांसाहारी)
Before Breakfast (नाश्ते से पहले)07am से 08amचीनी के साथ ज्यादा वसा वाले दूध की चाय। यदि कोई चाय नहीं पीता हैं, तो बादाम मिल्क का उपयोग कर सकते हैं।
Breakfast (नाश्ता)08am से 09amकम वसा वाले मक्खन के साथ मल्टीग्रेन ब्रेड के दो पीस और ऑम्लेट। इसकी जगह एक कटोरी ऑटमील, कॉर्न फ्लैक्स या सब्जियों के साथ दलिया खा सकते हैं। पोहा, उपमा व खिचड़ी खा सकते हैं। सब्जी के साथ दो रोटी या दो पराठे खाना सकते हैं।
After Breakfast (नाश्ते के बाद) 10am से 11amएक गिलास अधिक वसा वाले दूध का सेवन करें या प्रोटीन शेक ले सकते हैं।  अधिक वसा वाला दही खा सकते हैं।
Lunch (दोपहर का खाना)12:30pm से 01:30pmएक कटोरी सब्जी व दाल के साथ दो रोटी और एक कटोरी चावल। सब्जी व दाल में घी का उपयोग और चपाती पर घी लगा सकते हैं। मांस खाने वाले रोटी व चावल के साथ चिकन के दो पीस/मछली/अंडा/पनीर खा सकते हैं। दोपहर को खाने के साथ खीरा, गाजर व बंद गोभी की सलाद। एक कटोरी दही भी ले सकते हैं।
Evening Snack (शाम का नाश्ता)05:30pm से 06:30pmमक्खन के साथ Veg/Non Veg (वेज/नॉनवेज) सूप पनीर या म्योनीज Sandwich (सैंडविच) खा सकते हैं।
Dinner (रात का खाना)08:30pm से 09:30pmएक कटोरी सब्जी व दाल के साथ दो रोटी। सब्जी व दाल में घी का उपयोग और चपाती पर घी लगा सकते हैं। मांस खाने वाले रोटी के साथ चिकन के दो पीस/मछली/अंडा/पनीर खा सकते हैं। वजन बढ़ाने के उपाय दोपहर को खाने के साथ खीरा, गाजर व बंद गोभी की सलाद। एक कटोरी दही भी ले सकते हैं। रात को चावल का उपयोग नहीं करें
Before Bedtime (सोने से पहले)10:30pm से 11pmएक गिलास दूध पिएं।

वजन बढ़ाने के लिए आवश्यक बिंदु (Points Needed to Gain Weight in Hindi) :

वजन बढ़ाने के उपाय :

  • कैलोरी से युक्त आहार का सेवन करना चाहिए।
  • भोजन की मात्रा में वृद्धि करें।
  • अधिक प्रोटीन वाले पदार्थों का उपयोग करें।
  • स्वस्थ वसा वाली वस्तुओं का प्रयोग करें।
  • वजन बढ़ाने के उपाय वजन बढ़ाने वाले सप्लीमेंट्स का उपयोग करें।
  • वसा युक्त पदार्थ :
    • वसा युक्त दूध।
    • बीन्स, दाल व Protin (प्रोटीन) युक्त पदार्थ।
    • फल व सब्जियां।
    • स्वस्थ वसा व तेल।
    • अनाज।
    • मिठाई।
  • योग :
    • सर्वांगासन।
    • पवनमुक्तासन।
    • वज्रासन।
  • वजन बढ़ाने के लिए व्यायाम :
    • ट्विस्टेड क्रंच।
    • लेग प्रेस।
    • लेग एक्सटेंशन।
    • लेग कर्ल्स।
    • आर्म कर्ल्स।
    • शोल्डर श्रग।
    • सीटेड डंबल प्रेस।
    • ट्राइसेप्स पुश डाउन।
    • बारबेल स्क्वाट।
    • पुल अप।
    • एबी रोलर।
    • इनक्लाइन डंबल प्रेस।
    • साइड लेटरल रेस।
    • डंबल लंग्स।
    • वेट क्रंचेस।
  • खाने-पीने का ध्यान रखें।
  • तनाव से दूर रहें।
  • पर्याप्त नींद लें।

यह भी पढ़े :

वजन की कमी से समस्याएं (Problems With Weight Loss in Hindi) :

वजन बढ़ाने के उपाय :

  1. प्रतिरोधक क्षमता : वजन कम होने से रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो सकती है। ।
  2. एनीमिया रोग : आयरन की कमी से एनीमिया रोग हो सकता है।
  3. महिलाओं में प्रजनन संबंधी समस्या : महिलाओं में कम वजन का असर प्रजनन क्षमता पर पड़ सकता है।
  4. मासिक धर्म चक्र अनियमित हो जाता है।
  5. महिला के लिए गर्भधारण करना मुश्किल हो जाता है।
  6. कम वजन वाले पुरुषों को यौन समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
  7. शुक्राणुओं की गुणवत्ता कम हो सकती है।
  8. इरेक्टाइल डिसफंक्शन जैसी समस्या हो सकती है।
  9. कमजोर हड्डियां : ऑस्टियोपोरोसिस के कारण महिलाओं व पुरुषों दोनों को कम वजन से मुश्किलें हो सकती हैं।
वजन बढ़ाने के उपाय